बड़ा सोचे तभी तो बड़ा बनोगे Higher Thinking Moral Story in Hindi

0

वो कहते है न जैसा सोचोगे वैसा ही बनोगे यानी आप जैसा सोचते है ठीक वैसा ही आप बन जाते है इसलिए यदि जीवन में बड़ा और सफल बनना है तो हमे अपनी सोच भी बड़ी करनी होगी, यदि हम बड़ा सोचेगे तो निश्चित ही उसे पूरा करने की कोशिश भी करेगे और यही कोशिश हमे एक दिन बड़ा जरुर बना सकती है. तो चलिए इसी ऊँची सोच पर आधारित प्रेरणादायक मोरल कहानी पढ़ते है.

बड़े सोच की बड़ी सफलता की कहानी

Big thinking always Make Biggest Hindi Story

Moral Story

किसी गाँव में दो दोस्त रहते थे दोनों दोस्त एक ही स्कूल में एक साथ एक ही क्लास में पढ़ते थे एक दोस्त अमीर घर से था जबकि दूसरा दोस्त गरीब घर से था लेकिन दोनों पक्के दोस्त थे अमीर घर का लड़का वह पढ़ लिखकर अपने माँ बाप के व्यापार को आगे बढ़ाना चाहता था जबकि गरीब घर का लड़का अक्सर वह अपने और अपने गाव वालो के बारे में सोचता रहता था उसके मन में अक्सर यही यही चलता रहता था की वह पढ़ लिखकर एक दिन बहुत बड़ा अधिकारी बनेगा और गाँव वालो के विकास के लिए कुछ नया करेगा.

दोनों दोस्त अपनी इसी सोच के साथ पढाई करते थे समय बीतता गया, अमीर घर का लड़का अपना पढाई पूरी करने के बाद अपने माँ बाप के व्यापार में हाथ बढ़ाने लगा जबकि गरीब घर का वह लड़का के पास इतने पैसे भी नही थे की कोई व्यापार करे.

लेकिन वो कहते है न अगर हिम्मत हो तो कायनात भी उसे पूरा करने में लग जाती है इसी सोच पर वह गरीब घर का लड़का छोटे बच्चो को पढ़ाने लगा और अपने सपनों को सच करने के लिए साथ में परीक्षा की तैयारी भी करने लगा उसे तो हर वक्त सिर्फ अपना लक्ष्य ही दिखता था दिन क्या, रात क्या सब उसके लिए एक समान थे वह सिर्फ और सिर्फ अपने लक्ष्य को पूरा करने में दिन रात लगा रहता था.

और वो कहते है न अक्सर सफलता भी उन्ही को मिलती है जो सफलता के लिए कोशिश करते है उस गरीब लड़के की मेहनत आखिर में रंग लायी और सभी परीक्षा को पास करते हुए वह प्रशासनिक सेवा के लिए चुन लिया गया और उसके गाँव के ही जिलास्तर पर उसकी नियुक्ति भी हो गयी और इस तरह वह अपने सोचे हुए सपनों को सच कर दिखाया.

तो देखा आपने किस तरह एक ही गाँव के एक ही स्कूल से शिक्षा की शुरुआत करने वाले दो दोस्त अपने अलग अलग सोच के बल पर अपने अपने रास्ते बनाये और उनपर चलते हुए अपनी मंजिल भी तय किये, ये सबकुछ खुद की अपनी सोच पर आधारित होता है.

इसलिए कहा भी गया है आप जैसा सोचोगे ठीक वैसा ही बनोगे अब आप तय करेगे की आपको क्या बनना है ये आपके सोच पर आधारित है अगर आप अपने जीवन में कुछ बड़ा बनना चाहते है तो बड़ा सोचिये भी और सबसे बड़ी बात उसपर अमल भी आपको करना है.

तो देखा आपने किस प्रकार हमे बड़ी सोच का बड़ा जादू देखने को मिलता है आपको यह कहानी कैसा लगा कमेंट में जरुर बताये.

इन कहानी को भी पढ़िए :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here