HomeCareerBank Manager Kaise Bane Bank Jobs Ki Taiyari Kaise Kare

Bank Manager Kaise Bane Bank Jobs Ki Taiyari Kaise Kare

अगर आप Banking Sector के क्षेत्र से जुड़कर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो Banking विभाग के क्षेत्र मे अनेक पद है, जिनमे Bank Manager जैसे पद पर नौकरी करना एक सुनहारा अवसर और सम्मान की बात है, ऐसे यदि आप बैंक मैनेजर के पद पर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो Bank Manager एक बढ़िया कैरियर ऑप्शन है, तो ऐसे मे यह प्रश्न उठता है की Bank Manager क्या है? Bank Manager Kaise Bane? (How To Become Bank Manager in Hindi?), Bank Manager Government Jobs Ki Taiyari Kaise Kare, बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या करे? (What To Do to Become a Bank Manager in Hindi),

इस पोस्ट के मुख्य टॉपिक छिपाए

तो इस पोस्ट मे जानेगे की बैंक मैनेजर कैसे बने? और साथ मे यह भी जानेगे की बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या करना पड़ेगा? बैंक मैनेजर बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit For Bank Manager in Hindi) कितनी होती है? बैंक मैनेजर की तैयारी के लिए सेलेबस (Bank Manager Exam Syllabus in Hindi) क्या है? बैंक मैनेजर की सैलरी (Bank Manager Salary) कितनी होती है? बैंक मैनेजर के तैयारी के लिए सेलेबस क्या है? बैंक मैनेजर बनने की योग्यता (Bank Manager Eligibility) क्या है? इसकी बैंक मैनेजर की चयन प्रक्रिया (Bank Manager Selection Process in Hindi) क्या है?, बैंक मैनेजर के आवेदन के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply Jobs for Bank Manager in Hindi), बैंक मैनेजर का काम क्या होता है? भारत में सरकारी बैंकों की सूची (List of Government Banks in India), भारत में निजी बैंकों की सूची (List of Private Banks in India) कौन कौन से है, तो चलिये अब अब जानते है की Bank Manager Kaise Bane और Bank Manager Job Ki Taiyari Kaise Kare.

बैंक मैनेजर क्‍या है (What is Bank Manager in Hindi)

Bank Manager Kaise Bane Bank Jobs Ki Taiyari Kaise Kareअगर आप बैंकिंग के क्षेत्र मे अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो सबसे पहले बैंक क्या होता है, जान लेना जरूरी होता है, तो सबसे पहले हम बात करेंगे कि Bank Manager Kya Hota Hai? बैंक मैनेजर जो की किसी भी बैंक शाखा का प्रमुख होता है, बैंक मेनेजर को शाखा प्रबंधक के नाम से भी जाना जाता है, जो की बैंक में कार्यरत सभी कर्मचारियों के कार्यों की निगरानी करता है और साथ ही सभी कार्य ठीक से हो रहे है या नहीं, इस पर नजर रखता है और साथ ही बैंक के सभी कर्मचारी बैंक मेनेजर के अधीनस्थ होते हैं.

बैंक मेनेजर का काम दिन-प्रतिदिन संचालन, प्रबंधन, समन्वय और कर्मचरियों के कार्यों की जाँच करना होता है. बैंक का कार्य सुचारू ढंग से चलाना होता है. बैंक के सभी कर्मचारी शाखा प्रबंधक के निर्देशों का पालन करते हैं.

जिस प्रकार किसी भी विभाग के अंदर हर कर्मचारी के ऊपर कोई ना कोई कर्मचारी होता है उसी प्रकार बैंक में भी जितने कर्मचारी होते हैं उनका सुपीरियर कोई ना कोई होता है, परंतु बैंक में जितने भी कर्मचारी काम करते हैं, उन सब का सुपीरियर यानी कि मालिक बैंक मैनेजर ही होता है। किसी भी बैंक की ब्रांच में Bank Manager की पोस्ट सबसे ऊंची पोस्ट मानी जाती है जो काफी मेहनत करने के बाद ही प्राप्त होती है। अक्सर हाईली एजुकेटेड लोगों को ही बैंक मैनेजर बनने का मौका मिलता है।

हमारे देश मे में बहुत सारी Private Bank है और बहुत सारी गवर्नमेंट बैंक (Government Bank) है। सभी बैंकों में बैंक मैनेजर की पोस्ट पाने की प्रक्रिया अलग-अलग होती है। हालांकि सभी बैंकों में जब Bank Manager की पोस्ट की नोटिफिकेशन जारी की जाती है तो उसमें यह अवश्य कहा जाता है कि जो लोग हाईली एजुकेटेड होते है, उन्हे ही इस पोस्ट के लिए अप्लाई करें, क्योंकि Bank Manager की पोस्ट बहुत ही जिम्मेदारी वाली पोस्ट मानी जाती है।

बैंक मैनेजर की सिग्नेचर होने के बाद ही बैंक में कोई भी फाइल पास होती है। खासतौर पर लोन फाइल (Loan File) को पास करने की जिम्मेदारी Bank Manager और फील्ड ऑफिसर (Bank Field Officer) की ही होती है। बैंक मैनेजर का बैंक में एक अलग केबिन होता है, जहां पर कोई भी अपनी समस्या को लेकर के जा सकता है। इनके पास एक एक्सेस आईडी होती है जिसके जरिए वह कोई भी बैंक से संबंधित काम 2 मिनट में ही कर सकते हैं।

बैंक मैनेजर कैसे बने (Bank Manager Kaise Bane)

जैसा की आप सभी जानते है की बैंक सरकारी और प्राइवेट दोनों होते है, ऐसे मे सबसे पहले तो आपको तय करना होगा कि आपको सरकारी (Government Bank Jobs) या Private Bank में नौकरी चाहिए। क्योंकि दोनों में बैंक मैनेजर (Bank Manager) बनने की प्रक्रिया थोड़ी अलग अलग होती है। अगर आप बैंक की सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको ज्यादा मेहनत करनी होगी। और फिर अगर आप सफल हो जाते हैं तो आपको प्राइवेट बैंक की तुलना में कही ज्यादा सैलरी मिलती है।

सरकारी बैंक मे बैंक मैनेजर कैसे बने (Government Bank Manager Kaise Bane) 

अगर आप देश की 20 से भी अधिक सरकारी बैंकों में मे से किसी भी इन सरकारी बैंको मे Bank Jobs पाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए IBPS परीक्षा की परीक्षा देना होता है, जिसे पास करने के बाद ही बैंक जॉब्स के लिए Apply कर सकते है, IBPS PO की फुल फॉर्म Institute of Banking Personal Selection होता है। जिसे हिंदी में बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान कहते हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद आप देश की लगभग सभी सरकारी बैंक में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं। हालाकि SBI Bank और IDBI BANK अपने कर्मचारी के चयन के लिए अपनी अलग प्रक्रिया अपनाता है।

प्राइवेट बैंक मे बैंक मैनेजर कैसे बने (Private Bank Manager Kaise Bane)

प्राइवेट बैंकों में नौकरी पाने के लिए आपको PO की परीक्षा पास करनी होगी। PO की फुल फॉर्म Probationary Officer होती है जो मुख्य तौर पर बैंक कर्मचारी के तौर पर कार्य करते हैं। जब भी किसी प्राइवेट Bank को कर्मचारीगण की आवश्यकता होती है तो वह PO परीक्षा की सहायता लेती हैं। इसमें पास होने वाले अभ्यर्थीयों को चयन की अगली प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है फिर कही जाकर प्रमोसन होने के बाद ही बैंक मैनेजर के पद पर नियुक्ति की जाती है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता (Bank Manager Qualification In Hindi)

यदि आप बैंक मैनेजर बनने के लिए अप्लाई करना चाहते है, तो इस पद के अप्लाई करने से पहले किन किन योग्यताओ का होना जरूरी होता है, जान लेना चाहिए, तो चलिये बैंक मैनेजर बनने के लिए Bank Manager Qualification को अब जानते है –

  1. बैंक मैनेजर बनने के लिए आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए.
  2. अभ्यर्थी की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 30 वर्ष होनी चाहिए।
  3. कैंडिडेट के ऊपर कोई भी क्रिमिनल केस नहीं होना चाहिए, ना ही उसके ऊपर कोई पुलिस केस होना चाहिए।
  4. अभ्यर्थी का चरित्र साफ होना चाहिए।
  5. अभ्यर्थी को इंग्लिश भाषा लिखने, पढ़ने और बोलना आना चाहिए।
  6. कंप्यूटर का ज्ञान होना चाहिए.

बैंक मैनेजर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (Bank Manager Educational Qualification in Hindi)

यदि आप Bank Manager के लिए अप्लाई करना चाहते है, तो इस पद के अप्लाई करने से पहले किन किन शैक्षणिक योग्यताओ का होना जरूरी होता है, जान लेना चाहिए, तो चलिये बैंक मैनेजर बनने के लिए Bank Manager Educational Qualification को जानते है –

  • अभ्यर्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (Graduation) उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • अभ्यर्थी को स्नातक (Graduate) में कम से कम 60% अंक तो होना ही चाहिए.
  • शाखा प्रबंधक बनने के लिए मैनेजमेंट (Management) ज्ञान होना चाहिए.
  • Bank Manager बनने के लिए अभ्यर्थी को एमबीए (MBA) या पीजीडीएम (PGDM) कोर्स किया होना चाहिए.
  • किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से Account से सम्बंधित कंप्यूटर कोर्स में डिग्री होना चाहिए.
  • अभ्यर्थी को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए, क्योंकि Banking Sector में English भाषा का प्रयोग अधिक होता है.
  • सरकारी बैंक में नौकरी के लिए IBPS exams देना जरुरी है, इसके लिए उमीदवार 60% से ग्रेजुएट पास होना जरुरी है,
  • प्राइवेट बैंक में नौकरी के लिए PO program (Probationary Officer) ज्वाइन करना अनिवार्य है, जिसके लिए उम्मीदवार को 55% से ग्रेजुएट होना अनिवार्य है।

यदि आप बताए गए इन सभी योग्यताओ को पूरा करते है, तो बैंक मैनेजर के पद के लिए अप्लाई कर सकते है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit For Bank Manager in Hindi)

Bank Manager Post के लिए अप्लाई के लिए आयु सीमा (Age Limit) क्या होनी चाहिए, इसका जानना बहुत जरूरी होती है, तभी आप इस आयु सीमा के अंदर ही बैंक मैनेजर के पद के लिए अप्लाई कर सकते है, तो चलिये बैंक मैनेजर बनने के लिए Bank Manager Age Limit को जानते है –

  1. अगर आप प्राइवेट बैंक में मैनेजर बनना चाहते हैं तो आप की उम्र Minimum 21 साल और Maximum 30 वर्ष होना चाहिए ।
  2. और यदि आप सरकारी बैंक में मैनेजर बनना चाहते हैं तो आप की उम्र Minimum 20 वर्ष और Maximum 30 वर्ष होना चाहिए।
  3. इसके अतिरिक्त एसटी/एससी वर्ग (ST/SC) के उम्मीदवारों के लिए 5 साल और ओबीसी श्रेणी (OBC) के उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छूट है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या करे (Bank Manager Banne Ke liye Kya Kare)

प्राइवेट सैक्टर हो या सरकारी क्षेत्र, किसी भी बैंक में आपको सीधे Bank Manager के पद पर नियुक्त नही किया जाता है। इसके लिए आपको पहले बैंक में प्रोबेशनरी अधिकारी (PO) के तौर पर काम करना होता है। इसके बाद अगर आपको प्रोमोट किया जाता है तो असिस्टेंट मैनेजर के पद पर नियुक्त किया जायेगा इसके बाद ही आप बैंक मैनेजर के पद के काबिल होते हैं। हालाकि इससे पहले कौन सी प्रक्रिया होती है चलिए जानते हैं।

1. 12वीं पास करें (12th Exam)

सबसे पहला स्टेप अपने राज्य के सरकारी बोर्ड से 12वीं परीक्षा पास करें। कुछ अभ्यर्थी यह सोचते हैं कि बैंकिंग सेक्टर में नौकरी पाने के लिए कॉमर्स विषय को ही चुनना होता है। लेकिन ऐसा नहीं है आप साइंस, कॉमर्स या फिर आर्ट्स विषय भी ले सकते हैं। और साथ ही यह ध्यान रखना होता है की 12वी मे कम से कम 60% मार्क्स तो होने ही चाहिए।

2. ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करे (Graduation)

Bank Manager बनने के लिए 12वीं पास करने के बाद साइंस, कॉमर्स या फिर आर्ट्स विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करिए। इसके साथ कंप्यूटर का कोर्स अवश्य करें। क्योंकि आज के समय सभी नौकरियों पर कंप्यूटर की पढ़ाई को अनिवार्य कर दिया गया है।

3. बैंक का PO एग्जाम पास करे (Bank PO Exam)

Bank Manager के लिए इसमें मुख्य तौर पर दो चरण में एग्जाम होते हैं पहले चरण में अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा देनी होती है। जिसमें सामान्य ज्ञान और करंट अफेयर्स, जनरल इंग्लिश, मैथ, तार्किक प्रश्न पूछे जाते हैं इन सभी विषयों पर 100 प्रश्न पूछे जाते हैं इसके लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है।

और फिर दूसरे चरण में मुख्य परीक्षा होती है जिसमें प्रथम चरण में पास हुए अभ्यर्थियों को शामिल किया जाता है इसमें माइनस मार्किंग भी होती है। इसमें भी आपको सामान्य ज्ञान और करंट अफेयर्स, जनरल इंग्लिश, मैथ, तार्किक प्रश्न पूछे जाते हैं लेकिन इसमें थोड़े कठिन प्रश्न होते हैं।

4. इंटरव्यू और बैंक PO ट्रेनिंग (Interview and PO Training)

अगर आप PO परीक्षा पास कर लेते हैं तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। हालाकि अब कई राज्यों में इंटरव्यू का सिस्टम बंद कर दिया गया है ऐसे में परीक्षा के बाद 1 से 2 साल के लिए PO की ट्रेनिंग दी जाती है। जिसमें आपको बैंकिंग से जुड़ी सभी चीजों का प्रशिक्षण दिया जाता है। और जब प्रशिक्षण पूरा हो जाता है तो आपको Bank में PO की नौकरी प्राप्त हो जाती है।

5. असिस्टेंट मैनेजर और बैंक मैनेजर (Assistant Manager And Bank Manager)

अगर आप बैंक में PO के पद पर रहकर अच्छा कार्य करते हैं तो आपको प्रमोशन के तौर पर 2-3 साल के बाद असिस्टेंट मैनेजर के पद पर नियुक्त किया जाता है। असिस्टेंट मैनेजर (Assistant Manager) बनने के 3-5 साल बाद आपको Bank मे ब्रांच मैनेजर बना दिया जाता है। जिसे ब्रांच मैनेजर या बैंक मैनेजर भी कहते है।

बैंक मैनेजर बनने की चयन प्रक्रिया (Bank Manager Selection Process in Hindi)

बैंक मैनेजर बनने के लिए सबसे पहले PO परीक्षा के लिए आवेदन के लिए अप्लाई करना होगा, और PO की परीक्षा में बैठना होगा। तभी Bank Manager बन सकते है जो की ये परीक्षाए तीन चरणों में कराया जाता है, जो की इस प्रकार है –

  1. प्रारम्भिक परीक्षा ( Preliminary Exam )
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam )
  3. साक्षात्कार ( Interview )
  4. समुह विचार-विमर्श ( Group Discussion )

प्रारम्भिक परीक्षा (Bank Manager Preliminary Exam)

बैंक मैनेजर बनने के लिये ये पहला चरण होता है, ये परीक्षा उम्मीदवार की काबीलियत की परख करने के लिए किया जाता हैं। इस परीक्षा के माध्यम से काबिल उम्मीदवारों का चयन किया जाता हैं, जो की यह बैंक जॉब्स की दृष्टि से ये परीक्षा बहुत महत्वपूर्ण होती हैं, जिसमे उत्तीर्ण होने के लिए उम्मीदवारों को कडी मेहनत करनी पडती हैं.

मुख्य परीक्षा (Bank Manager Main Exam)

ये परीक्षा बैक मैनेजर बनने का‌ दुसरा चरण होता‌ हैं ये प्रारंभिक परीक्षा से काफी कठिन होती हैं व जो उम्मीदवार प्रारम्भिक परीक्षा (Bank Manager Preliminary Exam) में सफल‌ घोषित होते हैं। सिर्फ उन्ही अभ्यर्थियों को इस परीक्षा में बुलाया जाता हैं.

साक्षात्कार (Bank Manager Interview)

Preliminary और मेन परीक्षा मे सफल‌ होने वाले उम्मीदवारों को इस तीसरे चरण साक्षात्कार (Bank Manager Interview) के लिए बुलाया जाता है। इस चरण मे‌ कुछ अधिकारी उम्मीदवारों को उनके बताये गये स्थान पर उनके Document साथ लेकर आने को बुलाया जाता हैं, और फिर चयन अधिकारी उम्मीदवारों को कुछ सवाल जवाब करते हैं। और उनकी तार्किक और मानसिक क्षमता का अवलोकन करते है, उम्मीदवारों द्वारा उनके सवालो का जवाब किस तरह से दिया जाता हैं उसके आधार पर अधिकारी उम्मीदवारों को इस चरण मे उत्तीर्ण घोषित किया जाता है.

समुह विचार-विमर्श (Bank Manager Group Discussion)

बैक मैनेजर बनने‌ का‌ ये अन्तिम चरण समुह विचार-विमर्श (Bank Manager Group Discussion) होता हैं जो की साक्षात्कार से काफी मिलता जुलता होता हैं। इसमे‌ कुछ अधिकारी व उम्मीदवार एक जगह पर‌ बैठ कर उम्मीदवार को कोई एक विषय देते हैं। और उम्मीदवार को उस विषय पर अपने‌ विचार व्यक्त कर के अपनी काबिलीयत दिखानी होती है.

जब आप इन सभी चरो चरणों को पूरा कर लेते हैं तो इसके बाद मेरिट जारी होती हैं व उसके माध्यम से Bank Manager का चयन किया जाता हैं इन सभी चरणों को उत्तीर्ण करने के लिए आपको कठिन मेहनत करनीं होती हैं तभी आप इसमें सफलता प्राप्त कर सकते हैं. और सरकारी या प्राइवेट बैंक मे नौकरी पा सकते है।

बैंक मैनेजर के आवेदन के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply Jobs for Bank Manager in Hindi)

Bank Manager बनने के लिए आपको आने वाली बैंक की भर्ती पर ध्यान रखना होगा, हर बैंक भर्ती के अपनी अपनी नोटिस जारी करती रहती है जो की इनके ओफिसियल वैबसाइट (Bank Official Website) पर उपलब्ध होती है, और जब इसकी भर्ती आती हैं तब आपको आवेदन करना होगा हर बैंक के लिए अलग अलग भर्तीया आती रहती हैं इसके अलावा प्राइवेट बैंक (Private Bank) मे मैनेजर बनना आसान हैं इसमे आप सीधे Document और CV जमा करवा दे और आपको Interview के लिए बुलाया जाये तब आप अपने सारे Document ले कर Interview देने जाये अगर आप  Interview मे सफल होते हैं तो आपको सीधे Bank Manager के पद पर नौकरी पा सकते हैं. इसके अलावा सरकारी बैंक की भर्ती रोजगार समाचार, और भर्ती नोटिस दिया जाता है, जिस पर अप्लाई करके इनके सभी परीक्षाओ को पास करते है Bank Manager के पद पर नौकरी पा सकते है।

बैंक मैनेजर के लिए परीक्षा पैटर्न (Bank Manager Exam Pattern in Hindi)

यदि आप बैंकिंग सैक्टर के क्षेत्र मे बैंक मैनेजर के पद पर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो इसके लिए Bank PO की परीक्षा देना होता है, जिसके परीक्षा को पास करने के लिए काफी मेहनत करना पड़ता है, तो चलिये सबसे पहले Bank Exam Pattern के बारे में जानेंगे, परीक्षा का पैटर्न किसी भी परीक्षा की सबसे महत्वपूर्ण जानकारी होती है और जो विद्यार्थी उस परीक्षा के तैयारी करते हैं उन्हें उस परीक्षा के पैटर्न के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है.

तो जैसा हमने ऊपर Bank Job Selection के बारे मे बताया, जिसके की बैंक की परीक्षा तीन चरणों में होती है पहले दो चरण के परीक्षा लिखित परीक्षा होती है और दूसरे चरण के परीक्षा में इंटरव्यू होता है, सबसे पहले चरण की परीक्षा को प्रारंभिक परीक्षा कहते हैं| इस परीक्षा में आपसे General Knowledge, English, Current Affairs, Maths, Quantative, Aptitude, Reasoning जैसे विषय से प्रश्न पूछे जाते हैं|

जो विद्यार्थी पहले चरण की परीक्षा में सफल होते हैं उन्हें दूसरे चरण के परीक्षा के लिए बुलाया जाता है दूसरे चरण के परीक्षा भी लिखित होती है|

तीसरे चरण के परीक्षा में आपका इंटरव्यू होता है और यह आखिरी चरण होता है जो विद्यार्थी इन तीनों चरणों में सफल होते हैं उन्हें ही बैंक के मैनेजर के पद पर नौकरी मिलती है|

एसबीआई बैंक मैनेजर के लिए परीक्षा पैटर्न (SBI Bank Manager Exam Pattern in Hindi)

परीक्षा पैटर्न में सबसे पहले बात करते हैं SBI PO परीक्षा की। यह परीक्षा 3 चरणों में आयोजित की जाती है। यह परीक्षा 100 अंकों की होती है जिसके लिए उम्मीदवार को 1 घंटे का समय दिया जाता है। इस परीक्षा में अंग्रेजी, गणित और रीजनिंग से जुड़े प्रश्न आएंगे। इस परीक्षा को पास करने के बाद परीक्षा का दूसरा चरण Mains का आता है। इस परीक्षा में 250 अंकों के प्रश्न होते हैं। इसमें 2 पेपर होते हैं, पहला ऑब्जेक्टिव टेस्ट का और दूसरा डिस्क्रिप्टिव टेस्ट का।

ऑब्जेक्टिव परीक्षा में 200 अंकों का पेपर होता है, जिसके लिए उम्मीदवार को 3 घंटे का समय दिया जाता है। इस परीक्षा में रीजनिंग और कंप्यूटर एप्टीट्यूड, डेटा एनालिसिस एंड इंटरप्रिटेशन, सामान्य ज्ञान / बैंकिंग और अंग्रेजी से संबंधित प्रश्न आते हैं।

दूसरा पेपर Descriptive Test का होता है जो 50 अंकों का होता है। इसके लिए उम्मीदवार को 30 मिनट का समय दिया जाता है। इस पेपर में 2 सवालों के जवाब देने होते हैं। जिसमें एक पत्र और एक निबंध लिखना होता है। इसके बाद उम्मीदवार का ग्रुप डिस्कशन और इंटरव्यू होता है।

बैंक मैनेजर के लिए आईबीपीएस परीक्षा पैटर्न (Bank Manager IBPS Exam Pattern in Hindi)

अब बात करते हैं IBPS परीक्षा की, इस परीक्षा में भी 3 चरण होते हैं। परीक्षा के पहले चरण में 100 अंकों के प्रश्न आते हैं और परीक्षा के विषय भी अंग्रेजी, रीजनिंग और गणित हैं।

  • प्री एग्जाम 1 घंटे का होता है। 100 मार्क्स का होता है। मेंस एग्जाम 3 घंटे 30 मिनट का होता है। ये 200 मार्क्स का होता है। इंटरव्यू 100 मार्क्स का होता है। इसमे 1/4 नेगेटिव मार्किंग का भी प्रावधान होता है। ये कंप्यूटर बेस्ड ऑनलाइन एग्जाम होता है। हिंदी और इंग्लिश दोनो भाषओं में एग्जाम दे सकते हैं।
  • IBPS की मुख्य परीक्षा में दो पेपर होते हैं, ऑब्जेक्टिव टेस्ट और डिस्क्रिप्टिव टेस्ट।
  • ऑब्जेक्टिव टेस्ट पेपर में रीजनिंग और कंप्यूटर एप्टीट्यूड, डेटा एनालिसिस और इंटरप्रिटेशन, जनरल / इकोनॉमी / बैंकिंग अवेयरनेस और इंग्लिश से संबंधित प्रश्न होते हैं। यह पेपर 200 अंकों का होता है, जिसके लिए उम्मीदवार को कुल 3 घंटे का समय दिया जाता है।
  • रीजनिंग and कंप्यूटर एप्टीट्यूड से 45 क्वेश्चन जोकीं अधिकतम 60 मार्क्स के होते हैं, इसके लिए 60 मिनट का समय निर्धारित होता है।
  • जनरल इकोनामी ( General Economy) / बैंकिंग अवेयरनेस (Banking Awareness) इसमे 40 प्रश्न पूंछे जाते हैं जिन्हे हल करने के लिए 40 मिनट का ही समय मिलता है। इसके लिए अधिकतम 40 अंक निर्धारित हैं।
  • इंग्लिस लैंग्वेज से 35 क्वेश्चन आते हैं, जोकीं 40  अंक के होते हैं, इसमे 40 मिनट का समय मिलता है।
  • डाटा एनालिसिस एंड इंट्रप्रेशन 35 क्वेश्चन होते हैं, इसके लिए अधिकतम 60 मार्क्स निर्धारित किये गए हैं। इसमे 45 मिनट का समय मिलता है।
  • इंग्लिश लैंग्वेज (लेटर राइटिंग एंड एस्से) इसमे 2 क्वेश्चन आते हैं, जिसके लिए 25 मार्क्स निर्धारित हैं। इसके लिए 30 मिनट का समय मिलता है।
  • इस तरह से मेंस एग्जाम में 155 क्वेश्चन आते हैं, जिसके लिए 200 अंक अधिकतम निर्धारित होते हैं। और समय 3 घंटे का मिलता है।

बैंक मैनेजर परीक्षा की तैयारी कैसे करे (How to Prepare Exam for Bank Manager in Hindi)

बैंक मैनेजर की तैयारी भी उसी तरीके से करनी है, जिस तरीके से आप किसी दूसरे परीक्षा की तैयारी करते हैं, जैसे सबसे पहले आप पिछले साल के पेपर को Solve करने की कोशिश करिये, पिछले साल के पेपर देखने के बाद आपको ये पता चल जायेगा, की इसमें परीक्षा किस प्रकार होती है, और किस तरह के सवाल इसमें आते हैं।

तो ऐसे मे बैंक मैनेजर के PO Exam परीक्षाओ के बारे मे तो सुना ही होगा, जो की ये परीक्षाए सरकारी परीक्षाओ की दृष्टि से काफी कठिन मानी जाती है, ऐसे मे इन परीक्षाओ को पास करने के लिए बहुत पहले से तैयारी करना चाहीये, तभी इन प्रतियोगी परीक्षा मे सफलता प्राप्त करने के अवसर बढ़ जाते है, तो चलिये बैंक मैनेजर बनने के लिए Bank Manager Government Job Ki Taiyari Kaise Kare जानते है-

  1. Bank Manager के परीक्षा की तैयारी के लिए रोजाना 8 से 10 घंटे तैयारी करते है, तो आपके तैयारी के लिए काफी अच्छा होता है।
  2. Bank Manager के लिए पिछले साल हुए Question Paper के सवाल को हल करने की कोशिश करे, जिसके लिए पिछले पांच से छ सालो के Question Paper Solve करना चाहिए, ऐसे करने से यह पता चल जाता है, की Bank Manager की परीक्षा मे किस तरह के प्रश्न पूछे जाते है और कैसे दिये गए समय मे हल सकते है।
  3. Bank Manager की तैयारी मे जनरल नालेज से बहुत ज्यादा प्रश्न पुछे जाते है, तो ऐसे मे अपने सामान्य ज्ञान पर पकड़ मजबूत बनाना चाहिए। साथ ही निबंध की तैयारी भी अच्छे से करना चाहिए।
  4. जैसा की आप सभी जानते है, की किसी भी सरकारी परीक्षा मे लाखो उम्मीदवार भाग लेते है, जिस कारण इन परीक्षाओ मे कंपटीशन बहुत अधिक होता है, तो जिसके तैयारी के लिए भी खूब मन लगाकर पढ़ाई और तैयारी करना चाहिए। ऐसे मे Bank Manager की परीक्षा के लिए भी खूब मेहनत से पढ़ाई करना चाहिए।
  5. Bank Manager PO Exam के परीक्षा की तैयारी के लिए NCERT पैटर्न की किताबे काफी अच्छी मानी जाती है, तो ऐसे मे Bank Manager की परीक्षा की तैयारी के लिए एनसीईआरटी पैटर्न की किताबों से तैयारी करना चाहिए।
  6. बैंक मैनेजर के चयन परीक्षा की तैयारी टाइमटेबल बनाना चाहिए, और उसके अनुसार सभी विषयो की तैयारी नियमित रूप से करना चाहिए।
  7. Bank Manager की परीक्षा की तैयारी के लिए नियमित रूप से Current Affairs और अखबार जरूर पढ़ना चाहिए और कुछ समय निकाल कर टीवी मे न्यूज़ चैनल भी एक घंटे के लिए देखना चाहिए, जिससे देश की वर्तमान घटनाओ के बारे मे भी जानकारी हो जाती है,
  8. बैंक मैनेजर की परीक्षा काफी कठिन माना जाता है, ऐसे मे परीक्षा मे सफलता पाने के लिए अपने Weak points को पहचानते हुए उन्हें सुधारने की कोशिश करना चाहिए।
  9. बैंक मैनेजर PO परीक्षा की तैयारी करते हुए खुद से अपना ऑनलाइन Mock Test भी ले सकते हो इससे आपको अंदाज़ा हो जायेगा की आपकी तैयारी कितने अच्छे से हो रही है।
  10. Bank Manager की परीक्षा की तैयारी के लिए Self-Study के साथ साथ किसी अच्छे इंस्टिट्यूट को भी ज्वाइन कर सकते है। जिससे इस बैंक मैनेजर के परीक्षा की तैयारी के अच्छा मार्गदर्शन मिल जाता है।
  11. बैंक मैनेजर की परीक्षा की तैयारी के लिए इंटरनेट के जरिये Online Course या यूट्यूब विडियो की भी मदद ले सकते है, जहा पर आपको परीक्षा तैयारी के लिए विडियो मिल जाएगे।
  12. बैंक मैनेजर की परीक्षा की तैयारी करते हुए हमेशा खुद पर विश्वास बनाए रखे और अपने अंदर सकरात्मकता का भाव बनाए रखना चाहिए, और खुद के अंदर कभी भी Negative सोच नही लानी चाहिए, और ऐसे नकरात्मक लोगो से दूर रहना चाहिए।

तो ऐसे मे यदि इन बताए गए बैंक मैनेजर परीक्षा की तैयारी टिप्स एसीपी की परीक्षा के लिए उपयोग करते है, तो निश्चित ही आप Bank Manager की परीक्षा मे सफलता पा सकते है।

Bank PO Exam की तैयारी कैसे करे (Bank PO Exam Preparation in Hindi)

बैंक पीओ एग्जाम को पास करने के लिए आपको एक सही रणनीति बनानी होगी। इसके लिए आप किसी अच्छे बैंकिंग की तैयारी कराने वाले कोचिंग सेंटर को भी जॉइन कर सकते हैं। वंहा से आपको बेहतर मार्गदर्शन मिल सकता है। वैसे तो आजकल बहुत सारे बैंकिंग एग्जाम की तैयारी कराने वाले कोचिंग सेंटर हैं। लेकिन आप किसी अच्छे और रेपुटेड कोचिंग सेंटर से ही बैंकिंग की तैयारी करें।

जिस कोचिंग सेन्टर से ज्यादा कैंडिडेट का सेलेक्शन होता हो, उसी से आप बैंकिंग की तैयारी करें। सिर्फ कोचिंग सेंटर जॉइन करने से कुछ नही होगा, कोचिंग के साथ- साथ मे 3 से 4 घण्टे रोज सेल्फ स्टडी भी करना पड़ेगा । जो भी कोचिंग में पढ़कर आएं, उसका रिवीजन भी करें। इस तरह से आप 1 से 2 साल में Bank PO का एग्जाम पास कर सकते हैं।

बैंक मैनेजर का वेतन (Bank Manager Salary in Hindi)

किसी भी नौकरी की तनख्वाह एक और उद्देश्य होता है उस नौकरी को पाने के लिए हम सब यही चाहते हैं कि हम एक अच्छी नौकरी करें जहां हम एक अच्छी खासी सैलरी मिले तो ऐसे मे Bank Manager एक बहुत अच्छी पोस्ट भी है और साथ ही इतना को बहुत अच्छी सैलरी भी मिलती है.

बैंक मैनेजर को हर महीने 20000 से लेकर 60000 तक की सैलरी मिलती है. इसके अलावा बैंक मैनेजर को सैलरी के अलावा और बहुत सारी अन्य सरकारी सुविधाएं भी प्राप्त होती हैं.

बैंक मैनेजर का काम (Work of Bank Manager in Hindi)

Bank Manager शाखा का कार्यवाहक होता है और शाखा का प्रमुख होता है, एक शाखा प्रबंधक शाखा के अनुशासन अथवा व्यवसाय के लिए जिम्मेदार होता है और अन्य सभी गतिविधिओं के लिए जिम्मेदार होता है। शाखा में प्रत्येक कार्य शाखा प्रबंधक के नाम से किया जाता है। तो चलिये एक बैंक मैनेजर का क्या क्या काम होता है, जानते है –

  • ग्राहकों के लिए आकर्षक products और सेवाओं का विकास करना और उन्हें बढ़ावा देना।
  • बैंकिंग कर्मचारियों को उनके दैनिक कार्यों के लिए लीड और गाइड करना|
  • बैंकिंग परिचालन से संबंधित विभिन्न डेटाबेस बनाएं और विकसित करें।
  • बैंक के लिए वार्षिक परिचालन और व्यय बजट तैयार करना।
  • दिन भर की हुई लेनदेन के हिसाब को सुनुश्चित करना|
  • सुनिश्चित करना कि बैंक रिकॉर्ड और स्टेटमेंट ठीक से Maintain हैं।
  • बैंक की सफलता के लिए रणनीति और परिचालन लॉजिस्टिक को विकसित करना|
  • ग्राहकों और अन्य वित्तीय संस्थानों के साथ अच्छे संबंध बनाने के लिए जिम्मेदार होता है|

भारत में सरकारी बैंकों की सूची (List of Government Banks in India)

अब आपको यहा भारत के कितने सरकारी बैंक है, उनके नाम बताने जा रहे है जो की List of Government Banks in India इस प्रकार है –

  1. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India)
  2. पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank
  3. बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda)
  4. इंडियन बैंक (India Bank)
  5. बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India)
  6. बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra
  7. यूको बैंक (Uco Bank)
  8. इंडियन ओवरसीज बैंक (Indian Overseas Bank)
  9. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India)
  10. इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank)
  11. केनरा बैंक (Canera Bank)
  12. यूनियन बैंक (Union Bank of India)

भारत में निजी बैंकों की सूची (List of Private Banks in India)

अब आपको यहा भारत के कितने प्राइवेट यानि निजी क्षेत्र के बैंक है, उनके नाम बताने जा रहे है जो की List of Private Banks in India इस प्रकार है –

  1. एक्सिस बैंक (AXIS Bank)
  2. बंधन बैंक (Bandhan Bank)
  3. सीएसबी बैंक (CSB Bank)
  4. धनलक्ष्मी बैंक (Dhanlaxmi bank)
  5. फेडरल बैंक (Federal Bank)
  6. आईडीबीआई बैंक (IDBI Bank)
  7. कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank)
  8. आरबीएल बैंक (RBL Bank)
  9. यस बैंक (YES Bank)
  10. सिटी बैंक (City Bank)
  11. एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank)
  12. एचडीबी बैंक (HDB Bank)
  13. आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank)
  14. इंडसइंड बैंक (Indusind bank)

निष्कर्ष :-

तो अब आप जान गए होंगे की Bank Manager Kaise Bane और साथ बैंक मैनेजर की तैयारी, सिलेबस, योग्यता और सैलरी के बारे मे भी विस्तार से जान गए, तो हमने Bank Manager कैसे बने के इस पोस्ट मे जो भी कुछ जाना, वो इस प्रकार है –

  • बैंक मैनेजर क्‍या है? (What is Bank Manager in Hindi)
  • बैंक मैनेजर कैसे बने? (Bank Manager Kaise Bane)
  • बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता (Bank Manager Qualification In Hindi)
  • बैंक मैनेजर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (Bank Manager Educational Qualification in Hindi)
  • बैंक मैनेजर बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit For Bank Manager in Hindi)
  • बैंक मैनेजर बनने की चयन प्रक्रिया (Bank Manager Selection Process in Hindi)
  • बैंक मैनेजर के लिए सेलेबस (Bank Manager Exam Syllabus in Hindi)
  • बैंक मैनेजर के आवेदन के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply Jobs for Bank Manager in Hindi)
  • बैंक मैनेजर की तैयारी कैसे करे (How to Prepare Exam for Bank Manager in Hindi)
  • बैंक मैनेजर का वेतन (Bank Manager Salary in Hindi)
  • बैंक मैनेजर का काम (Work of Bank Manager in Hindi)
  • भारत में सरकारी बैंकों की सूची (List of Government Banks in India)
  • भारत में निजी बैंकों की सूची (List of Private Banks in India)

तो इस पोस्ट मे Bank Manager Kya Hai? Bank Manager Kaise Bane? Bank Manager Ki Taiyari Kaise Kare के बारे मे अच्छे से जान गए, तो ऐसे मे आपको यह पोस्ट आप सभी को काफी पसंद आई होगी, तो आपको यह पोस्ट कैसा लगा, कमेंट मे हमे जरूर बताए और इस पोस्ट को अपने दोस्तों और अन्य लोगों के साथ अधिक से अधिक शेयर करें…

5/5 - (2 votes)
शेयर करे
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर पोस्ट

Recent Post

close button