AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Technology, Finance, Make Money, Jobs, Sarkari Naukri, General Knowledge, Career Tips, Festival & Motivational Ideas To Change Yourself

Festival Hindi Essay हिन्दी निबन्ध

समृद्धि और समाज में योगदान देने वाले मजदूर दिवस पर निबंध

Labour Day May Day in Hindi Essay

मजदूर दिवस पर निबन्ध

वैसे तो जब से धरती पर प्रकृति का निर्माण हुआ है उनमे सर्वश्रेष्ठ रचना मानव की है जिन्हें इस दुनिया को चलाने के लिए श्रम यानि कार्य करने की आवश्यकता पड़ती है अब आप सोच रहे होंगे की भला जब हमारा जन्म हुआ ही है तो इस धरती पर कार्य भी क्रियान्वित करने ही पड़ेगे ऐसे में अगर हम अपने और अपने परिवार के लिए खूब दिन रात मेहनत करते है और उसके बदले हमे कुछ आर्थिक आमदनी भी होती है.

तो जरा सोचिये अगर ऐसे में आपके हक का पैसे सही रूप से भुगतान न मिले और हमे अपने पैसे को पाने के लिए दर दर भटकना पड़े और तो और काम के बदले मिलने वाले पैसे में कोई हिसाब न हो और न ही काम करने का कोई समय समय बधा हो तो ऐसे में हर श्रम करने वाले के मन में सबसे पहले यही ख्याल आया हो की उसके हक़ का सही रूप में मिले इसी हक़ की लडाई के लिए पहली बार अमेरिका के मजदूरों ने 1 मई 1886 में हड़ताल किया और फिर तभी से 1 मई को मजदूर दिवस | Majdoor Diwas मनाया जाने लगा..

अंतराष्ट्रीय मजदूर दिवस निबन्ध

International Labour Day in Hindi

Labour day

वैसे तो मजदूर दिवस को अलग अलग देशो में अलग अलग नामो से जाना जाता है कही पर श्रम दिवस तो कही पर श्रमिक दिवस तो कही पर मई दिवस तो कही पर Labour Day तो कही पर अंतराष्ट्रीय मजदूर दिवस के नाम से जाना जाता है.

1 मई मजदूर दिवस पर अनमोल विचार

मजदूर दिवस मनाने के पीछे का मूल उद्देश्य हर श्रमिक के अधिकारों की रक्षा करना है क्यूकी किसी भी देश, समाज, संस्था या राष्ट्र विकास निर्माण में मजदूरों का ही योगदान होता है मजदूरों के अथक प्रयास और मेहनत के बलबूते बड़े से बड़े काम को आसानी से किया जाता है मान लीजिये किसी भी देश में बड़े बड़े कल कारखाने तो हो जाए लेकिन वहा काम करने वाले श्रमिक ही न मिले तो भला सारी सुविधा रहते हुए वो देश कभी भी अपने बलबूते विकास की नीव नही रख सकता है अगर ये कल कारखाने बंद हो जाए तो फिर भला हम देश विकास की बात सोच भी नही सकते है.

पिता दिवस फादर डे पर निबन्ध

1 मई मजदूर दिवस का इतिहास

Labour Day History in Hindi

सबसे पहले हम यहाँ जानेगे की आखिर मजदूर दिवस क्यों मनाया जाता है | Labour Day Kyu Manaya Jata Hai .इसके पीछे पूरे विश्व में मजदूरों के सम्मान में Labour Day 1 May को मनाया जाता है Labour Day मनाने की शुरुआत सर्वप्रथम 1 मई 1886 से माना जाता है उस समय अमेरिका में मजदूरों की स्थिति काफी दयनीय थी मजदूरों को बिना रुके हुए 15 घंटे से भी ज्यादा वक्त काम करना पड़ता था जिसके फलस्वरूप अमेरिका के मजदूरों में अपने अधिकारों की रक्षा के लिए हड़ताल पर जाने का निश्चय किया,

International Labour Day 1 मे कामगार दिवस

और फिर 1 मई 1886 को पहली बार अमेरिका के शिकागो शहर में लाखो मजदूर हड़ताल पर थे सबकुछ शांतिपूर्वक चल रहा था सभी मजदूर अपनी मांगों को लेकर शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे थे की अचानक किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा इन मजदूरों के उपर बम फेका गया जिससे भीड़ तितर बितर हो गयी चारो तरफ भगदड़ का माहौल मच गया और इन सभी मजदूरो की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने गोली चला दी जिससे कई व्यक्ति मारे गये इस घटना को अमेरिकी इतिहास में हेयरमार्केट हत्याकांड के नाम से भी जाना जाता है फिर आगे चलकर इन मजदूरों की शहादत को याद को याद करने के लिए मजदूर दिवस मनाया जाने लगा.

मजदूर का बेटा कैसे बना करोडपति की कहानी पीसी मुस्तफा

भारत में मजदूर दिवस की शुरुआत सर्वप्रथम चेन्नई में सन 1923 से हुआ इसकी शुरुआत भारतीय मजदूर किसान पार्टी के नेता कामरेड सिंगरावेलु चेत्यार ने शुरू किया था जिसके तहत उस समय यह तय किया गया की इस दिन को कामगार दिवस के रूप में मनाया जायेगा.

मजदूर दिवस कैसे मनाया जाता है

Labour Day Kaise Manaya Jata Hai

मजदूरों की हितो की रक्षा के उपलक्ष्य दिवस के रूप में प्रत्येक वर्ष 1 May को भारत सहित विश्व के 80 से अधिक देशो में मजदूर दिवस मनाया जाता है भारत सहित कई देशो में 1 मई को सार्वजानिक अवकाश होता है इस दिन मजदूर यूनियन संघटन सार्वजानिक जगहों पर इक्कठा होकर रंगारंग कार्यक्रम भाषण और देशभक्ति गीतों का आयोजन करते है और सभी खुलकर अपने विचारो को लोगो के सामने रखते है यह उत्सव ऐतिहासिक रूप से काफी महत्व रखता है.

मजदूर दिवस पर नारे, स्लोगन्स और स्टेटस

संयुक्त राष्ट्र की अगुवाई में International Labour Organization (ILO) का गठन किया गया है जो पूरे विश्व के देशो के श्रमिको के हितो की रक्षा के लिए सदैव आगे रहता है और अन्तराष्ट्रीय मजदूर हितो की रक्षा करता है और इस दिन संयुक्त राष्ट्र की अगुवाई में अनेक प्रकार के विविध आयोजन भी किये जाते है और मजदूरों को अन्तराष्ट्रीय मंच पर सम्मानित भी किया जाता है संयुक्त राष्ट्र बालश्रम पर भी निगरानी रखता है.

कौशल विकास पर हिंदी स्लोगन नारे

महात्मा गाँधी जी भी ने कहा था की “जो देश अपने श्रमिक यानि मजदूर किसानो, कर्मचारियों को सम्मान नही कर सकते है वो देश कभी भी तरक्की की राह पर चल नही सकते है”

Labour Day

तो आप सभी को भी अच्छीAdvice की तरफ से मजदूर दिवस की हार्दिक शुभकामनाये | Labour Day Ki Hardik Shubhkamnaye.

मजदूर दिवस पर महान व्यक्तियों के कहे गए अनमोल वचन

  • भगवान श्रम की कीमत पर हमें सभी चीजों को बेचता है ~ लियोनार्डो दा विंसी
  • यदि कोई कहता है कि वो अमेरिका से प्यार करता है पर उसे काम करने से नफरत है, तो वो झूठा है। यदि कोई कहता है कि वो अमेरिका पर भरोसा करता है, फिर भी मेहनत से डरता है, तो वो बेवकूफ है ~ अब्राहम लिंकन
  • वो वास्तव में श्रम है जो हर चीज में फर्क डालता है ~ जॉन लॉक
  • कोई हीन व्यक्ति एक मात्र आज़ादी जो वो चाहता है; वो है काम छोड़ कर, धूप में लेते-लेट खुद को खुजाने की आज़ादी ~ एच. एल. मेंकेन
  • स्वर्ग परिपूर्ण विश्राम से धन्य है लेकिन पृथ्वी का आशीर्वाद परिश्रम है ~ हेनरी वैन डाइक
  • ईश्वर मुझे काम दीजिये जब तक मेरी जीवन ना समाप्त हो जाए और जीवन दीजिये जब तक मेरा काम ना समाप्त हो जाये ~ अनाम
  • आराम करो; जो खेत विश्राम करते हैं वे भरपूर फसल देते है ~ ओविड
  • वो जो मेहनत से काम करता है उसे कभी निराश होने की ज़रुरत नहीं है; क्योंकि सभी चीजें परिश्रम एवं श्रम से प्राप्त की जाती हैं ~ मेंइंडर
  • कठोर परिश्रम का कोई विकल्प नहीं है ~ थोमस ऐ. एडिसन
  • काम पर एक बुरा दिन नरक में एक अच्छे दिन की तुलना में बेहतर है ~ स्कॉट जॉनसन
  • आदमी कुछ ऐसा बना है कि उसे एक काम से आराम सिर्फ दुसरे काम को कर के मिलता है ~ अनातोले फ्रांस
  • श्रम के बिना कुछ भी नहीं फलता-फूलता है ~ सोफोक्ल्स
  • कर्म ही पूजा है ~ महात्मा गांधी
  • श्रम का अंत फुर्सत के पल पाना है ~ अरस्तू
  • काम पैसा कमाने के लिए नहीं है; आप जीवन का औचित्य साबित करने के लिए काम करते हैं ~ मार्क चगल
  • कोई व्यक्ति इसलिए बेकार नहीं है क्योंकि वो ख़यालों में खोया हुआ है। एक दिखाई देने वाला काम है और एक ना दिखाई देने वाला ~ विक्टर ह्यूगो
  • श्रम एक मात्र प्रार्थना है जिसका उत्तर प्रकृति देती है ~ रॉबर्ट ग्रीन इंगरसोल
  • हर एक काम जो मानवता का उद्धार करता है उसमे गरिमा एवं महत्ता होती है और उसे श्रमसाध्य उत्कृष्टता के साथ किया जाना चाहिए ~ मार्टिन लूथर किंग
  • हमेशा कार्यरत मन हमेशा खुश रहता है। यही परम सुख का राज़ है, शानदार नुस्खा है ~ थॉमस जेफरसन
  • मेहनत हमें तीन बड़ी बुराइयों से छुटकारा दिलाती है; उबाऊपन, ऐयाशी और गरीबी ~ अनाम

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस निबन्ध

आप सभी को मजदूर दिवस | Labour Day पर दी गयी जानकारी कैसा लगा प्लीज हमे कमेंट बॉक्स में जरुर बताये.

जानकारी से भरे इन अच्छे पोस्ट को भी पढना न भूले:-

शेयर करे

Follow AchhiAdvice at WhatsApp Join Now
Follow AchhiAdvice at Telegram Join Now

1 COMMENTS

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *