हिंदी भाषा पर निबन्ध और हिंदी का महत्व

किसी भी राष्ट्र की पहचान उसके भाषा और उसके संस्कृति से होती है और पूरे विश्व में हर देश की एक अपनी भाषा और अपनी एक संस्कृति है जिसे छाव में उस देश के लोग पले बड़े होते है यदि कोई देश अपनी मूल भाषा को छोड़कर दुसरे देश की भाषा पर आश्रित होता है उसे सांस्कृतिक रूप से गुलाम माना जाता है,

क्यूकी जिस भाषा को लोग अपने पैदा होने से लेकर अपने जीवन भर बोलते है लेकिन आधिकारिक रूप से दुसरे भाषा पर निर्भर रहना पड़े तो कही न कही उस देश के विकास में उस देश की अपनाई गयी भाषा ही सबसे बड़ी बाधक बनती है क्यूकी आप कल्पना कर सकते है जिस भाषा अपने बचपन से बोलते है और उसी भाषा में अपने सारे कार्य करने पढ़े तो आपको आगे बढने में ज्यादा परेशानी नही होगी लेकिन यदि आप जो बोलते है उसे छोड़कर कोई दूसरी भाषा में आपको कार्य करना पड़े तो कही न कही यही दूसरी भाषा हमारे विकास में बाधक जरुर बनती है,

यानी हमे दुसरो की भाषा सीखने का मौका मिले तो यह अच्छी बात है लेकिन दुसरो की भाषा के चलते अपनी मातृभाषा को छोड़ना पड़े तो कही न कही दिक्कत का सामना जरुर करना पड़ता है तो ऐसे में आज हम बात करते है अपने देश भारत के राजभाषा हिंदी के बारे में जो हमारी मातृभाषा भी है और हमे इसे बोलने में फक्र महसूस करना चाहिए.

विश्व भाषा के रूप में हिंदी Essay | हमारी राष्ट्रभाषा हिंदी पर निबन्ध | हिंदी का महत्व | हिंदी भाषा पर विशेष जानकारी

Essay On Hindi | Hindi Ka Mahatva | Essay On Hindi Language | Hindi Ka Mahatva | Hindi Bhasha Ka Mahatva

हमारे देश की मूल भाषा हिंदी है लेकिन भारत में अंग्रेजो की गुलामी के बाद हमारे देश के भाषा पर भी अंग्रेजी भाषा का आधिपत्य हुआ भारत देश तो आजाद हो गया लेकिन हिंदी भाषा पर अंग्रेजी भाषा का आज भी आधिपत्य आज तक कायम है अक्सर अपने देश के लोग के मुह से यह कहते हुए सुना जाता है की हमारी हिंदी थोड़ी कमजोर है ऐसा कहने का तात्पर्य यही होता है की उनकी अंगेजी भाषा हिंदी के मुकाबले काफी अच्छी है और यदि भूल से यह कह दे की हमारी अंग्रेजी कमजोर है तो उसे लोग कम पढ़ा लिखा मान लेते है क्या यह सही है किसी भाषा पर अगर हमारी अच्छी पकड न हो तो क्या इसे अनपढ़ मान लिया जाय शायद ऐसा होना हमारे देश की विडम्बना है,

लेकिन आईये आज आप सभी को हिंदी भाषा के बारे में कुछ ऐसे महत्वपूर्ण तथ्य बतलाते है जिसे आप सभी जानकर जरुर गर्व महसूस करेगे.

हिंदी भाषा के महत्वपूर्ण तथ्य | हिंदी का महत्व

Interesting Facts of Hindi | Hindi Ka Mahatva

Interesting Facts of Hindi

भले ही आज हमारी सारी पढाई लिखाई और सारे कार्य अंग्रेजी में होता है लेकिन भारत के लोग की मूलभाषा हिंदी है और आप भारत के किसी भी कोने में चले जाईये अगर आपको हिंदी आता है तो आपको रहने कार्य करने में कोई परेशानी नही होगी और हिंदी एक ऐसी भाषा है जो पूरे भारत को एकता में जोड़ता है तो आईये जानते है हिंदी भाषा से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य | Interesting Facts about Hindi और हमारे देश में हिंदी का महत्व | Hindi Ka Mahatva के बारे में जानते है.

पितृ विसर्जन अमावस्या पूजा विधि तारीख उपाय और महत्व Pitra Visarjan Amavasya Puja Vidhi Date Upay Mahatav

1 – हिंदी शब्द की उत्पत्ति संस्कृत भाषा के सिन्धु शब्द से हुई है सिन्धु नदी के क्षेत्र में आने कारण ईरानी लोग सिन्धु न कहकर हिन्दू कहने लगे जिसके कारण यहाँ के लोग हिन्द, हिन्दू और हिंदुस्तान कहलाने लगे

2 – हिंदी भारत की सवैंधानिक राजभाषा है जिसे 14 सितम्बर 1949 को अधिकारिक रूप से राष्ट्रभाषा का दर्जा दिया गया

3 – भारत में अनेक भाषा और बोलिया बोली जाती है हमारे देश में इतनी भाषाए है की ये कहावत कही गयी है

“ कोस कोस पर बदले पानी और चार कोस पर वानी ”

अर्थात हमारे देश भारत में हर एक कोस की दुरी पर पानी का स्वाद बदल जाता है और 4 कोस पर भाषा यानि वाणी भी बदल जाती है लेकिन इन सभी भाषाओ में सबसे अधिक भाषा बोले जाने वाली हिंदी है.

4 – हिंदी विश्व की चीनी भाषा के बाद दूसरी सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा है हिंदी हमारे देश भारत के अतिरिक्त पाकिस्तान, फिजी, मारिसस, गयाना, सूरीनाम और नेपाल में सबसे अधिक हिंदी भाषा बोली जाती है.

5 – हिंदी भाषा भारत के अतिरिक्त जहा जहा प्रवासी भारतीय रहते है उनमे भी अधिक संख्या में हिंदी बोली जाती है जैसे अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, यमन, कनाडा, युंगाडा, सिंगापूर, न्यूजीलैंड, जर्मनी, ब्रिटेन के अतिरिक्त बहुत से देशो में बोली जाती है.

6 – विश्व के सबसे उन्नत भाषाओ में हिंदी भाषा सबसे अधिक व्यवस्थित भाषा है अर्थात हम जो हिंदी में लिखते है वही बोलते भी है और वही उसका मतलब भी होता है जबकि अन्य भाषाओ में ऐसा नही है.

7 – हिंदी भाषा बोलने में ससे अधिक सरल और लचीली भाषा है हिंदी भाषा को बोलना और समझना बहुत ही आसन है.

8 – दुनिया की एकमात्र हिंदी ही एक ऐसी भाषा है जो की सबसे अधिक और तेजी से प्रसारित होने वाली भाषाओ में से एक है हिंदी भाषा के बोले जाने में लगभग 94% की दर से वृद्धि हो रही है जो की हिंदी बोलने वालो के लिए एक अच्छीखबर है.

9 – हिंदी भाषा एक ऐसी भाषा है जिसमे त्रुटी न के बराबर है अर्थात हिंदी भाषा जो लिखी जाती है वही बोली भी जाती है.

10 – हिंदी भाषा का शब्दकोश बहुत ही बड़ा है हिंदी भाषा में अपनी किसी भी एक भावना को व्यक्त करने के लिए अनेक शब्द है जो की अन्य भाषाओ की तुलना में अपने आप में अद्भुत है.

11 – हिंदी भाषा को लिखने के लिए देवनागरी लिपि का प्रयोग किया जाता है जो की हिंदी भाषा वैज्ञानिक तथ्यों पर खरी उतरती है.

12 – हिंदी भाषा के मूल शब्दों में लगभग ढाई लाख से अधिक शब्द है और हिंदी भाषा की यह भी विशेषता है की देशी और बोले जाने वाली बोलियों के शब्दों को अपने आप में आत्मसात कर लेती है.

13 – हिंदी भाषा अपने आप में इतनी महत्वपूर्ण है की हिंदी की सभी साहित्य सभी दृष्टियों से परिपूर्ण है.

14 – हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए कई बार आन्दोलन हो चुके है सबसे पहले दयानंद सरस्वती ने किया था जिसे बाद में महात्मा गांधीजी ने भी आन्दोलन चलाये.

 

15 – कंप्यूटर और मोबाइल के आ जाने के बाद पूरे विश्व में सुचना क्रांति आ गयी और लोग घर बैठे इन्टरनेट पर विश्व की कही भी जानकारी प्राप्त कर लेते है जिसके कारण कंप्यूटर क्रांति में भी हिंदी का तेजी से प्रचार और प्रसार हो रहा है.

16 – हिंदी भाषा का इतना अधिक मांग है की दुनिया के सबसे बड़े Search Engine Google ने भी वर्ष 2009 में हिंदी भाषा को अपना लिया और हिंदी की लोकप्रियता इतनी अधिक है की दुसरे भाषा के मुकाबले हिंदी 94% की वृद्धि दर से सबसे आगे बढने वाली भाषा है जिसे गूगल भी मानता है.

17 – हिंदी भाषा इन्टरनेट की दुनिया में इतनी तेजी से बढ़ा है की इन्टरनेट पर लाखो सजाल ( Website) चिट्ठे (Blogs), गपशप (Chats), विपत्र (Email), वेबखोज (Search Engine), मोबाइल सन्देश (SMS) , अनेक प्रकार के हिंदी मोबाइल एप्प मौजूद है.

18 – एक समय ऐसा सोचा जाता था की कंप्यूटर और इन्टरनेट केवल अंग्रेजी भाषाओ के लिए है लेकीन हिंदी भाषा की इतनी अधिक मांग है की अब हर जगह इन्टरनेट पर हिंदी भाषा के रूप में कुछ भी Search कर सकते है और कोई भी जानकरी हिंदी में भी प्राप्त कर सकते है.

19 – हिंदी भाषा का हिंदी सिनेमा पर भी खास प्रभाव है पूरे भारत में हिंदी सिनेमा लोगो के दिलो की धड़कन है और हिंदी गाने तो लोगो के दिल को सुकून देने वाली होती है.

हिन्दी दिवस पर अनमोल विचार सुविचार कोट्स Hindi Diwas Anmol Vichar Suvichar Quotes

20 – हिंदी भाषा इतनी अधिक प्रसिद्द है कोई भी Social Network Site बिना हिंदी को अपनाये आगे तरक्की नही पा सकता है इसका जीता जागता उदाहरण Facebook है और यहाँ तक की गूगल खुद ऑनलाइन हिंदी टाइपिंग के लिए Google Hindi Typing Tool सेवा प्रदान करता है.

हिंदी भाषा का महत्व | विश्व भाषा के रूप में हिंदी essay महत्व

Hindi Ka Mahatva | Hindi Bhasha ka Mahatva in Hindi

हमारे देश भारत की मुख्य भाषा हिंदी है बिना हिंदी के हम कोई भी अपनी दिनचर्या नही बिता सकते है लेकिन आज भी हमारे देश में अंग्रेजी भाषा का आधिपत्य है जो हमारी भाषा हिंदी को सम्मान मिलना चाहिए शायद वो आज तक अभी नही मिला है लेकिन बिना हिंदी के हम अपने विकास की कल्पना नही कर सकते है.

हिंदी भाषा के प्रचार प्रसार के लिए भारतेंदु हरीशचन्द्र के योगदान को भुलाया नही जा सकता है और सौभाग्य में हमे भी भारतेंदु हरीशचन्द्र के वाराणसी में स्थित हरीशचन्द्र कॉलेज में इंटर की पढाई करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ . हिंदी भाषा का महत्व भारतेंदु हरीशचन्द्र के इस कथन से लगाया जा सकता है.

निज भाषा उन्नति अहै, सब उन्नति को मूल।

बिन निज भाषा-ज्ञान के, मिटत न हिय को सूल।।

विविध कला शिक्षा अमित, ज्ञान अनेक प्रकार।

सब देसन से लै करहू, भाषा माहि प्रचार।।

शब्दार्थ –

निज यानी अपनी मूल भाषा से ही उन्नति सम्भव है, क्योंकि यही सारी हमारी मूल भाषा ही सभी उन्नतियों का मूलाधार है।  और मातृभाषा के ज्ञान के बिना हृदय की पीड़ा का निवारण सम्भव नहीं है।
हमे विभिन्न प्रकार की कलाएँ, असीमित शिक्षा तथा अनेक प्रकार का ज्ञान सभी देशों से जरूर लेने चाहिये, परन्तु उनका प्रचार मातृभाषा में ही करना चाहिये.

हिन्दी दिवस के 100 नारे स्लोगन Hindi Diwas Naare Slogan in Hindi

हिंदी भाषा का इतना अधिक महत्व है की बिना हिंदी को इन्टरनेट से जोड़े लोगो को इन्टरनेट से नही जोड़ सकते है और जब कोई भी काम अपने भाषा में हो तो यह लोगो को जल्दी समझ में आती है इसी कारण अब इन्टरनेट की दुनिया भी हिंदी को अपनी अधिकारिक भाषा के रूप में अपना लिया है जिससे हर भारतीय अब आसानी से इन्टरनेट से जुड़ सकता है.

सही अर्थो में कहा जाय तो अगर हम अपने मूलभाषा हिंदी का प्रचार प्रसार करे तो निश्चित ही विविधता वाले भारत को अपनी हिंदी भाषा के माध्यम से एकता मे जोड़ा सकता है.

हिंदी के महत्व को देखते हुए प्रत्येक 14 सितम्बर को हिंदी दिवस | Hindi Diwas के रूप में मान्य जाता है हिंदी दिवस एक ऐसा अवसर होता है जिसके माध्यम से सभी भारतीयों को एकता के सूत्र में बाधा जा सकता है.

तो आईये हम सब लोगो को अधिक से अधिक हिंदी भाषा के महत्व को समझाए और पूरे विश्व में हिंदी भाषा को उचित सम्मान दिलाये और खुद एक हिन्दीभाषी बने.

हिन्दी दिवस की शुभकामनाए Hindi Diwas Shubhkamnaye Wishes

तो आप सभी को Essay on Hindi Language | Hindi ka Mahatva Essay कैसा लगा प्लीज अपने विचारो को कमेंट बॉक्स में जरुर बताये.

4.8/5 - (113 votes)

12 Comments

  1. I don’t know hindi… I thought I could find something easily from this web, but it was too difficult for me to find full stops from this, so I have a suggestion, please add full stops when you write a paragraph or an essay…. please.

      1. आयन इन्टरनेट अभी भी अंग्रेजी ही समझता है सो कुछ शब्द अग्रेजी के उपयोग करने पड़ते है

    1. Yah nibandh bahut hi sundar ek ek cheej ko spasht kiya bahut sundar lekin isme vakya mein misprint hai, Thank You,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button