AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Technology, Finance, Make Money, Jobs, Sarkari Naukri, General Knowledge, Career Tips, Festival & Motivational Ideas To Change Yourself

Festival Information हिन्दी निबन्ध

रंग-बिरंगी धूमधाम से भरपूर एक अनूठा पर्व होली पर निबंध

10 Points On Holi In Hindi

होली पर निबंध

होली रंगो का त्योहार जो की हिन्दू धर्म का प्रसिद्ध त्योहार है, जिसका इंतजार हर भारतीय को रहता है, जो की हिन्दी महीने के फागुन महीने मे मनाया जाता है

Holi Pe Paragraph In Hindi

Happy Holi Kavita Holi poemवैसे तो हमारे देश में हर त्यौहार मनाने के पीछे कोई न कोई धार्मिक, ऐतिहासिक या पौराणिक महत्व जरुर रहता है जिन परम्पराओ का पालन हमारे देश में सदियों होता चला आ रहा है और इन परम्पराओ पर आधारित ये त्यौहार हमारे भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है जिन्हें हम बहुत ही जोश और पूरी उर्जा के साथ लोगो के साथ मिलकर अपने इन त्योहारो को मनाते है और इसी कड़ी में सबसे रंगबिरंगा रंगों का त्यौहार है होली | Holi….

Short Note On Holi In Hindi For Class 5

सोचिये जरा अगर हमारे जीवन में रंग न हो तो ये धरती आकाश सम्पूर्ण नीरस और रंगहीन लगेगी, लोगो में जीवन तो होगा लेकिन बिना रंगों के ये धरती सुनी लगेगी न आकाश का रंग नीला होगा न ही धरती पर हरियाली की रंग हरा होंगा और न ही सूर्य में लाल रंग होगा और न ही दिन के उजाले में सूर्य की किरणों में चमकीला रंग होगा फिर भला इन रंगो के बिना सबकुछ फीका फीका लगेगा और इसी रंगो पर आधारित है हम सभी का सबसे प्यारा त्यौहार रंगों की होली जो की इस रंगों के त्यौहार में हर कोई रंगों में रंग जाता है तो लोगो में आपसी प्यार और सद्भावना का विकास होता है.

होली क्या है

What is Holi in Hindi

होली – भारत देश में हिन्दू धर्म में होली हिन्दुओ का एक प्रमुख त्यौहार है जो की होली का त्यौहार पूरे भारत में मनाया जाता है और होली के दिन हर कोई रंगों में रंग जाता है जिसके नज़ारे देखने में वाकई अद्भुत और प्रसन्न करने वाला होली का दिन होता है होली का पर्व यानी हिंदी महीने फागुन महीने में पूर्णिमा को मनाया जाता है.

Few Lines On Holi In Hindi For Class 2

होली जो की बसंत ऋतू में यह त्यौहार पड़ने के कारण पूरा वातावरण सुंदर और हरियाली के रंगों से भर जाता है होली के त्यौहार की शुरुआत तो माँ सरस्वती के पूजा वाले दिन बसंत पंचमी से ही शुरू हो जाती है बसंत पंचमी के ही दिन जगह जगह होलिका की स्थापना की जाती है जो की होली के ठीक एक दिन पहले होलिका का त्यौहार के रूप में होलिकादहन | Holika Dahan किया जाता है.

About Holi In Hindi Wikipedia

भारत देश में हिन्दू धर्म में होली हिन्दुओ का एक प्रमुख त्यौहार है जो की होली का त्यौहार पूरे भारत में मनाया जाता है, वैसे तो हमारे देश में हर त्यौहार मनाने के पीछे कोई न कोई धार्मिक, ऐतिहासिक या पौराणिक महत्व जरुर रहता है जिन परम्पराओ का पालन हमारे देश में सदियों होता चला आ रहा है,

और इन परम्पराओ पर आधारित ये त्यौहार हमारे भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है जिन्हें हम बहुत ही जोश और पूरी उर्जा के साथ लोगो के साथ मिलकर अपने इन त्योहारो को मनाते है और इसी कड़ी में सबसे रंगबिरंगा रंगों का त्यौहार है होली | Holi….

Essay On Holi In Hindi With Headings

फिर इसके पश्चात अगले दिन सुबह से ही लोग एक दुसरे के उपर रंग गुलाल लगाते है और सभी लोग एक दुसरे से आपसी मतभेदों को भुलाकर इस दिन पूरे जोश के साथ रंगो का त्यौहार होली खेलते है चूकी भारत एक कृषी प्रधान देश है ऐसे में जब होली के समय पूरी धरती खेतो में गेहू की खेती की हरे रंग की हरियाली और सरसों की खेती से पूरा धरती सोने के समान पिला हो जाता है जो की धरती की सुन्दरता में चार चाँद लगा देते है जिसे देखकर हर किसी का मन प्रफुल्लित हो जाता है और किसान अपने खेतो में लहराते हुए फसलो को देखकर फुले नही सरमाते है हर कोई फागुन के इस मस्त मौसम में मस्त हो जाता है.

Holi Essay In Hindi For Child

वैसे तो होली का त्यौहार बसंत ऋतू के आगमन से ही शुरू हो जाता है होली का मुख्य त्यौहार दो दिनों मनाया जाता है पहले दिन जिसे होलिकादहन के नाम से जानते है होलिकादहन के लिए होलिका की स्थापना बसंत पंचमी के दिन ही की जाती है बंसत पंचमी के दिन लोग जगह जगह खाली स्थानों में होलिका का विधिवत पूजा पाठ करके होलिका की स्थापना की जाती है फिर होलिकादहन के लिए इस दिन से लोग लकड़िया इक्कठा करते है और प्राय यह भी देखा जाता है की किस गाव महल्ले में सबसे बड़ी होलिका बनाने में होड़ लगी रहती है.

Essay On Holi In Hindi Class 10

और फिर होली के ठीक एक दिन पहले लोग होलिकादहन की तैयारी करते है होलिकादहन के दिन सरसों पीसकर उबटन लगाने की की परम्परा है और फिर उबटन लगाने के पश्चात जो हमारे शरीर से उबटन छूटकर निकलता है उसे होलिकादहन में जलाया जाता है ऐसी मान्यता है की ऐसा करने से हमारा शरीर स्वस्थ और निरोगी रहता है फिर फिर रात में लोग होलिका जलाने के लिए इक्कठा होते है फिर विधिवत पूजापाठ के बाद होलिका को जलाया जाता है,

About Holi In Hindi Wikipedia

और फिर मान्यताओ के अनुसार होलिकादहन के बाद लोग रात में खाना नही खाते है क्यूकी यह एक तरह से होलिका को जलाने की रस्मे है और हिन्दू धर्म में किसी का दाह संस्कार के बाद तुरंत भोजन नही किया जाता है सो सभी लोग होलिकादहन के पहले ही अपना भोजन कर लेते है.

10 Points On Holi In Hindi

और फिर होलिकादहन के पश्चात अगले दिन सुबह से ही होली के त्यौहार की शुरुआत हो जाती है होली के दिन सभी लोग आपसी मतभेदों को भुलाकर आपस में एक दुसरे को रंग लगाते है और फिर पूरे मस्ती के साथ पूरा दिन बिताते है हर कोई होली के रंग में इस कदर डूब जाता है की हर जगह बस होली की खुशिया ही देखने को मिलती है चारो तरफ रंगों की फुहार और रंगों के गुलाल से गली मुहल्ला रंगीन हो जाते है हर जगह होली के गानों का आयोजन किया जाता है,

Essay On Holi In Hindi With Headings

Happy Holi Quotes in Hindiगावो में तो लोग फागुन का एक से एक गाने गाते है जिसे सुनकर हँसी और मन में मस्ती का भाव आ जाता है बड़े भी बच्चे बन जाते है होली के त्यौहार को लेकर बच्चो में उत्साह देखने लायक होता है बच्चे तो चाहे कोई भी हो अगर उनके सामने से कोई भी गुजरता है तो रंग लगाना नही भूलते है.

Short Note On Holi In Hindi For Class 5

और फिर होली का त्यौहार हो तो खाने पीने की बात न हो तो यह थोडा अधुरा ही लगता है होली के इस रंग भरे त्यौहार पर तरह तरह की मिठाईया बनाई जाती है जिनमे सबसे ज्यादा प्रसिद्द गुझिया होती है यह प्राय सभी घरो में बनायीं जाती है होली के त्यौहार पर लोग घरो में अनेक प्रकार के पापड़, पकवान और व्यंजन बनाते है और जो भी घर पर आता है हर सभी को बड़े ही प्यार से इन व्यजनो को खिलाया जाता है इस तरह होली का त्यौहार रंग के त्यौहार तो कहलाता ही है इसे लोग खुशियों और आपसी प्रेम और सौहार्द् का भी त्यौहार कहते है.

Few Lines On Holi In Hindi For Class 2

जैसे जैसे हमारा समाज विकास की ओर बढ़ता जा रहा है वैसे वैसे समाज में अनेको तरह की बुराईया भी जन्म ले रही है जिसका असर इन त्योहारों पर भी देखने को मिलता है होलिकादहन के त्यौहार से ऐसी मान्यता है की होलिकादहन से हमारे वातावरण में फैले अनेको प्रकार के कीटाणु अग्नि के ताप के प्रभाव से जलकर मर जाते है यह बात वैज्ञानिक दृष्टी पर भी खरी उतरती है लेकिन आजकल त्योहारों पर अंधाधुंध तरह तरह पटाखों के धुएं से कही न कही हमारा वायुमंडल भी दूषित हो जाता है जो की बहुत ही सोचनीय है.

Essay On Holi In Hindi Class 10

इसके अतिरिक्त होली का त्यौहार प्रेम के रंगों का त्यौहार माना जाता है लेकिन चंद कुछ लोग इन त्योहारों पर तरह तरह के शराब मदिरा और अन्य प्रकार के नशा का भी सहारा लेते है जो की कही न कही रंगो के त्यौहार में खलल पैदा करते है और कुछ लोग चंद पैसे के लाभ की खातिर रंगों में तरह तरह के रसायनों का प्रयोग कर देते है जो की हमारे शरीर के त्वचा के लिए नुकसानदायक होता है,

10 Points On Holi In Hindi

इसलिए हम सभी का अपने त्योहारों की गरिमा बनाये रखने के लिए यह फर्ज बनता है की हम सभी ऐसे नशे से दूर रहे या जो लोग चंद ख़ुशी की खातिर नशे का सहारा लेते है उन्हें ऐसे करने से रोकने के लिए समझाए और अपने फायदों के लिए लोगो के स्वास्थ्य से लोग खिलवाड़ न करे हमे उन्हें रोकने के लिए भी कोशिश करनी चाहिए तभी हमारा ये प्यारा रंगों का त्यौहार हर किसी के जिन्दगी में खुशिया भर सकता है.

होली निबंध

Short Essay On Colours In Hindi

होली पर हिन्दी मे निबंध, Happy Holi Essay in Hindi, मेरा प्रिय त्योहार होली निबंध हिंदी, होली पर निबंध in Hindi, होली पर निबंध, होली पर निबंध प्रस्तावना, होली पर निबंध pdf,  होली के बारे में 10 लाइन इन हिंदी, होली पर निबंध बच्चों के लिए 10 line, होली पर निबंध 250, 500 और 1000 से भी ज्यादा शब्दों में बताने जा रहे है, जिसे होली के शुभ अवसर पर लोगो के बीच शेयर कर सकते है, और होली के इस निबंध के जरिये लोगो को होली के बारे मे बता सकते है,

होली – विकिपीडिया

होली का महत्व

होली क्यों मनाई जाती है

हिस्ट्री ऑफ़ होलिका

होली पर निबंध Holi In Hindi

होली – होली एक ऐसा रंगबिरंगा त्योहार है, जिसे भारतीय बहुत ही धूमधाम से मनाते है, होली का पर्व हिन्दुओं के द्वारा मनाये जाने वाले प्रमुख त्योहारों में से एक है। जो की पूरे भारत में मनाया जाता है, भारत त्योहारों का देश हैं जहाँ एक रंगीला त्यौहार हैं – होली.

होली (Holi) वसंत ऋतु में हिन्दी महीने के फाल्गुन में मनाया वाला एक महत्वपूर्ण भारतीय और नेपाली लोगों का त्यौहार है। यह पर्व हिंदू पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। हमारे जीवन में रंग न हो तो ये धरती आकाश सम्पूर्ण नीरस और रंगहीन लगेगी, लोगो में जीवन तो होगा लेकिन बिना रंगों के ये धरती सुनी लगेगी न आकाश का रंग नीला होगा न ही धरती पर हरियाली की रंग हरा होंगा और न ही सूर्य में लाल रंग होगा और न ही दिन के उजाले में सूर्य की किरणों में चमकीला रंग होगा फिर भला इन रंगो के बिना सबकुछ फीका फीका लगेगा और इसी रंगो पर आधारित है हम सभी का सबसे प्यारा त्यौहार रंगों की होली जो की इस रंगों के त्यौहार में हर कोई रंगों में रंग जाता है तो लोगो में आपसी प्यार और सद्भावना का विकास होता है. To Continue …

होली पर निबंध

होली के इन पोस्ट को भी पढ़े :- 

शेयर करे

Follow AchhiAdvice at WhatsApp Join Now
Follow AchhiAdvice at Telegram Join Now

1 COMMENTS

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *