AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Help, General Knowledge, Thoughts, Inpsire Thinking, Important Information & Motivational Ideas To Change Yourself

Anmol Vachan Festival अनमोल वचन

प्रथम आदि देव विघ्नहर्ता गणेश जी की आरती स्तुति

Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi

गणेश जी की आरती स्तुति

हिन्दू धर्म में गणेश जी को प्रथम देवता मन गया है, सो किसी भी शुभ कार्य के शुरुआत से पहले भगवान गणेश जी आरती, वंदना और स्तुति की जाती है, जिससे भगवान श्रीगणेश प्रसन्न होते है, और कार्य पूर्ण होते है,

तो ऐसे में गणेश चतुर्थी के शुभ अवसर पर गणेश चतुर्थी के आरती और स्तुति | Ganesh Ji Aarti in Hindi आप लोगो के लिए शेयर कर रहे है, जिसे आप इस गणेश चतुर्थी के लिए Ganesh Ji Ki Aarti, Ganesh Chaturthi Aarti In Hindi शेयर कर सकते है.

श्री गणेश जी की आरती

Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi 

Ganesh Ji Aarti in Hindi

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

एक दंत दयावंत,
चार भुजा धारी ।
माथे सिंदूर सोहे,
मूसे की सवारी ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

पान चढ़े फल चढ़े,
और चढ़े मेवा ।
लड्डुअन का भोग लगे,
संत करें सेवा ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

अंधन को आंख देत,
कोढ़िन को काया ।
बांझन को पुत्र देत,
निर्धन को माया ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

‘सूर’ श्याम शरण आए,
सफल कीजे सेवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

श्री गणेश जी की स्तुति

Ganesh ji Stuti in hindi

गाइए गणपति जगवंदन।

शंकर सुवन भवानी के नंदन।।

गाइए गणपति जगवंदन……

सिद्धी सदन गजवदन विनायक।

कृपा सिंधु सुंदर सब लायक।।

गाइए गणपति जगवंदन……

मोदक प्रिय मृद मंगल दाता।

विद्या बारिधि बुद्धि विधाता।।

गाइए गणपति जगवंदन……

मांगत तुलसीदास कर जोरे।

बसहिं रामसिय मानस मोरे।।

गाइए गणपति जगवंदन……

इसे भी पढ़े :-

शेयर करे

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *