मुर्ख बन्दर की कहानी Short Inspirational Stories with Moral in Hindi

0

Short Inspirational Stories in Hindi – ये सच ही कहा गया है की किसी मुर्ख को ज्ञान देना अपना समय बर्बाद करना होता है और कभी भी अपने से शक्तिशाली मुर्ख को यदि ज्ञान देते है तो निश्चित ही वह मुर्ख आपका अहितकर कर सकता है इसलिए बिना सोचे समझे कभी भी किसी मुर्ख से ज्ञान की बाते नही करना चाहिए, तो चलिए मुर्ख बन्दर की कहानी | Bandar ki kahani से इस शिक्षा को जानते है.

मुर्ख बन्दर की कहानी Inspirational Stories with Moral in Hindi

Murkh Bandar Ki Kahani – एक बार की बात है एक भयंकर सर्द वाली बरसात की ठंडी और खामोश रात थी। मौसम में ठण्ड थी। किसी जंगल में एक पेड़ पर बंदरों का समूह था। वे इसकी शाखाओं से चिपके हुए थे। बंदरों में से एक ने कहा, “काश हम कुछ आग पा सकते। यह हमें गर्म रखने में मदद करेगा।”

बन्दर की कहानी Bandar ki kahani

अचानक उन्हें जुगनू का झुंड दिखाई दिया। युवा बंदरों में से एक ने सोचा कि यह आग थी। उसने एक जुगनू पकड़ा। उसने एक सूखे पत्ते के नीचे रख दिया और उस पर उड़ने लगा। उनके प्रयासों में कुछ अन्य बंदर भी शामिल हुए।

The Foolish Monkey Short Inspirational Stories with Moral in Hindiइस बीच एक गौरैया अपने घोंसले के पास उड़ती हुई आई, जो उसी पेड़ पर थी जिस पर बंदर बैठे थे। उसने देखा कि वे क्या कर रहे थे। गौरैया हँस पड़ी। उसने कहा, “अरे मूर्ख बंदर जो जुगनू हैं, असली आग नहीं। मुझे लगता है कि आप सभी को एक गुफा में शरण लेनी चाहिए, यहाँ तक की आप लोगो के पास तो हाथ पाँव भी है चाहे तो ठंडी और बरसात से बचने के लिए खुद का अपना घर बना सकते है ।”

बन्दर की कहानी Bandar ki kahani

बंदरों ने गौरैया की बात नहीं सुनी, और वे जुगनू को पकड़ते रहे।

कुछ समय बाद बंदर बहुत थक गए। अब उन्हें एहसास हुआ कि गौरैया ने जो कहा था वह सही था। उन्होंने जुगनू को आज़ाद कर दिया, और गुस्से से गौरेया के घोसले के पास आये और उनका घोसला उजाड़ दिया और यह कहते हुए गुफा में चले गए की तुम्हारे पास इतनी ही ज्ञान है तो फिर से अपना नया घर बना लेना, हमे तुम्हारे ज्ञान की जरूरत नही है.

कहानी से शिक्षा :- इस कहानी ए हमे यही शिक्षा मिलती है की कभी की किसी को मुर्ख को ज्ञान देना अपने लिए मुसीबत मोल लेना होता है इसलिए कभी भी किसी मुर्ख को अच्छी बाते बोलने से पहले एक बार सोच विचार जरुर कर लेना चाहिए.

और भी Moral Story पढ़े :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here