बच्चो को पढ़ाई में मन कैसे लगाये Child Study Tips Hindi

2

Baccho ko Padhayi Study Me Man Lagane Ke Tarike | Children Study Tips Hindi

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के तरीके | बच्चो को पढ़ाई में मन कैसे लगाये | बच्चे पढ़ाई कैसे करे

आजकल हर माता पिता की सबसे बड़ी यही चिंता होती है उनके बच्चे पढाई अच्छे से करे, पढाई में मन लगाकर पढ़े, लेकिन यह जितना सोचना आसान है, उतना आसान है नही, क्युकी आजकल के बच्चे पढ़ाई के अलावा टीवी, मोबाइल या खेलकूद में खुद को ज्यादा व्यस्त रखना पसंद करते है, तो चलिए अपने बच्चो को पढ़ाई में मण कैसे लगाये, बच्चो को पढ़ाई करने के लिए प्रेरित कैसे करे, या ऐसा क्या करे की बच्चे खूब मन लगाकर पढ़ाई करने लगे, इन सब बातो को जानते है, जिससे इन Children Study Tips, Child Study Tips, Kids Study Tips, Child Teaching Tips के जरिये बच्चो को पढ़ाई करने में मन लगवा सकते है.

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के तरीके | बच्चो को पढ़ाई में मन कैसे लगाये

Bachcho Ko Padhayi Me Man Kaise Lagaye | Children Study Tips | Child Study Tips | Kids Study Tips in Hindi | Child Teaching Tips Hindi

Bachcho Ko Padhayi Me Man Kaise Lagayeतो चलिए बच्चो को पढाई में मन लगाने के लिए इन सभी तरीको को अच्छे से जानकर फालो करे तो निश्चित ये छोटे प्यारे बच्चे पढाई में मन लगाना शुरू कर सकते है.

1 – बच्चो को टीवी मोबाइल से दूर रखे –

ये सभी माता पिता जानते है की टीवी और मोबाइल की वजह से उनके बच्चे पढाई की तुलना में यहा ज्यादा ध्यान लगाते है, ऐसे में हर माँ बाप का यह कर्तव्य बन जाता है, की वह अपने बच्चो की पढाई के साथ साथ टीवी और मोबाइल के लिए भी समय फिक्स कर दे,

क्युकी अगर आप चाहे तो अचानक से आपका बच्चा पूरी तरह से टीवी और मोबाइल से दूर नही रह सकता है तो ऐसे में बच्चो की पढाई के साथ साथ टीवी देखने और मोबाइल चलाने और खेलने कूदने के लिए एक समय निर्धारित कर दे, और रोज ध्यान भी दे की आपका बच्चा उस समय को फालो कर रहा है, या नही

अगर आपका बच्चा सभी समय को सही से नही पालन कर रहा है तो उनको बता सकते है की अगर व पढाई के टाइम पढाई नही करेगे तो टीवी और मोबाइल भी नही नही मिलेगा, जिससे धीरे धीरे आपका बच्चा आपके बनाये हुए टाइम टेबल को फालो करना शुरू कर देता है.

2 – पढ़ाई के लिए ध्यान केन्द्रित करना

बच्चो की पढाई के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण बात है को पढाई करते समय बच्चा सिर्फ पढाई ही करे, और कोई इसके अलावा काम नही करे, जैसे अक्सर देखा जाता है, की सामने टीवी चल रहा होता है और वही बच्चे पढ़ाई भी कर रहे होते है, ऐसे में उस बच्चे का पढाई में ध्यान केन्द्रित नही हो पाता है,

सो ऐसा होने से बचने के लिए बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए उनका पढाई का कमरा यानि Study Room अलग होना चाहिए जहा पर बच्चे सिर्फ अपने पढाई में ही ध्यान लगा सके, और यदि आपका घर बड़ा भी नही है तो ऐसे में बच्चो के पढ़ाई के समय टीवी, मोबाइल बंद करके दे, जिससे आपका बच्चा का ध्यान सिर्फ पढ़ाई पर ही केन्द्रित कर सकते है.

3 – पढाई के प्रति बच्चो को प्रेरित करे

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए उनको पढने के प्रति प्रेरित कर सकते है, जिसके लिए आप उन्हें बड़े बड़े महापुरुषों के बारे में बता सकते है, जो की लोग पढ़ लिखकर कितने महान आदमी बने, अगर वे भी ऐसा करते है, तो एक दिन वे भी बहुत महान इन्सान बन सकते है, बच्चो को हमेसा पढ़ाई के लिए प्रेरित करते रहना चाहिए.

4 – पढाई करने के फायदे बताये

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए उन्हें पढ़ाई करने के फायदे बताये, मान लीजिये यदि आपके बच्चे को डॉक्टर, वकील या अन्य किसी भी में ज्यादा रूचि हो तो उन्हें इस बात से अवगत कराये की अगर वे अच्छे से पढाई करते है तो निश्चित ही वे भी वैसा बन सकते है,

इसके अलावा पढ़ने केकई अनेक फायदे है, उन फायदों को अपने बच्चो को अच्छे से बताये जिससे की आपके बच्चे को पढ़ाई के फायदे जानकर पढाई में रूचि लेना शुरू कर सकता है.

5 – पढ़ाई करने के अच्छे अच्छे तरीके फालो करे

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए अनेक तरीके हो सकते है, जरुरी नही बच्चे को हमेसा किताबो के जरिये ही पढ़ाया जा सकता है, किताबी ज्ञान के अलावा उन्हें भौतिक ज्ञान से भी अवगत कराया जा सकता है, जो चीजे बच्चे किताबो में देखते है, उन्हें अपने आँखों के सामने देखकर वे चीजे बहुत जल्दी से याद कर लेते है,

तो ऐसे में बच्चो को पढ़ाने के तरीको में टीवी शिक्षा चैनल, मोबाइल में Study Video के जरिये बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के तरीको को भी उपयोग कर सकते है.

6 – बच्चो को सोचने समझने के तरीके को विकसित करे

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए उन्हें खुद से सोचने के लिए प्रेरित करना चाहिए, बच्चो को बार बार प्रश्न पूछने जानने के लिए प्रेरित करते रहना चाहिए. जिससे आपका बच्चा जब खुद सोचना समझना शुरू कर देता है, तो आगे चलकर खुद से क्या करना है, निर्णय ले सकता है.

7 – पढ़ाई करना मनोरंजक कार्य बनाये

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए पढाई के तरीको को मनोरंजक तरीके से भी बच्चो में पढाई के प्रति रूचि ला सकते है, जिसके लिए बच्चो को गेम, खेलकूद पढाई के बेसिक चीजे जिसे गिनती पहाड़ा, जोड़ घटाना, गुणा भाग, रंगो की पहचान, दिनों के नाम, घड़ी देखना, जैसे जरुरी चीजो को आसानी से सीखा सकते है. और इन तरीको से बोर लगने वाली पढ़ाई को मनोरंजक बना सकते है.

8 – बच्चो को अनावश्यक प्रेशर नही बनाये

अक्सर देखा जाता है की हर माँ बाप का यही सपना होता है की उनका बच्चा पढ़ लिखकर उनके जैसा बने, जिस कारण से वे अपने छोटे छोटे बच्चो के ऊपर पढाई करने के लिए बार बार अनावश्यक दबाव बनाते है, जिस कारण से बच्चे प्रेशर में आ जाते है, और फिर उन्हें पढ़ाई से डर लगने लगता है या फिर उनका पढाई में मन नही लगता है.

तो ऐसे में माँ बाप को देखना चाहिए की उनका बच्चा किस चीज पर ज्यादा ध्यान लगाता है, फिर उस हिसाब से बच्चो को उसी फिल्ड की पढ़ाई के लिए प्रेरित करना चाहिए, जिससे बच्चो के दिमाग के ऊपर अनावश्यक दबाव नही बनता है, और फिर यही बच्चे अपने मन और रूचि के हिसाब से पढाई में मन लगाना शुरू कर देते है.

9 – बच्चो के साथ बच्चे बनकर रहे

बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए यह बहुत जरुरी चीज है, आजकल के भागमभाग और दौड़धुप भरी जिन्दगी में हर माँ बाप के पास इतना टाइम नही होता है की वे बच्चो के साथ ज्यादा समय दे सके, सो इसके लिए हर माता पिता को बच्चो के साथ पढाई करने और समय बिताने के लिए दिन में एक समय जरुर फिक्स करना चाहिए, और उनके साथ बच्चे जैसा व्यवहार करके उनके मन की बातो को जाननी चाहिए.

जिससे आपके बच्चे क्या करना चाहते है, या क्या चाहते है आप उन्हें जान सकते है, फिर इस तरह एक दुसरे के बीच विश्वास भी बढ़ता है, फिर यही बच्चे आपका कहना मानकर पढाई में भी मन लगाना शुरू कर देते है.

10 – बच्चो की रूचि जाने

हर माता पिता की यही इच्छा होती है की उनके बच्चे उनकी तरह बने, लेकिन आपका बच्चे क्या चाहते है ये भी जानना बहुत जरुरी है, मान लीजिये आप सोच रहे है की आपका बच्चा बड़ा होकर डॉक्टर बने, लेकिन आपका चाहता है बड़ा होकर इंजीनियर बने तो फिर कभी वह बच्चा जबरदस्ती डॉक्टर की पढाई कर ले भी तो उस फिल्ड में सफल नही पाता है, इसलिए बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए सबसे पहले उनकी रूचि को जरुर जाने, तभी आपका बच्चा अपनी रूचि के अनुसार पढ़ाई में मन लगाकर पढाई कर सकता है.

तो अगर आप भी अपने बच्चो को बच्चो को पढ़ाई में मन लगाने के लिए इन तरीको को फालो करते है तो निश्चित ही आपको भी इससे फायदे मिल सकते है.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here