AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Help, General Knowledge, Thoughts, Inpsire Thinking, Important Information & Motivational Ideas To Change Yourself

Technology Information

हॉटस्पॉट क्या है इसे कैसे कनेक्ट करें – How Does Hotspot Work in Hindi

Hotspot Kya Hai Hindi

हॉटस्पॉट क्या है

आज के समय मे हर कोई मोबाइल का उपयोग करता है, तो ऐसे मे कभी न कभी Hotspot का भी उपयोग जरूर किया होगा तो इस आर्टिकल मे हॉटस्पॉट क्या है इसके प्रकार और यह कैसे काम करता है, इसे कैसे कनेक्ट करते है की पूरी जानकारी के बारे मे जानेगे, तो चलिये सबसे पहले Hotspot Kya Hai पूरे विस्तार के साथ जानते है,

हॉटस्पॉट क्या होता है     

Hotspot Kya Hai in Hindi

Hotspot Kya Hai“हॉटस्पॉट” एक तकनीकी शब्द है जो आमतौर से इंटरनेट कनेक्टिविटी से संबंधित है। यानि हॉटस्पॉट एरिया एक ऐसा जगह होता है जहां पर वायरलेस इंटरनेट कनेक्टिविटी उपलब्ध होती है और यह हॉटस्पॉट उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट से जुड़ने की सुविधा प्रदान करता है।

यानि हॉटस्पॉट आमतौर से एक वायरलेस रूप से कनेक्ट किए गए डिवाइस, जैसे कि स्मार्टफोन, लैपटॉप या टैबलेट, के माध्यम से उपयोग होता है।

इसमें एक वायरलेस रूटर या मोबाइल हॉटस्पॉट डिवाइस का उपयोग किया जाता है जो इंटरनेट से संबंधित होता है और वायरलेस सिग्नल के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट तक पहुंचाता है।

हॉटस्पॉट्स विभिन्न स्थानों पर मिल सकते हैं, जिनमे कॉफी शॉप्स, रेस्तरां, होटल, एयरपोर्ट्स, लाइब्रेरीज, और अन्य सार्वजनिक स्थानें हो सकती है।

यानि हॉटस्पॉट यह एक ऐसी सुविधा है जो लोगों को बिना किसी फिजिकल केबल के इंटरनेट से कनैक्ट होकर का इस्तेमाल करने की अनुमति देती है।

हाट्स्पाट की परिभाषा

Definition of Hotspot in Hindi

हॉटस्पॉट एक तकनीकी शब्द है जो इंटरनेट नेटवर्किंग के क्षेत्र में किया जाता है। एक हॉटस्पॉट एरिया इंटरनेट उपयोग करने का एक्सेस पॉइंट होता है जो वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से डिवाइसों को इंटरनेट से कनेक्ट करने का सुविधा प्रदान करता है।

यानि आप किसी विशेष स्थान पर हैं जहां वायरलेस इंटरनेट सेवा उपलब्ध नहीं है, तो आप अपने मोबाइल डिवाइस को हॉटस्पॉट बना सकते हैं और इसका उपयोग अन्य उपकरणों को इंटरनेट से जोड़ने के लिए कर सकते हैं।

इससे अन्य डिवाइस वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से आपके मोबाइल डेटा का उपयोग करके इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं।

यानि मुख्यत: एक हॉटस्पॉट एक नेटवर्क या इंटरनेट एक्सेस पॉइंट होता है जो एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे कि स्मार्टफोन, लैपटॉप, या टैबलेट द्वारा अन्य डिवाइसों को वायरलेस तकनीक का उपयोग करके इंटरनेट से कनेक्ट होकर इंटरनेट उपयोग करने की सुविधा प्रदान करता है।

यह इंटरनेट सेवा को वायरलेस तकनीक (जैसे कि वाई-फाई) के माध्यम से डिवाइसों के बीच साझा करने का कारण है।

हॉटस्पॉट के प्रकार

Type of Hotspot in Hindi

हॉटस्पॉट कई प्रकार के हो सकते हैं, जो विभिन्न उद्देश्यों के साथ आधार पर जाने जाते हैं। तो चलिये अब कुछ प्रमुख हॉटस्पॉट के प्रकार को जानते हैं:-

हॉटस्पॉट के प्रकार
व्यक्तिगत हॉटस्पॉट (Personal Hotspot)
सार्वजनिक हॉटस्पॉट (Public Hotspot)
मोबाइल हॉटस्पॉट (Mobile Hotspot)
फ्री वायरलेस हॉटस्पॉट (Free Wireless Hotspot)
कॉर्पोरेट हॉटस्पॉट (Corporate Hotspot)

तो चलिये अब इन हॉटस्पॉट के प्रकार को विस्तार के साथ जानते है :-

व्यक्तिगत हॉटस्पॉट ((Personal Hotspot) :-

यह एक व्यक्तिगत उपयोगकर्ता द्वारा बनाए गए हॉटस्पॉट होता है जो उसके व्यक्तिगत डिवाइस से इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करता है।

सार्वजनिक हॉटस्पॉट (Public Hotspot):-

यह एक सार्वजनिक स्थान पर स्थापित किया गया हॉटस्पॉट होता है जो किसी भी उपयोगकर्ता को उसकी सीमित क्षेत्र में इंटरनेट सुविधा प्रदान करता है, अक्सर एक पैसेवाली सेवा के माध्यम से।

मोबाइल हॉटस्पॉट (Mobile Hotspot):-

यह एक स्मार्टफोन या टैबलेट द्वारा उत्पन्न किया जाने वाला हॉटस्पॉट है जो मोबाइल डेटा का उपयोग करके अन्य डिवाइसों को इंटरनेट से जोड़ता है।

फ्री वायरलेस हॉटस्पॉट (Free Wireless Hotspot):-

कुछ व्यवसायिक स्थानों और सार्वजनिक स्थानों पर फ्री वायरलेस हॉटस्पॉट्स हो सकते हैं जो उपयोगकर्ताओं को मुफ्त इंटरनेट सेवा प्रदान करते हैं, आमतौर से एक प्रचारप्रसार की उद्देश्य से।

कॉर्पोरेट हॉटस्पॉट (Corporate Hotspot):-

बड़ी कंपनियां और उद्योगों अपने कार्यालयों में कॉर्पोरेट हॉटस्पॉट प्रदान कर सकती हैं ताकि कर्मचारी विभिन्न डिवाइसों को वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से कनेक्ट कर सकें।

इन प्रकारों के हॉटस्पॉट का चयन उपयोगकर्ता की आवश्यकताओं और स्थिति के आधार पर किया जा सकता है।

हॉटस्पॉट में इस्तेमाल होने वाले टर्म

Use of Hotspot Terms in Hindi

हॉटस्पॉट्स में इस्तेमाल होने वाले कुछ मुख्य टर्म्स होते है, जिनका पालन करना होता होता है, तो चलिये इन हॉटस्पॉट में इस्तेमाल होने वाले टर्म को जानते हैं: –

हॉटस्पॉट में इस्तेमाल होने वाले टर्म
SSID (Service Set Identifier)
Encryption
Password (Passphrase)
MAC Address Filtering
Data Limit
Bandwidth Control
Captive Portal
Roaming

SSID (Service Set Identifier): हॉटस्पॉट का एक नाम जो उपयोगकर्ताओं को इसे पहचानने में मदद करता है।

Encryption: हॉटस्पॉट्स की सुरक्षा के लिए इस्तेमाल होने वाली तकनीक, जैसे कि WEP, WPA, और WPA2।

Password (Passphrase): हॉटस्पॉट की सुरक्षा के लिए एक पासवर्ड या पासफ्रेज़ जो उपयोगकर्ताओं को इसमें एक्सेस करने के लिए आवश्यक होता है।

MAC Address Filtering: हॉटस्पॉट को इस्तेमाल करने के लिए उपयोगकर्ताओं के डिवाइसों की मीडिया एक्सेस कंट्रोल (MAC) पते की स्वीकृति का प्रणाली।

Data Limit: यदि हॉटस्पॉट का उपयोग डेटा सीमा के तहत किया जा रहा है, तो इसमें डेटा सीमा निर्धारित करने वाला पैरामीटर।

Bandwidth Control: हॉटस्पॉट द्वारा प्रदान की गई इंटरनेट कनेक्शन की गति या बैंडविड्थ को नियंत्रित करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला पैरामीटर।

Captive Portal: एक विशेष पृष्ठ जो हॉटस्पॉट का उपयोगकर्ताओं से लॉगिन या पहले उन्हें निर्दिष्ट तथ्य प्रदान करने के लिए होता है।

Roaming: हॉटस्पॉट से दूसरे हॉटस्पॉट पर स्विच करने की क्षमता, जिससे उपयोगकर्ता एक स्थान से दूसरे स्थान में सहजता से जान सकता है।

ये सभी टर्म्स हॉटस्पॉट्स के विभिन्न पहलुओं को समझने में काफी मदद भी करते हैं।

हॉटस्पॉट कैसे काम करता है

How Does Hotspot Work in Hindi

हॉटस्पॉट एक इंटरनेट एक्सेस पॉइंट होता है जो वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से डिवाइसों को इंटरनेट से कनेक्ट करने की सुविधा प्रदान करता है। यह विभिन्न तरीकों से काम कर सकता है, तो चलिये हॉटस्पॉट कैसे काम करता है, इसके बारे मे जानते है:-

हार्डवेयर सेटअप:- हॉटस्पॉट को स्थापित करने के लिए एक वायरलेस राउटर या अन्य वायरलेस नेटवर्क डिवाइस की आवश्यकता होती है। यह डिवाइस इंटरनेट से कनेक्ट होता है और एक वायरलेस सिग्नल बनाता है जिसे उपयोगकर्ता उपयोग कर सकते हैं।

नेटवर्क कॉन्फ़िगरेशन:- वायरलेस राउटर या हॉटस्पॉट डिवाइस को इंटरनेट सेवा के साथ कनेक्ट किया जाता है और नेटवर्क सेटिंग्स कॉन्फ़िगर की जाती है, जैसे कि नेटवर्क का नाम (SSID), सुरक्षा कुंजी, और अन्य सेटिंग्स।

सिग्नल प्रसारण:- हॉटस्पॉट डिवाइस एक वायरलेस सिग्नल प्रस्तुत करता है जो आसपास के डिवाइसों द्वारा देखा जा सकता है। इस सिग्नल की दूरी डिवाइस की स्थिति और हॉटस्पॉट की क्षमता पर निर्भर करती है।

उपयोगकर्ता कनेक्शन:- उपयोगकर्ता अपने वायरलेस डिवाइस (स्मार्टफोन, लैपटॉप, टैबलेट, आदि) की वायरलेस सेटिंग्स में जाकर हॉटस्पॉट से कनेक्ट हो सकता है।

इंटरनेट एक्सेस:- जब उपयोगकर्ता हॉटस्पॉट से सफलतापूर्वक कनेक्ट हो जाता है, तो उन्हें इंटरनेट सेवा मिलती है जैसे कि वायरलेस राउटर इंटरनेट से कनेक्ट है।

सुरक्षा का समर्थन:-  अधिकांश हॉटस्पॉट्स सुरक्षित करने के लिए विभिन्न सुरक्षा सूचनाएं प्रदान करते हैं, जैसे कि एनक्रिप्शन, पासवर्ड प्रमाणीकरण, और अन्य सुरक्षा कार्रवाई।

सेशन का प्रबंधन:- हॉटस्पॉट डिवाइस या सर्वर सतत रूप से सत्र की प्रबंधन करता रहता है ताकि सही रूप से इंटरनेट एक्सेस और उपयोगकर्ता की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके।

यहीं एक सामान्य प्रक्रिया है, हालांकि विभिन्न हॉटस्पॉट्स अलग-अलग तकनीकी विवरण और सुरक्षा नीतियों के साथ काम करते हैं।

मोबाइल हॉटस्पॉट क्या है

Mobile Hotspot in Hindi

मोबाइल हॉटस्पॉट एक तकनीकी टर्म है जो एक मोबाइल डिवाइस को इंटरनेट से जोड़कर उसे एक वायरलेस नेटवर्क का स्रोत बनाने के लिए उपयोग होता है। इसका उपयोग किसी भी ऑथराइज़्ड डिवाइस को इंटरनेट से कनेक्ट करने के लिए किया जा सकता है, जैसे कि लैपटॉप, टैबलेट, अन्य मोबाइल फ़ोन, या दूसरे वायरलेस डिवाइस को इंटरनेट कनेक्ट करने के लिए किया जाता है ।

मोबाइल हॉटस्पॉट का उपयोग विभिन्न स्थानों में इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए किया जा सकता है, जहां तकनीकी या अन्य कारणों से फिक्सड इंटरनेट कनेक्शन नहीं होता है। यह एक मोबाइल डिवाइस को एक वायरलेस रूप से नेटवर्क से जोड़कर इसे इंटरनेट के लिए एक हॉटस्पॉट बना देता है।

एक प्रमुख उदाहरण एक स्मार्टफोन का है जो हॉटस्पॉट मोड में काम कर सकता है। जब एक स्मार्टफोन हॉटस्पॉट मोड में होता है, तो अन्य डिवाइस इसे एक वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से जोड़कर इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं।

वाई-फाई हॉटस्पॉट कैसे कनेक्ट करें

Connect WiFi Hotspot in Hindi

वाई-फाई हॉटस्पॉट से कनेक्ट करने के लिए निम्नलिखित प्रक्रियाओ से गुजरना पड़ता है, जो की इस प्रकार है:-

वाई-फाई हॉटस्पॉट कैसे कनेक्ट करें
वाई-फाई की स्थिति की जाँच करें: सुनिश्चित करें कि आपका डिवाइस वाई-फाई को सपोर्ट करता है और वाई-फाई फंक्शनालिटी सक्षम है।
वाई-फाई हॉटस्पॉट ढूंढें: आपके आस-पास के वाई-फाई हॉटस्पॉट को ढूंढें और उसको चुनें।
कनेक्ट करें: हॉटस्पॉट का चयन करने के बाद, आपको उससे कनेक्ट करने का विकल्प मिलेगा। कुछ डिवाइसेज आपसे एक पासवर्ड पूछ सकती हैं। इस पासवर्ड को दर्ज करें।
संबंध स्थापित करें: यदि सभी जानकारी सही है, तो आपका डिवाइस हॉटस्पॉट से संबंधित हो जाएगा और इंटरनेट का उपयोग कर सकेगा।

आपका डिवाइस ऑटोमेटिक रूप से वाई-फाई हॉटस्पॉट से कनेक्ट हो सकता है, इसके लिए आपको किसी भी कदम की आवश्यकता नहीं होती है। अन्यत्र, आपको वाई-फाई सेटिंग्स में जाकर हॉटस्पॉट का चयन करना और संबंध स्थापित करना पड़ सकता है।

वाई-फाई हॉटस्पॉट के फायदे

Advantage of WiFi Hotspot in Hindi

वाई-फाई हॉटस्पॉट के कई फायदे भी होते हैं, जो निम्नलिखित इस प्रकार हैं:-

वाई-फाई हॉटस्पॉट के फायदे
मोबाइलिटी
इंटरनेट एक्सेस
साझा करना
व्यापार उपयोग
स्वतंत्रता
कम लागत
अधिक संबंधित उपयोग

मोबाइलिटी: वाई-फाई हॉटस्पॉट उपयोगकर्ता को अपने डिवाइस को कहीं भी ले जाने और उसे इंटरनेट से कनेक्ट करने की स्वतंत्रता प्रदान करता है, जब भी वाई-फाई हॉटस्पॉट उपलब्ध होता है।

इंटरनेट एक्सेस: वाई-फाई हॉटस्पॉट का उपयोग इंटरनेट एक्सेस प्रदान करने के लिए किया जा सकता है, जो उपयोगकर्ताओं को अपने डिवाइस पर इंटरनेट ब्राउज़ करने में सक्षम करता है।

साझा करना: वाई-फाई हॉटस्पॉट का उपयोग फाइलें, डॉक्यूमेंट्स, और मीडिया आदि को अन्य उपयोगकर्ताओं के साथ साझा करने के लिए किया जा सकता है।

व्यापार उपयोग: व्यापार स्थानों में, कॉफ़ी शॉप्स, होटेल्स, और अन्य स्थानों पर वाई-फाई हॉटस्पॉट्स का स्थापना करके व्यापारिक उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट सुविधाएं प्रदान करने में मदद कर सकता है।

स्वतंत्रता: वाई-फाई हॉटस्पॉट उपयोगकर्ता को अपने मोबाइल डिवाइस को इंटरनेट से जोड़कर किसी भी स्थान में गतिशील रूप से काम करने की स्वतंत्रता प्रदान करता है।

कम लागत: वाई-फाई हॉटस्पॉट्स का उपयोग इंटरनेट सुविधाएं प्रदान करने के लिए एक लोकल नेटवर्क का उपयोग करता है, जिससे इंटरनेट सुविधाएं उपयोगकर्ताओं के लिए कम लागत में प्रदान की जा सकती हैं।

अधिक संबंधित उपयोग: वाई-फाई हॉटस्पॉट को सुरक्षित तरीके से सेटअप करके, लोग अपने डिवाइसों को सुरक्षित तरीके से इंटरनेट से जोड़कर अधिक संबंधित उपयोग कर सकते हैं।

ये फायदे विभिन्न समारोहों में वाई-फाई हॉटस्पॉट का उपयोग करने के लिए हैं, और इसका लाभ उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट सुविधाओं का बेहतर रूप से उपयोग करने में मदद करता है।

वाई-फाई हॉटस्पॉट के नुकसान

Disadvantage of WiFi Hotspot in Hindi

एक तरफ जहा हॉटस्पॉट के कई फायदे देखने को मिलते है, तो दूसरी तरफ इसके कई नुकसान भी होते है। तो चलिये इन वाई-फाई हॉटस्पॉट के नुकसान को जानते है:-

सुरक्षा की समस्याएँ: अगर वाई-फाई हॉटस्पॉट सुरक्षित नहीं है और अनाधिकृत लोग इसका दुरुपयोग करते हैं, तो यह सुरक्षा संबंधित समस्याएँ उत्पन्न कर सकता है। इससे डेटा चोरी, गोपनीयता की चुनौतियाँ और ऑनलाइन हमले हो सकते हैं।

बैटरी ड्रेन: जब आप अपने मोबाइल डिवाइस को हॉटस्पॉट के रूप में उपयोग करते हैं, तो इससे बैटरी ड्रेन हो सकता है क्योंकि डिवाइस को इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है।

स्थान की सीमा: हॉटस्पॉट्स की क्षमता सीमित हो सकती है, विशेषकर जब बहुत से उपयोगकर्ता एक समय में इसका उपयोग करते हैं। यह गतिशील और अधिक भीड़ वाले क्षेत्रों में समस्याएँ उत्पन्न कर सकता है।

स्थिति की निगरानी: हॉटस्पॉट्स की स्थिति को निगरानी में रखना और उन्हें अनुरूप स्थितियों में एक्टिव करना व्यवस्था को प्रबंधन की चुनौती प्रदान कर सकता है।

अधिक उपयोग से गति की गुणवत्ता में कमी: अगर एक हॉटस्पॉट पर बहुत से उपयोगकर्ता हैं तो इंटरनेट की गति कम हो सकती है जिससे सभी उपयोगकर्ताओं को सुविधा नहीं मिल सकती।

आपात स्थितियों में स्थिति की कमी: हॉटस्पॉट्स इंफ्रास्ट्रक्चर के कमी के कारण, किसी क्षेत्र में आपात स्थितियों में इंटरनेट सेवा में ब्रेकडाउन हो सकता है और उपयोगकर्ताओं को स्थिति से बाहर छोड़ सकता है।

विकास लागत: हॉटस्पॉट्स सेट करने और इसकी सुरक्षा के लिए उच्च लागतों की आवश्यकता हो सकती है, जो किसी व्यक्ति या संगठन के लिए एक विकासीत स्थिति बना सकती है।

वाई-फाई हॉटस्पॉट के इन नुकसान से बचने के लिए सही सुरक्षित हॉटस्पॉट से कनेक्ट करना चाहिए।

Wi-Fi Hotspot कैसे Connect करे

How to Connect Wi-Fi Hotspot in Hindi

Wi-Fi Hotspot से कनेक्ट करने के लिए निम्न प्रक्रियाओ का पालन करना होता है, तो चलिये Wi-Fi Hotspot कैसे Connect करे इसके बारे मे जानते है:-

Wi-Fi Hotspot कैसे Connect करे
Wi-Fi को चालू करें: सुनिश्चित करें कि आपके डिवाइस में Wi-Fi चालू है। इसके लिए आप डिवाइस की सेटिंग्स में जाकर Wi-Fi को ऑन कर सकते हैं।
Wi-Fi स्कैन करें: अपने डिवाइस को वाई-फाई हॉटस्पॉट के आस-पास लेकर Wi-Fi स्कैन करें। आपके डिवाइस वाई-फाई नेटवर्क की सूची प्रदर्शित करेगा।
हॉटस्पॉट चुनें: जिस हॉटस्पॉट से आप कनेक्ट करना चाहते हैं, उसे चुनें। इसके बाद, आपको उस हॉटस्पॉट से जुड़ने का विकल्प मिलेगा।
कनेक्ट करें: हॉटस्पॉट को चुनने के बाद, आपसे यदि एक पासवर्ड की आवश्यकता है तो आपको उसे दर्ज करना हो सकता है। इसके बाद, आपका डिवाइस हॉटस्पॉट से कनेक्ट हो जाएगा।

अगर आप किसी खास हॉटस्पॉट से कनेक्ट करना चाहते हैं, तो हॉटस्पॉट के मालिक से पूछें कि वह आपको किसी पासवर्ड की आवश्यकता है या नहीं। तभी आप उस हॉटस्पॉट का उपयोग कर सकते है।

इसके अलावा, कुछ डिवाइसेस ऑटोमेटिक रूप से उन वाई-फाई हॉटस्पॉट्स से कनेक्ट हो सकती हैं जिन्हें आप पहले से नंबर या अन्य चुनौतीपूर्णी जानकारी के बिना स्वीकृत किया हैं।

Android Phone में Wi-Fi Hotspot Feature को Turn on कैसे करे

How to Turn on Wi-Fi Hotspot Feature in Android Phone in Hindi

Android फोन में Wi-Fi Hotspot को चालू करने के लिए निम्न क्रियाओ को करना होता है, ताबी आप Android Phone में Wi-Fi Hotspot Feature को Turn on कर सकते है:-

सेटिंग्स खोलें: आपके Android फोन के मेनू से “सेटिंग्स” खोलें। आप इसे अपने होम स्क्रीन पर उपस्थित गियर (Settings) आइकन से भी खोल सकते हैं।

Wireless & Networks या Connections सेक्शन चुनें: सेटिंग्स में जाने के बाद, “Wireless & Networks” या “Connections” सेक्शन को चुनें।

Tethering & Portable Hotspot चुनें: इसके बाद, “Tethering & Portable Hotspot” या कुछ ऐसा हो सकता है, इसे चुनें।

Portable Wi-Fi Hotspot चुनें: “Tethering & Portable Hotspot” में, “Portable Wi-Fi Hotspot” या इसके समकक्ष विकल्प को चुनें।

Wi-Fi Hotspot चालू करें: “Portable Wi-Fi Hotspot” का विकल्प चुनने के बाद, आपको एक “चालू” बटन दिखेगा। इसे टैप करके वाई-फाई हॉटस्पॉट चालू करें।

सुरक्षा सेट करें (ऐची तकनीकी सुरक्षा के लिए): कुछ फ़ोन मॉडल्स को यह सुरक्षा दरेज करने के लिए कह सकते हैं। इसमें एक पासवर्ड चुनने और डेटा सुरक्षित रखने का विकल्प शामिल हो सकता है।

इसके बाद, आपका Android फोन Wi-Fi Hotspot के रूप में कार्य करेगा और अन्य डिवाइसेस इससे जुड़ सकेंगे। तो इस प्रकार जब आप यात्रा पर हैं या जब आपके पास फिक्स्ड इंटरनेट कनेक्शन नहीं है। तो इस तरीके से इंटरनेट से जुड़ सकते है।

iPhone में Personal Hotspot Feature को turn on कैसे करें

How to turn on Personal Hotspot Feature in iPhone in Hindi

iPhone में Personal Hotspot (व्यक्तिगत हॉटस्पॉट) को चालू करने के लिए निम्न क्रियाओ को करना होता है, तो चलिये iPhone में Personal Hotspot Feature को turn on कैसे करे जानते है:

iOS 14 और बाद के संस्करण के लिए Personal Hotspot Feature को turn on कैसे करें

सेटिंग्स खोलें: अपने iPhone में “सेटिंग्स” ऐप खोलें।

व्यक्तिगत हॉटस्पॉट मेनू तक पहुँचें: सेटिंग्स में जाने के बाद, “सेल्यूलर” या “सेलुलर डेटा” और फिर “व्यक्तिगत हॉटस्पॉट” को चुनें।

Personal Hotspot को चालू करें: “व्यक्तिगत हॉटस्पॉट” सेटिंग्स में, “व्यक्तिगत हॉटस्पॉट” को चालू करने के लिए स्विच को ऑन करें।

सुरक्षा विन्यास करें (ऐची तकनीकी सुरक्षा के लिए): आपको व्यक्तिगत हॉटस्पॉट को सुरक्षित रखने के लिए एक पासवर्ड भी सेट करना पड़ सकता है। “व्यक्तिगत हॉटस्पॉट” सेटिंग्स में जाएं और “पासवर्ड” विकल्प का चयन करें, और फिर एक पासवर्ड दर्ज करें।

व्यक्तिगत हॉटस्पॉट कनेक्टिविटी चेक करें: व्यक्तिगत हॉटस्पॉट को चालू करने के बाद, आप अन्य वायरलेस डिवाइस से इसे ढूंढ़ सकते हैं और उससे कनेक्ट कर सकते हैं।

इसके बाद, आपका iPhone एक वायरलेस नेटवर्क की तरह कार्य करेगा और आप इसे अन्य डिवाइसेस के साथ इंटरनेट के लिए जोड़ सकते है।

Windows Phone में Internet Sharing को चालू (Turn On) कैसे करे

How to Turn On Internet Sharing in Windows Phone in Hindi

Windows Phone में Internet Sharing (इंटरनेट शेयरिंग) को चालू करने के लिए निम्न क्रियाओ को करना होता है:-

फ़ोन की सेटिंग्स खोलें: आपके Windows Phone की सेटिंग्स मेनू को खोलें। आप इसे अपने होम स्क्रीन पर उपस्थित सेटिंग्स आइकन से भी खोल सकते हैं।

संबंधित सेक्शन चुनें: सेटिंग्स में जाने के बाद, “आईनेट्यूशन एंड वायरलेस” या समर्पित सेक्शन को चुनें।

इंटरनेट शेयरिंग (Internet Sharing) खोजें: अब, “इंटरनेट शेयरिंग” या “Mobile Hotspot” विकल्प को खोजें। यह स्थिति के तहत हो सकता है।

इंटरनेट शेयरिंग को चालू करें: इंटरनेट शेयरिंग विकल्प को चुनने के बाद, आपको “चालू” या “Turn On” बटन दिख सकता है। इसे टैप करके इंटरनेट शेयरिंग को चालू करें।

सुरक्षा सेट करें (ऐची तकनीकी सुरक्षा के लिए): कुछ फ़ोन मॉडल्स को यह सुरक्षा दरेज करने के लिए कह सकते हैं। इसमें एक पासवर्ड चुनने और डेटा सुरक्षित रखने का विकल्प शामिल होता है।

इसके बाद, आपका Windows Phone इंटरनेट शेयरिंग के मोड में हो जाएगा और आप इसे अन्य वायरलेस डिवाइसेस के साथ कनेक्ट कर सकते हैं। इसका उपयोग यात्रा पर या जब आपके पास फिक्स्ड इंटरनेट कनेक्शन नहीं है, के लिए बहुत से उपयोगी हो सकता है।

Password लगा हो तो Internet और Hotspot Unlock कैसे करे

इंटरनेट कनेक्शन को अनलॉक करने के लिए चलिये इन तरीको को जानते है:-

WiFi कनेक्शन:

अपने कंप्यूटर या डिवाइस के WiFi सेटिंग्स में जाएं.

वहाँ आपका WiFi नेटवर्क दिखाई देगा, उसे चुनें.

फिर पासवर्ड पूछा जाएगा, वहाँ आपका पासवर्ड दर्ज करें।

मोबाइल इंटरनेट:

अगर आप मोबाइल इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं, तो मोबाइल नेटवर्क का चयन करें और अपना मोबाइल डेटा कनेक्शन चालू करें.

हॉटस्पॉट को अनलॉक करने के लिए:

मोबाइल डेटा शेयरिंग:

अगर आप एक स्मार्टफोन का उपयोग हॉटस्पॉट के लिए कर रहे हैं, तो स्मार्टफोन की सेटिंग्स में जाएं।

“Hotspot” या “Tethering” ऑप्शन को खोजें और उसे चालू करें।

वहाँ, आपको एक पासवर्ड सेट करने का विकल्प होगा जिसे आपके डिवाइस को इस्तेमाल करने के लिए दर्ज करना होगा।

Portable WiFi Router:

यदि आप एक पोर्टेबल WiFi राउटर का उपयोग कर रहे हैं, तो उसकी वेब इंटरफेस में जाएं।

वहाँ, WiFi सेटिंग्स में जाएं और अपने नेटवर्क को अनलॉक करने के लिए पासवर्ड दर्ज करें।

ध्यान दें कि इन कदमों का तरीका डिवाइस के प्रकार और मॉडल के आधार पर अलग हो सकता है, इसलिए आपके डिवाइस की विशेष निर्देशों का पालन करें।

हॉटस्पॉट से सम्बंधित कुछ सामान्य प्रश्न उत्तर

FAQs For Hotspot in Hindi

हॉटस्पॉट्स से जुड़े कुछ सामान्य प्रश्न और उत्तर निम्नलिखित हैं:-

हॉटस्पॉट क्या होता है?
उत्तर:- हॉटस्पॉट एक वायरलेस नेटवर्क है जो इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करता है, जिससे उपयोगकर्ता अपने डिवाइस से इंटरनेट तक पहुंच सकते हैं।
मोबाइल हॉटस्पॉट क्या है?
उत्तर:- मोबाइल हॉटस्पॉट एक सुविधा है जिससे स्मार्टफोन या टैबलेट को इंटरनेट से जोड़कर इंटरनेट कनेक्टिविटी को अन्य डिवाइसेस के साथ साझा किया जा सकता है।
कैसे मैं अपने डिवाइस को हॉटस्पॉट से कनेक्ट कर सकता हूँ?
उत्तर:- अपने डिवाइस की सेटिंग्स में जाकर Wi-Fi सेक्शन में जाएं और वहां उपलब्ध हॉटस्पॉट को चुनें। फिर आपको उसे चुनकर पासवर्ड दर्ज करना हो सकता है।
हॉटस्पॉट का पासवर्ड क्यों जरुरी है?
उत्तर:- हॉटस्पॉट पर पासवर्ड सेट करना सुरक्षित रहता है ताकि केवल उन्हीं लोगों को इससे जोड़ने का अधिकार हो जो आपका पासवर्ड जानते हैं।
हॉटस्पॉट का उपयोग कब और क्यों करना चाहिए?
उत्तर:- हॉटस्पॉट का उपयोग जब आप यात्रा पर होते हैं, घर में इंटरनेट नहीं हो, या जब अन्य उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट सेवा की आवश्यकता होती है।
हॉटस्पॉट से जुड़े डिवाइस को डेटा की लिमिटेशन होती है क्या?
उत्तर:- हाँ, कुछ मोबाइल सेवा प्रदाताएं हॉटस्पॉट्स के उपयोग के लिए डेटा लिमिटेशन या फ़ेयर उपयोग प्रदान कर सकती हैं, जिससे आपका इंटरनेट डेटा खपत हो सकता है।
हॉटस्पॉट का बैटरी प्रभाव क्या है?
उत्तर:- हॉटस्पॉट को चालू करने से बैटरी की उपयोगिता कम हो सकती है, क्योंकि इससे डिवाइस का वायरलेस रेडियो और इंटरनेट कनेक्टिविटी की तुलना में ज्यादा बैटरी उपयोग होता है।

निष्कर्ष :-

तो आप सभी को यह आर्टिकल हॉटस्पॉट क्या है इसे कैसे कनेक्ट करते है की पूरी जानकारी कैसा लगा, कमेंट बॉक्स मे जरूर बताए और इस आर्टिकल की जानकारी को लोगो के साथ शेयर भी जरूर करे, और आपको इस आर्टिकल से संबन्धित कोई प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स मे पूछ सकते है।

इन आर्टिकल को भी पढे :-

शेयर करे

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *