निपाह वायरस क्या है लक्षण सावधानिया बचाव Nifa Virus Symptoms Precautions Hindi

1

Nipah Virus अब आप सोच रहे होंगे की ये कौन सा नया वायरस आ गया जी हां आज हम एक ऐसे वायरस के बारे में बताने जा रहे है जिसके चपेट में आने से संक्रमित व्यक्ति तुरंत कोमा में चला जाता है और अगर समय रहते इलाज न मिले तो अनहोनी भी हो सकता है और इस खतरनाक वायरस का नाम है – Nipah Virus.

तो चलिए जानते है की आखिर ये निपाह वायरस क्या है इसके लक्षण और बचाव के तरीके क्या हो सकते है.

निपाह वायरस क्या है

What is Nipah Virus in Hindi

Nipah Virus

विश्व स्वास्थ्य संघटन | World Health Organization (WHO) के अनुसार निफा एक नई उभरती हुई बीमारी है जिस वायरस के संक्रमण के प्रभाव से जानवर और इन्सान दोनों में तेजी से फैलता है जो की गंभीर बीमारियों को जन्म देता है इस बीमारी की पहली बार पहचान 1998 में मलेशिया के निपाह गाव से शुरुआत हुआ था जिस गाँव के नाम पर इस वायरस का नाम दिया गया और भारत में इसका सर्वप्रथम प्रभाव 2001 में देखने को मिला था जिसके बाद यह वायरस का संक्रमण 2007 और अब इस साल 2018 में नये ताजे मामले देखने को आ रहे है.

हन्ता वायरस क्या है इसके लक्षण, बीमारी से बचाव और इलाज

 Nipah Virus के नाम के आधार पर इसे NiV Infection (एनआईवी संक्रमण) भी कहा जाता है इस वायरस का सर्वप्रथम प्रभाबी सुवरो में देखने को मिला था जिसके संक्रमण के जरिये ये वायरस इंसानों तक पहुच गये इसके अलावा फ्रूट बैट्स नामक चमगादड़ के जरिये ये वायरस उनसे होते हुए इंसानों को अपने चपेट में ले रहा है विश्व स्वास्थ्य संघटन के अनुसार जहा खजूर की खेती की जाती है वहा इसका प्रभाव अत्यधिक देखने को मिल रहा है.

कोरोना वायरस से सुरक्षा पर अनमोल विचार कोट्स Coronavirus Quotes in Hindi

निफा वायरस के लक्षण

Nipah Virus Symptoms in Hindi

निपाह वायरस को NiV संक्रमण भी कहा जाता है इसके चपेट में आने व्यक्ति को तेज बुखार, सांस लेने में तकलीफ, कोमा, सरदर्द, चक्कर, दिमाग का काम न करना, बेहोशी जैसे तुरंत लक्षण दिखने लगते है.

निफा वायरस के संक्रमण से सावधानिया और बचाव

Nifa Virus Precautions in Hindi

WHO (विश्व स्वास्थ्य संघटन) के अनुसार यह एक संक्रमित वायरस है जो बहुत तेजी से फैलता है और लोगो को अपना शिकार बनाता है और जो संक्रमित के सम्पर्क में आते है वे भी इसके शिकार हो जाते है इस वायरस का अभी कोई पुख्ता इलाज नही बना है और ना ही इसके प्रभाव को रोकने के लिए किसी वैक्सीन का निर्माण हुआ है.

कोरोना वायरस क्या हैं इसके लक्षण और उपाय Corona virus Symptoms Treatment in Hindi

लेकिन यदि कुछ सावधानिया बरती जाए तो निफा वायरस के संक्रमण से बचा जा सकता है चुकी यह फ्रूट बैट्स नामक चमगादड़ के जरिये बहुत तेजी से फैलता है तो ऐसे में खजूर, ताड़ के जानवरों द्वारा खाए गये फलो, रसो के सेवन से बचना चाहिए और इन जानवरों द्वारा जूठी फलो को भी खाने से बचना चाहिए.

नारियल पानी पीने के 5 फायदे Coconut Water Benefits In Hindi

फिलहाल निफा वायरस के संक्रमण का कोई पुख्ता इलाज नही हुआ है ऐसे में सावधानी ही इस वायरस से बचाव का एक मात्र रास्ता है

सावधानी ही सुरक्षा है

तो आप सबको निफा वायरस के बारे में यह पोस्ट निपाह वायरस क्या है लक्षण सावधानिया बचाव के तरीके Nifa Virus Symptoms Precautions in Hindi कैसा लगा जरुर बताये और इस जानकारी को लोगो के साथ शेयर भी जरुर करे.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here