विश्वास और भरोसे की Kahani

0

आज हम सब बात करेगे की हम सभी दुसरो पर कितना जल्दी विश्वास कर लेते है वो भी बिना सोचे समझे, ये हमारी सबसे बड़ी आदत होती है यदि कही कोई घटना होती है तो लोग बिना सोचे समझे सभी अपना तर्क लगाने लगते है और हर कोई अपने आप कुछ भी सोचकर उस घटना के बारे में बात करने लगता है लेकिन सच्चाई से कोई वाकिफ नही होना चाहता या असली सच्चाई क्या है इसे पता करने की कोई भी जल्द कोशिश नही करता है ऐसा हम सभी के साथ होता है

दोस्तों दुसरो पर विश्वास करना अच्छी बात है क्यू की हम सभी जानते है विश्वास पर ये दुनिया टिकी हुई है लेकिन क्या जिस पर हम विश्वास करते है क्या वो 100% सही है इस पर हमे जरुर सोचना चाहिए क्यू की जब हम खुद से सोचना बंद कर देते है और दुसरो के बताये हुए रास्ते पर आख बंद कर चलने लगते है तो निश्चित ही हमे कभी न कभी नुकसान उठाना पड़ सकता है जो की कोई भी ऐसा अपने साथ नही होना चाहेगा

तो आप सबको हम एक छोटी सी कहानी बता रहा हु जिस पर आप जरुर ध्यान दीजियेगा हो सकता है ये आप कहानी सुने हो लेकिन अगर फिर से सुनने को मिले तो कोई बात नही शायद हमे सीख भी मिल सकती है.

विश्वास की Kahani

एक समय की बात है एक जंगल में एक खरगोश पेड़ की छाया में आराम से लेट कर गहरी नीद में सोया हुआ था मौसम सुहावना था और बारिश का मौसम भी शुरू हो चुका था और खूब तेज हवाए भी चल रही थी की अचानक से बहुत तेजी से कुछ गिरने का आवाज़ हुआ

आवाज़ काफी भयंकर थी जिसके चलते खरगोश जो की बहुत ही गहरी नीद में सोया था अचानक की तेज से आवाज़ से उसकी नीद खुल गयी और वह डर के तेजी से जंगल में भागने लगा

उसके भागने से कई उसको देखने लगे और सबने पूछा की क्या हुआ तो उसने कहा की भागो असमान गिर रहा है तो सभी डर से उसके पीछे पीछे भागने लगे

और सब आसमान गिर रहा है चिल्लाते हुए भागने लगे जिसके चलते जंगल के बाकी जानवर भी सब भागने लगे और सब भागते हुए जंगल के राजा शेर के पास पहुचे तो शेर ने पूछा भाई सब लोग कहा भागे जा रहे हो तो किसी ने कहा की आसमान गिर रहा है सो आप आप हमारी रक्षा कीजिये और आप भी भागिये

तो शेर जो की काफी बुद्धिमान था पूछा कहा आसमान गिर रहा है हमे बताओ और किसी ने देखा तो हमे भी दिखाओ तो सब एक दुसरे से पूछने लगे अंत में खरगोश ने बोला की जब में सो रहा था तभी आसमान गिरा और जहा गिरा वो स्थान मै आपको दिखा सकता हु

तो शेर ने कहा चलो ठीक है हमें वहा ले चलो इसके बाद सभी जानवर शेर के साथ उस स्थान पर गए जहा खरगोश सो रहा था

वहां पहुचने पर सबने देखा की वहा आम का बहुत बड़ा पेड़ था जिसके फल तेज हवा के चले बहुत सारे गिरे पड़े थे तो शेर तुरंत समझ गया और बोला ये देखो तुम सबका आसमान गिरा है तो किसी को विश्वास नही हुआ तभी अचानक फिर से तेज हवा के चलते आम का फल फिर से गिरा जिसके चलते फिर से एक बार बहुत तेज आवाज़ हुआ

तो शेर तुरंत बोल पड़ा देखो यही आसमान गिरा है तो सब हसने लगे और और फिर शेर ने समझाया की देखो विश्वास करना अच्छी बात है लेकिन हम जब कभी भी दुसरो पर विश्वास करे तो एक बार खुद अपने mind से भी सोचे की क्या जिस पर हम विश्वास कर रहे है वो विश्वास करने लायक है तो है न

इसके बाद सबने शेर की बातो को समझ गये फिर से उस जंगल में शांति हो गयी.

कहानी से शिक्षा :-

तो देखा अक्सर हमारे जीवन में हमारे साथ ये अक्सर होता है जब हम कोई भी कार्य करने जा रहे होते है तो हमे सलाह देने वाले तो हजारों लोग होते है और जिन पर हम न चाहते हुए भी कभी कभी विश्वास कर भी लेते है और फिर जिस कार्य को हम करने जा रहे होते है उसे हम आगे से करना छोड़ देते है

जिसके फलस्वरूप हम अपनी जीवन में उस कार्य को फिर कभी दुबारा भी नही करते है क्यू की हमे ये विश्वास दिलाया जाता है की अगर हम उस काम को करेगे तो बहुत ही कठिन मेहनत करना पड़ेगा जो की हम लोग नही कर पायेगे या हम उस कार्य में कभी सफल ही नही हो पायेगे ऐसी तमाम बाते होती है जो की हमे अपनी जीवन में पीछे ले जाती है

हमारे जीवन में ऐसे हजारो उदहारण है जैसे की यदि हम छोटे क्लास से बड़े कॉलेज में Admission लेते है तो हमे अक्सर लोगो से यह जरुर सुनते है हमे science, math या English या अन्य कोई ऐसे subject लेंगे तो हम आगे fail भी हो सकते है या हम उस subject में अच्छे से study नही कर सकते है क्यू की हमे believe दिलाया जाता है की हम उस subject की तुलना में बहुत कमजोर है

या ऐसा भी होता है जब कोई student अपनी college की study को पूरा करते हुए वह IAS , PCS अन्य कोई exam की तैयारी करता है तो बहुत सारे लोग उस student को ये advice जरुर देते है की IAS , PCS  की exam के लिए हमे 18 से 20 घंटे पढने पड़ेगे जो की हम नही कर पायेगे

और student ऐसी advice पाकर वह अपने आपको कमजोर समझने लगता है और फिर वह उस exam की तैयारी करना छोड़ देता है

तो ऐसा करना बिलकुल ही गलत है जरा आप ही सोचिये जो लोग IAS PCS की exam Pass करते है वो भी तो हमारे ही बीच के है जो वो भी अगर दुसरो के कहने पर believe करके खुद को पीछे खीच लेते तो क्या वह कभी भी इस मुकाम पर पहुच पाते शायद कभी नही

लेकिन दोस्तों ऐसे लोग जो success होते है जो सुनते तो सबकी है लेकीन अपने life का aim को कभी पीछे नही छोड़ते है और वे लोग अपने aim को पाने के लिए किसी की भी परवाह नही करते है उन्हें तो सिर्फ अपने work में लगे रहते है तो निश्चित success उन्हें जरुर मिलती है

तो दोस्तों मान लीजिये यदि हम पढने में कमजोर भी है फिर यदि IAS PCS जैसी exam की तैयारी कर भी रहे है तो इसमें हमारा कोई भी नुकसान नही है हो सकता है हम यदि hard level की तैयारी कर रहे है तो इससे नीचे वाली exam को तो आसानी से निकाल सकते है फिर हमे बाद में किसी के आसरे तो नही बैठना पड़ेगा

तो हमारी life को जो भी aim हमने बनाया हो उसे पूरा करने के लिए सिर्फ एक ही मन्त्र है आप दिन रात लगे success जरुर मिलेगी

और यदि हमे इन रास्तो में हमे यदि किसी के believe का सहारा लेना पड़े तो लीजिये believe करना अच्छी बात है लेकिन अपने दिमाग से विश्वास करने से पहले सौ बार सोचिये तब आप कोई भी निर्णय ले वो निश्चित ही आपके success की तरफ ले जायेगा

तो आप सभी को यह प्रेरक कहानी कैसा लगा Comment box में जरुर बताये और इसे शेयर जरुर करे.

इन कहानियो को भी पढ़े :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here