बच्चों की देखभाल और परवरिश कैसे करें Child Care Successful Tips

0

Good Parenting Tips for Child Care in Hindi | Bacho Ki Dekhbhal Parvarish Kaise Kare 

बच्चों की देखभाल, पालन पोषण और परवरिश कैसे करें

हर माता पिता अपने बच्चो को देखभाल और अच्छे से परिवेश को लेकर प्राय चिंता बनी रहती है, ऐसे में इस पोस्ट में बच्चों की देखभाल और परवरिश कैसे करें आपको अपने बच्चो की देखभाल कैसे करना है उनकी पालन पोषण परिवरिश कैसे करना है, इसके बारे में बताने जा रहे है. तो चलिए बच्चों की देखभाल और परवरिश कैसे करें इसके बारे में जानते है, जिसके जरिये आप भी अपने बच्चो की देखभाल और परवरिश खूब अच्छे तरीके से कर सकते है.

बच्चों की देखभाल और परवरिश कैसे करें

Bacho Ki Dekhbhal Parvarish Kaise Kare | Child Care Parenting Tips in Hindi

Bacho Ki Dekhbhal Parvarish Kaise Kareहर माता पिता को अपने बच्चो की देखभाल के लिए इन बातो को फालो करना चाहिए, ताकि वे अपने बच्चो को देखभाल और परिवरिश अच्छे से कर सके.

1 – खुद खुश रहे, बच्चे खुश रहेगे

2 – बच्चो को रिश्तो की अहमियत बताये

3 – आस पास के अच्छे माहौल में बच्चो को रखना

4 – बच्चो को पढ़ाई के लिए प्रेरित करना

5 – बच्चो का मनोबल बढ़ाये

6 – बच्चो के लिए समय निकाले

7 – बच्चो को आशावादी बनाये

8 – गलतियों से सिखाते रहना

9 – हमेसा प्रेरित करते रहना

10 – बच्चो को नैतिक शिक्षा, अन्य जरुरी आदते बताये

बच्चों की देखभाल और परवरिश करने के अच्छे तरीके

Bacho Ki Dekhbhal Parvarish Ke Tarike 

1 – खुद खुश रहे, बच्चे खुश रहेगे  

ये सभी जानते है की यदि हम को खुशहाल रखते है तो पूरा परिवार खुशहाल रहेगा, जिसके लिए घर में सबसे पहले माता पिता को खुश रहना चाहिए, क्युकी बहुत से घरो में पति पत्नी में आपस में खूब लड़ाई होती रहती है, जिसका दुष्प्रभाव बच्चो के ऊपर भी देखने को मिलता है, इसलिए बच्चे की सोच चिड़चिड़ा हो जाता है, सो इन सब से बचने के लिए माता पिता को पहले खुद खुश रहना चाहिए, जिस कारण से उनके बच्चे भी खुशहाल रहेगे.

2 – बच्चो को रिश्तो की अहमियत बताये

हम सबका परिवार रिश्तो की डोर में बधा रहता है, जिस कारण से इन्ही रिश्तो की अहमियत से पूरा परिवार खुशहाल रहता है, परिवार में सभी एक दुसरे की कद्र और आपस में प्यार से मिल-जुलकर रहते है, इसलिए बच्चो को भी बडो का आदर करना और उन्हें रिश्तो की अहमियत बताते रहना चाहिये, जिस कारण से आपका बच्चा सभी लोगो का आदर सम्मान करता है.

3 – आस पास के अच्छे माहौल में बच्चो को रखना

हर माता पिता को यह ख्याल रखना चाहिए, की उनका बच्चा जहा रहता है, वहा के आस पास का माहौल शांति और खुशुनुमा होना चाहिए, यदि आप ऐसे जगह रहते है, जहा के लोग आपस में लड़ते, झगड़ते रहते है, वहा के बच्चे अक्सर बिगडैल स्वभाव के हो जाते है, और गलत बातो को बहुत जल्दी से सीख जाते है,

इसलिए बच्चो की अच्छे से परवरिश के लिए उन्हें अच्छे माहौल में रखना जरुरी होता है.

4 – बच्चो को पढ़ाई के लिए प्रेरित करना

बच्चो को अच्छा बनाने के लिए उन्हें हमेसा पढाई के लिए प्रेरित करते रहना चाहिए, उन्हें प्रेरित करने के लिए महापुरुषों की जीवनी, उनके बताये रास्तो को बच्चो को अनुसरण कराना चाहिए, उन्हें बताना चाहिए की किस तरह बड़े बड़े महान लोगो ने अपने शुरूआती जीवन में कितना संघर्ष किया था, फिर अपने पढ़ाई और मेहनत के दम पर वे महान पुरुष बने, ऐसी बातो से बच्चो को प्रेरणा मिलती है, और फिर उन्हें वे अपना आदर्श मानते है और पढ़ाई करने के लिए प्रेरित भी होता है.

बच्चों में मोबाइल के 10 साइड इफ़ेक्ट Bad Effect of Mobile Phone on Children Essay

5 – बच्चो का मनोबल बढ़ाये

बच्चो को आगे बढ़ने के लिए उनका मनोबल बढ़ाते रहना चाहिए, उन्हें यह विश्वास दिलाना चाहिए की वे ही अच्छे काम कर सकते है, और अच्छे बातो को करने से उनका ही चारो तरफ नाम होगा, ऐसा करने से बच्चो का मनोबल बढ़ता है, और वे अच्छे कार्यो के प्रति करने को जागरूक होते है.

6 – बच्चो के लिए समय निकाले

हर माता पिता के लिए अपने बच्चो के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण है की वे अपने बच्चो के लिए समय निकाले, अक्सर इस व्यस्त भरी जिन्दगी में माता पिता अपने बच्चो के लिए पर्याप्त समय नही दे पाते है, जिस कारण से उनका बच्चा खुद को अकेला महसूस करने लगता है, और उन बच्चो में माता पिता के प्रति गलत धारणा बन जाती है, और खुद हीन भावना से ग्रसित हो जाते है,

सो ऐसे में हर माता पिता का कर्तव्य होता है, की वे अपने बच्चो की अच्छे से परवरिश के लिए बच्चो को पर्याप्त समय देना चाहिए.

7 – बच्चो को आशावादी बनाये

बच्चो को आगे क्या होगा, उसके लिए हमेसा आशावादी बनाना चाहिए, यदि बच्चे अपने भविष्य के प्रति आशावान होते है, तो निश्चित ही वर्तमान में अच्छा कार्य करते है, जिस कारण से बच्चे पढाई में मन लगाकर पढ़ते है, और भविष्य में कुछ बनने के लिए आशावादी बनते है.

8 – गलतियों से सिखाते रहना

हर माता पिता को चाहिए की वे अपने बच्चो को गलतियों से सीख लेने की प्रेरणा दे, जिससे बच्चे यदि कोई गलती भी कर दे, तो उनसे सीख लेकर आगे फिर वे गलती नही करेगे,

9 – हमेसा प्रेरित करते रहना

बच्चे हमेसा कुछ नया करना चाहते है, ऐसे में बच्चो को हमेसा कुछ नया करने के लिए प्रेरित भी करते रहना चाहिए, और उन्हें यह विश्वास दिलाना चाहिए, की वे अच्छे कार्य कर सकते है, जिनसे वे प्रेरित होते है.

बच्चो की 7 बाल कहानिया बड़ो को सीख Kids Stories Hindi Baccho ki Kahani

10 – बच्चो को नैतिक शिक्षा, अन्य जरुरी आदते बताये

बच्चो को नैतिक शिक्षा का ज्ञान देना चाहिए और अच्छी आदतों के लिए प्रेरित करते रहना चाहिए, यदि बच्चे अच्छी आदते सीखते है तो निश्चित ही वे हमेसा अच्छा ही करते है, और उनका व्यवहार भी लोगो के प्रति हमेसा अच्छा बना रहता है, इसलिए बच्चो को हमेसा अच्छे कार्यो, अच्छी आदतों को करने के लिए सिखाना चाहिए.

तो यदि माता पिता अपने बच्चों की देखभाल और परवरिश के लिए चिंतित है तो इन बताये गये अच्छी बातो के जरिये वे अपने बच्चो की देखभाल और परवरिश अच्छे से कर सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here