विज्ञान के चमत्कार निबंध हिंदी में Vigyan Ke Chamatkar Essay in Hindi

0

Vigyan Ke Chamatkar Essay Nibandh – इतने वर्षो के इतिहास में मानव ने जो भी प्रगति की है, उसे विज्ञान का चमत्कार कहा जाता है, यानि विज्ञान के दम पर मानव ने वह कार्य कर दिखाया है, जो की असम्भव प्रतीत होता था, तो चलिए विज्ञान के इसी महत्व को देखते हुए आज इस पोस्ट में विज्ञान के चमत्कार पर हिन्दी निबन्ध, Vigyan Ke Chamatkar Essay, Vigyan Ke Chamatkar Par Nibandh बताने जा रहे है, जिसे आप अपने किसी भी क्लास 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 के छात्र है तो, अपने क्लास में इस विज्ञान के चमत्कार पर Short या Long हिन्दी निबंध लिख सकते है, तो चलिए इस विज्ञान के चमत्कार पर हिंदी निबंध Vigyan Ke Chamatkar Essay को जानते है.

विज्ञान के चमत्कार पर हिन्दी निबंध

Vigyan Ke Chamatkar Essay in Hindi

Vigyan Ke Chamatkar Essay Nibandh In Hindiआज के समय सुई से लकर जहाज तक, हर छोटी से छोटी से लेकर बड़ी वस्तुओ को खोज और उनका निर्माण विज्ञान के जरिये ही हुआ है, जिसे विज्ञान का चमत्कार भी कहा जाता है. अभ हाल में हमारे देश का यान मंगल ग्रह और चन्द्रमा उपग्रह तक गया, जो की ऐसा सम्भव विज्ञान के जरिये ही सम्भव हो पाया है.

जरा सोचिये आपके एक प्लग स्वीच आन करने से बल्ब जलने लगता है, और पूरा घर प्रकाश से भर जाता है, ऐसा विज्ञान की खोज से ही सम्भव हो पाया है, जिसे हम बिजली और बल्ब के अविष्कार के नाम से जानते है, ऐसे हमारे जीवन में हर वस्तु कही न कही विज्ञान की खोज से ही हमारे पास उपलब्ध है, जो हमारे लिए विज्ञान एक वरदान साबित हुआ है.

पहले जहा के ज़माने में एक जगह से दुरी जगहों पर जाने कल इए कई दिनों की यात्रा पर निकलना पड़ता है, लेकिन अब रेलगाड़ी, जहाज, वायुयान, पानी की जहाज, गाड़ियों से इन दूरियों को कुछ घंटो में ही तय कर लिया जाता है. इस तरह विज्ञान ने अपने अविष्कारों के जरियों पूरे धरती ही नही बल्कि दुसरे ग्रहों की दुरी को तय करने में अहम भूमिका निभा रहा है. और वह दिन दूर नही जब लोग दुसरे ग्रहों पर भी आसानी से आ जा सकेगे, और ऐसा चमत्कार विज्ञान के जरिये ही हो सकता है.

हम अपने जीवन में चारो तरफ देखे तो हर तरफ विज्ञान का ही प्रभाव दिखाई पड़ता है, चाहे वह पेन्सिल हो, बैग हो, खाने के लिए उत्पन्न अनाज, पहनने के लिए कपड़े, घुमने के लिए गाड़िया, और मनोरंजन के सभी साधन सभी विज्ञान के आविष्कार से ही सम्भव हो पाया है, तो इस तरफ विज्ञान के चमत्कार हर जगह दिखाई देता है,

अब कोई भी व्यक्ति बीमार होता है, तो उसे हॉस्पिटल ले जाया जाता है, जहा पर बड़ी बड़ी मशीने, दवाए, चेक करने वाली X-Ray मशीने सभी विज्ञान की खोज है, जिनकी सहायता से मानव जीवन को अनेक प्रकार की बीमारियों से बचाने में भी विज्ञान सहायक हुआ है, यानि विज्ञान मानव जीवन के लिए एक वरदान बनकर आया है.

और यही नही पहले जहा देशो के विदेशी आक्रमणकारियों का डर हमेसा लगा रहता है, लेकिन आज के समय में विज्ञान की सहायता से ऐसें अनेको हथियार और शस्त्र बना लिए गये है, जिनकी सहायता से आज हमारे देश की सीमाए भी काफी हद तक सुरक्षित मानी जाती है. और इन्ही हथियारों के डर तो बहुत से देश डर से अब आक्रमण करने के बारे में सोचते भी नही है, यानि विज्ञान हर क्षेत्र में अपना चमत्कार दिखा रहा है.

उपसंहार –

ऐसे में यदि देखा जाय तो एक तरफ जहा विज्ञान हमारे लिए वरदान साबित हुआ है, तो दूसरी तरफ विज्ञान के दुष्परिणाम भी देखने को मिले है, पहलेजहा बन्दूको का अविष्कार सिर्फ रक्षा के उद्देश्य से किया गया था, लेकिन अब इन्ही हथियारों से लोग एक पल में दुसरे की जान तक ले लेते है, और यही नही परमाणु हथियारों के अविष्कार ने पूरी दुनिया के समीकरण को बदल कर रख दिया है, जरा सोचिये अगर परमाणु बम जैसे खतरनाक हथियार गलत लोगो के हाथो में चला जाये, तो इस धरती को नष्ट होने सेकेंड भर का भी समय नही लगेगा.

इस तरफ यदि हमे यदि विज्ञान के सही रूप में वरदान साबित करना है, तो हमे उन सभी चीजो के आविष्कार पर रोक लगाने के लिए आज की जरूरत है, जिनसे मानव जीवन खतरे में पड़ता है, तभी हम सभी के लिए विज्ञान के चमत्कार सुख देने वाले हितकर साबित हो सकते है.

इन्हें भी जाने :- 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here