जीवन में सफल होने के लिए सात कुछ अच्छी आदते


जीवन में सफल होने के लिए कुछ अच्छी आदते

Seven Good Habits for Success

कहा  जाता है की हम जो इंसान के रूप में ये जिन्दगी पाते है वो हमारे कई जन्मो के अच्छे कर्मो का फल होता है जिससे हम इन्सान के   रूप में जन्म लेते है और जब हम इंसान के के रूप में जन्म तो ले लेते है लेकिन हम अपने Achhe या बुरे कर्मो के द्वारा के द्वारा अपनी जिन्दगी युही गवा देते है

तो जब हम यदि इस जिन्दगी को सार्थक बनाना चाहते है तो हमे इस जिन्दगी में इतने अच्छे कर्म करने चाहिए की हमारे जाने के बाद भी लोग हमे याद करे और जब भी किसी अच्छाई का जिक्र हो तो हमारा नाम भी लिया जाय हमे ऐसी जिन्दगी जीने का प्रयाश करना चाहिए

तो क्यू न हम सभी ऐसी ही Achi Aadte अपने जिन्दगी में शामिल कर ले जिससे हमारा जीवन और सुन्दर हो जाए और हम एक अच्छे इन्सान के रूप में बन जाए

तो आईये जानते है कुछ ऐसी ही अच्छी आदते जो हमारी जिन्दगी की सोच को बदल दे

कुछ अच्छी आदते

Life me Success hone ke liye Achi Adte Hindi Me

अपनी  जिन्दगी  को  सफल बनाने के लिए हमे इन अच्छी आदतों को अपने जीवन का हिस्सा बनाना चाहिए –

1- मदद की भावना | Helpful Life

हमे अपनी Life में लोगो के प्रति अपने मन में भावना का भाव रखना चाहिए अब लोग सोचते है की हम क्यू दुसरो की मदद करे तो अगर यही सब सोचने लगे तो जरा आप सोचिये की आप को किसी भी चीज की शख्त जरूरत हो और वो चीज मागने पर भी आपका कोई Help न करे तो उस समय हमे कैसा प्रतीत होगा

“कुछ पाना है तो पहले देना सीखना चाहिए”

शायद कोई भी नही चाहेगा की लोग हमारी मदद न करे क्यू की आवश्यकता हर इन्सान की जरूरत होती है और क्या पता कब किसको कहा हमे दुसरो के Help की जरूरत आन पड़े तो यदि हमे किसी भी चीज को पाना है तो सबसे पहले मदद की भावना भी रखनी चाहिए

2- हमेशा सच बोलना

Always Speak The Truth

बड़े से बड़े महापुरुष को हम सभी देखे तो वे अपने जीवन में हमेशा सत्य के रास्ते पर ही चले और जीवन भर सच्चाई को अपने पास रखे, सत्य बोलना महापुरूषों की निशानी है तो हमे भी हमेशा सत्य की राह का अनुसरण करना चाहिए

अक्सर लोगो के मुह से ये कहते हुए सुना जा सकता है की क्या करे यार काम को निकालने के लिए झूठ बोलना पड़ता है यही बात जब लोग कहते है तो वे अपने सत्य बोलने की क्षमता को सीधे तौर पर छुपाते है और ऐसा वे बार बार करते है क्यू की ये आदत उनके स्वाभाव में समा जाता है

“एक बार सत्य बोलना हजार झूठ बोलने से कही बेहतर है”

और लेकिन जब हम सत्य बोलकर किसी काम को करते है तो हमे सिर्फ एक बार ही सत्य कहने के लिए हिम्मत जुटानी पड़ती है और बार बार झूठ बोलने से बच जाते है

3- त्याग की भावना

Daan Karne ki Bhavna

यदि देखा जाय तो आजकल अक्सर अपने ही परिवार के लोग छोटी छोटी बातो पर जैसे जमीन विवाद या पैसे, धन के बटवारे को लेकर आपस में कलह जरुर होता है और ऐसा इसलिए होता है की जब सभी केवल अपने हितो को ध्यान में रखते है तो उन्हें फिर दुसरो की परवाह खत्म हो जाती है और यही किसी भी परिवार में कलह का कारण बनती है

लेकिन जब माँ बाप अपने एक साथ अपने सारे बच्चो का पालन पोषण करते है तो कभी भी उन बच्चो में कलह नही होता है और यदि होता भी है तो माँ बाप अपने हिस्से का भी अपने बच्चो को देने के लिए तैयार रहते है जिससे उनका परिवार हसी ख़ुशी जीवन व्यतीत करता है

“त्याग महापुरुषों की निशानी है”

तो क्या हम सभी अपनो की ख़ुशी के लिए एक छोटी सी त्याग नही कर सकते क्या, यदि हां तो निश्चित ही अपने दूर होने भी वाला भी हमे अपना सकता है इसलिए अपने मन में त्याग की भावना जरुर रखनी चाहिए

4-सदा बडो के आशीर्वाद में रहना

Always Live with Older Respect

आशीर्वाद एक ऐसी चीज है जब किसी को अपने से बडो का आशीर्वाद मिलता है तो निश्चित ही सफलता उनके कदम चूमती है यानी आज के इस भागमभाग भरी जिन्दगी में लोगो के पास अपने से बड़े बूढ़े माँ बाप के लिए समय ही नही बचा जिससे उनकी बुढ़ापे में सेवा कर उनका आशीर्वाद ले सके

“बडो का आशीर्वाद जीवन में उर्जा का संचार करती है”

लेकिन जब कोई अपने से बडो का Respect करता है और उनके आशीर्वाद का लाभ लेता है तो निश्चित ही यदि उसके जीवन में अड़चन आती है तो यही आशीर्वाद उनके लिए Energy का कार्य करते है जो आगे बढने के लिए प्रेरित करते है

इसलिए हमे जब भी मौका मिले हमे अपने बूढ़े माँ बाप की सेवा जरुर करनी चाहिए और उनका आशीर्वाद हमेशा लेना चाहिए

5- मित्रवत व्यवहार

Friendship Behavior

हमारे जीवन में मित्रता के रिश्ते बहुत ही खास होते है क्यू की जब किसी को हम अपना मित्र बनाते है तो हमारे सुख दुःख भी अपने मित्र के साथ जुड़ जाते है इसलिए हमें लोगो के साथ हमेसा मित्रवत व्यव्हार रखना चाहिए क्यू की जब हम किसी को अपना मित्र मानते है तो हम उसका कभी अहित नही करना चाहते,

“एक सच्चा मित्र होना हजार लोगो के होने के बराबर है”        

इसलिए जब हम किसी के साथ रहे उसके साथ दोस्ती का भाव रखे और और उसके सुखदुख में हमेसा काम आये तो निश्चित ही हमारे साथ भी लोग अच्छे और मित्रता का भाव रखेगे

6- बदले की भावना से मुक्त हो

Always with Love Life

अक्सर देखा जाता है की जब लोग थोडा सा भी हमारे साथ गलत व्यव्हार से पेश आते है तो हम उन्हें उनकी गलतियों को माफ़ करने के बजाय उनसे बदला लेने की भावना से भर जाते है और यही बदले की भावना आगे चलकर हमारी जिन्दगी का हिस्सा बन जाती है छोटी से छोटी बात पर हमे लोगो पर गुस्सा आने लगता है

इसलिए हम यदि अपने गुस्से पर कण्ट्रोल करना सिख ले तो निश्चित ही बड़े से बड़े तनाव से आसानी से मुक्त हो सकते है

“गुस्सा और क्रोध मानव अक्ल को खा जाता है”

जैसा की कहा भी गया है जिसने अपने गुस्से पर काबू पा लिया उसने तो दुनिया के आधे लोगो का ऐसे ही दिल जीत लिया

7- सामाजिक भावना का विस्तार करना

Samajik Jivan

अक्सर हम लोगो के साथ ऐसा भी होता है जब कभी हमारे गली मुहल्ले नगर गाव आदि में कुछ सामाजिक कार्य भी होते है जैसे की पेड़ लगाना , सफाई करना , लोगो को किसी के प्रति जागरूक करना या कभी आपदा जैसी स्थिति हो तो भी हमे मिल जुलकर इसमें सहयोग करना चाहिए क्यू की इससे हमे हमारे अच्छे गुणों का पूरे समाज को पता चलता है और हम सभी लोगो के बीच में एक अच्छे नागरिक बनकर अपनी उपयोगिता साबित कर सकते है

क्यू की सिर्फ अपने मतलब और अपने काम में तो जानवर भी बिजी रहते है लेकिन जब लोग दुसरो के सहयोग में काम आये यही मानव जीवन और एक पशु में विशेष अंतर है

“समाज में रहकर सामाजिक कार्यो में भाग लेना इंसान होने का परिचायक है”

इसलिए हमे जब भी सामाजिक कार्यो में सहयोग करने का मौका मिले हमे तुरन्त बिना किसी बेहिचक के अपना श्रेष्ट देना चाहिए यही एक अच्छे नागरिक की पहचान है

तो आप सबको ये बताई गयी सात अच्छी आदते कैसी लगी प्लीज जरूर बताये

साथ में यह भी पढ़े- 


30 Comments

  1. Thanks you sir
    God bless You
    mujhe ye advice bahut achha laga
    My Name- Shivam pal
    I belong to District – Unnao At Kanpur
    Now Delhi

  2. This is my first comment on your blog although I followed you from last 3 months.
    Needless to say, you have inspired a lot to all the wannabe bloggers out there.
    One thing I love from the most from the blog post is to start with writing on the basics and then jump to intermediate to advanced.

    Yes this is the mistake lots of people do. Even I was in the confusion how to start a blog filled with quality content. This made me clear that I have to start from the basics to help out other bloggers so that I can help my readers and make my blog authoritative. I am just a newbie in this blogging world and I must say I am proud to follow your blog. Thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *