काल करे सो आज कर पर प्रेरक कहानी Motivational Hindi Kahani


Kal Kare So Aaj kar Motivational Hindi Kahani

आज नही कल से करेगे पर प्रेरक हिन्दी कहानी

राहुल अभी जो की इस साल 12वी क्लास में पंहुचा था पहले के क्लास को आसानी से पास करते हुए इन्टर में आ गया था अब उसे लगने लगा था चलो अब इस साल भी आसानी से परीक्षा के समय पढ़कर पास हो जायेगा

और ऐसा सोचकर हर पढाई में कम ध्यान लगाता था ज्यादा समय खेलकूद, दोस्तों के साथ मस्ती में ही बीतता था जिससे उसके घर वाले भी पढने के लिए बारबार समझाते थे लेकिन राहुल वह अक्सर यही बात बोलता था की वह घर पर भी कल से पक्का पढाई शुरू कर देंगा लेकिन ऐसे कहते हुए न जाने कितने कल बीत गये लेकिन राहुल के कल की पढाई का दिन आता ही नही.

Kal Kare So Aaj karसमय धीरे धीरे बीत रहा था जिससे उसके माता- पिता अब बहुत ही चिंतित रहने लगे, एक दिन की बात है राहुल अपने दोस्तों के साथ घूमते हुए काफी दूर चला गया जहा पर उन्हें एकांत स्थान पर एक अधेड़ उम्र का व्यक्ति बैठा मिला,

जिसे देखकर राहुल और उसके दोस्त उस व्यक्ति के पास गये और और उनके बारे में पूछने लगे तो उस व्यक्ति ने राहुल से पूछा बेटा तुम क्या करते हो तो राहुल बोला “मै तो पढता हु आप क्या करते है बाबा ? जिसपर उसके दोस्तों ने कहा “राहुल तो पढता तो है लेकिन कल से पढ़ेगा अक्सर ऐसा भी बोलता है” तो बात सुनकर उस व्यक्ति ने कहा ठीक है तुम लोगो को आज मै अपने बारे में आपबीती सुनाता हु

फिर उस व्यक्ति ने बताया की जब वह छोटा था तो तुम लोगो की तरह उसकी भी जिन्दगी खुशहाल था लेकिन आज के समय में वह समय का मारा हुआ है किसी ज़माने में उसके पास भी खूब अच्छी नौकरी हुआ करता था हर महीने तनख्वाह मिलता था अपने सारे शौक भी खूब पूरा किया करता था इस दौरान उसे कई कम्पनी में जॉब के लिए ऑफर भी आये लेकिन वह सोचता चलो यहाँ तो अच्छा खासा जिन्दगी कट रही है तो फिर दूसरी जगह जाने की क्या जरूरत, ऐसा सोचते हुए मिले हुए अवसरों को आने वाले समय में जायेगा कहकर टाल दिया करता था

समय बीतता गया किसी कारणवश वह कम्पनी बंद हो गयी जिससे सभी लोग समय रहते दूसरा काम भी ढूढ़ लिया लेकिन वह व्यक्ति यही सोचता चलो अभी तो उसके पास पैसे है कुछ समय बाद तो दूसरा काम ढूढ़ ही लेंगा ऐसा सोचकर अपने जीवन को मजे से गुजार रहा था लेकिन सबको पता है की अगर बैठकर खाने से रखे पैसे भी जल्दी ही खत्म होने लगते है उर ठीक ऐसा ही उस व्यक्ति के साथ भी हुआ अब उसके पास नाम मात्र के कुछ पैसे ही रह गये थे

फिर वह काम की तलाश में भटकने लगा लेकिन बहुत कोशिश करने के बाद भी उसे कोई काम नही मिलता तो अंत में उसने अपने गाँव में जाने के फैसला किया और फिर गाँव में आकर वह  किसी काम भी नही रहा अब तो उसकी सारी इच्छाए धीरे धीरे खत्म होने लगी थी हर समय बीते हुए कल को याद करते हुए गुजारता रहता लेकिन अब पछताने से भी क्या होता जब जीवन का समय एकबार निकल जाता है तो वह फिर दोबारा लौटकर कभी नही आता यही उस व्यक्ति के साथ भी हुआ था और आज इस हालात में पहुच गया है की अब उसे कोई पूछता तक नही है

जिसे राहुल और उसके दोस्तों ने सारी बाते जानने के बाद वे सभी सोचते ही रह गये फिर वह व्यक्ति बोला “देखो राहुल अभी तुम्हारे पास पढने के लिए समय है इसलिए कल करने के बजाय आज अभी से पढ़ने पर ध्यान दो, जो भी सपने देखते हो उसे कल पर नही टालना बल्कि आज से उसे पूरा करना है इस पर लग जाओ फिर देखना आने वाला तुम्हारा सबसे बेहतर साबित हो सकता है”

अब राहुल को सारी बाते समझ आ गयी थी अब उसने तुरंत वही खुद से प्रण किया की वह अब कभी भी कोई भी कार्य कल पर टालने के बजाय आज और अभी से उसे पूरा करने में लगा देंगा और इस तरह राहुल को आज अपने जीवन के बहुमूल्य समय का पता चल गया है

कहानी से शिक्षा

जैसा की हम सभी जानते है जो व्यक्ति आलसी होते है वे अक्सर अपने कार्यो को आज करने के बजाय कल पर टालते है उअर टालने की आदत एक उनका नियमित व्यवहार बन जाता है जिसे आगे चलकर उन्हें ही अपने जीवन में अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है और जबतक समय के बहुमूल्य अवसर का पता चलता है तबतक बहुत देर हो चुकी होती है इसलिए हमे कभी भी अपने कार्यो को कल पर टालने के बजाय तुरंत और आज से ही शुरू कर देना सबसे बेहतर माना जाता है

जैसा की कबीर दास जी भी ने कहा है –

“काल करे सो आज कर, आज करे सो अब

पल में प्रलय होएगी, बहुरि करेगा कब,

अर्थात कबीर जी समय की महत्ता का वर्णन करते हुए कहते है की जो हमे कल करना है उसे आज ही कर लेना चाहिए और जो चीजे आज करनी है वो अभी तुरंत कर लेना चाहिए क्युकी इस नश्वर जीवन का कोई भरोसा नही है की हमारा जीवन खत्म हो सकता है फिर इन कार्यो को कब कर पायेगे

पढ़े :- कबीर दास जी के दोहे हिन्दी में Kabir Ke Dohe in Hindi

ऐसे में यदि आप भी अपने जीवन में जो करते हो क्या आप भी उन कार्यो को आज करने के बजाय कल पर टालते है तो आज से अपने इस आदत को बदल सकते है और कल पर टालने के बजाय आज और अभी से ही उन कार्यो को पूरा करने में लग जाना सबसे बेहतर हो सकता है इसलिए समय को को समझते हुए हमे कभी भी चीजो को कल पर नही टालना चाहिए

तो आप सबको यह काल करे सो आज कर पर प्रेरक कहानी Motivational Hindi Kahani कैसा लगा कमेंट में जरुर बताये और इसे अपने सोशल मीडिया में भी शेयर जरुर करे

इन प्रेरक कहानियो को भी पढ़े


1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *