AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Help, General Knowledge, Thoughts, Inpsire Thinking, Important Information & Motivational Ideas To Change Yourself

Personal Development Success

खुद को नकारात्मक विचारों से कैसे बचाए जाने बेहतरीन पजिटिव तरीके

Negative Thoughts Se Kaise Bache

नकारात्मक विचारों से कैसे बचें

जीवन में आगे बढने के लिए हमे अपने नकरात्मक सोच से दूर रहना होता है, ऐसे में आप सोचते होंगे की अपने दिमाग से नकरात्मक सोच यानि Negative Thinking को कैसे दूर करे, ऐसे में हम सब जानते है कि यदि जीवन में हमे सफल होना है तो सबसे पहले हमे अपने दिमाग से Negative Thinking, Thoughts को निकालना बहुत जरुरी होता है,

Negative Thinking एक ऐसा factor होता है जो हमे कभी भी जीवन में बढ़ने से रोकता है अब हमारे मन में एक सवाल आता है की आखिर ऐसा क्यू होता है की जब कोई हम काम करने जा रहे होते है तो हमारे मन में तुरंत ही उस काम को लेकर Negative और positive thinking के विचार दोनों तरह के आते है जो की हमारे दिमाग की सोचने को दर्शाता है लेकिन हम किस दिशा में जा रहे है यह बहुत बड़ा मायने रखता है.

तो ऐसे में आईये अब Negative Thinking के बारे में जानते है की ऐसा क्यू होता है क्यू हमारे दिमाग और मन में नकरात्मक सोच का जन्म होता है.

नकरात्मक सोच नकरात्मक विचार क्या है

Negative Logo Se Kaise Bache

Negative Thinking Negative Thoughts

Negative Thinking – अक्सर जब हम कोई भी कार्य करने के लिए निर्णय लेते है तो हमे उस कार्य से होने वाले लाभ और हानि को सोचकर मन में Negative Thinking स्वत आ जाते क्यूकी ये हमारे दिमाग की बनावट ही ऐसी है की हमारे मन में positive और Negative Thinking दोनो एक साथ आते है.

ऐसा इसलिए होता है हर चीज के दो पहलू होते है ठीक ऐसे ही हमारा दिमाग भी अच्छे और बुरे दोनों का परख करता है Negative Thinking एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके चलते कोई भी इन्सान चाहे कितनी सफलता पा ले लेकिन उसके मन में Negative Thinking का विचार जरुर आता है यह एक प्राकृतिक प्रक्रिया है लेकिन हम यदि अपने Negative Thinking पर control कर ले तो निश्चित ही कोई भी काम चाहे कितना बड़ा क्यू न हो हम सभी उसे जरुर कर सकते है.

Negative Thinking के कारण

हमारे मन में Negative Thinking कई कारणों से आ सकते है तो आईये जानते है इन कारणों को जानते है.

जब हम कोई भी नया या कुछ अलग हट कर करना चाहते है तो जो हमारे नजदीकी होते है वही हमे या तो इससे होने वाले नुकसान को बताकर आगे बढ़ने से रोक सकते है जो की Negative thinking की एक पहचान है.

किसी भी work को करने से पहले ज्यादा सोच विचार भी कही न कही Negative thinking की ओर ले जाता है.

जब हम अपने किये गये पहले कार्यो में यदि असफल हुए है तो निश्चित ही हम जब कुछ नया करने जायेगे तो पिछले कामो से हुए नुकसान भी हमे कही न कही Negative thinking की ओर जरुर ले जायेगे.

Negative Thinking in Hindi

गलत या बुरे लोगो का साथ भी कही न कही हमे आगे बढने से रोकता है जो की Negative thinking की ही पहचान है

अत्यधिक असफलता भी Negative thinking की परिचायक होती है

अत्यधिक गुस्सा या क्रोध भी Negative thinking का कारण बनता है

किसी भी चीज को पाने के लिए गलत तरीके भी Negative thinking की पहचान है

अपने कामो को पूरा करने करने से जी चुराना और अपने कामो को दुसरो पर टाल देना भी एक तरह से Negative thinking ही है

मै ये क्यों करू या मै ही सबकुछ क्यू करू ऐसी सोच भी Negative Thoughts को दर्शाता है.

नकरात्मक सोच | नकरात्मक विचार से कैसे बचे

Negative Thinking | Negative Thoughts se kaise Bache

तो जैसा की हम सभी जानते है की Negative thinking हमारे मन में आना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है यदि हम इन अच्छी बातो पर अमल करे तो निश्चित ही Negative Thinking से दूर रह सकते है

  • हमे हमेसा उन लोगो से दूर ही रहना चाहिए जो की हमे कभी भी आगे बढने से रोकते है और अक्सर हमारे कामो से होने वाले नुकसान को ज्यादा गिनाते है
  • कभी भी हमे अत्यधिक क्रोध नही करना चाहिए क्यू की अकसर गुस्से की वजह से हमारे बने काम भी खराब हो जाते है
  • कामो को कल पर न टालने की आदत होनी चाहिए क्यू की कल कभी भी नही आता है
  • हमेसा मन में Positive thinking और ऊची सोच रखनी चाहिए
  • हमेसा नजदीकी फायदा सोचने से पहले दूर का नुकसान भी सोचना चाहिए
  • हमे हमेसा अच्छी किताबे और Motivational thoughts वाले Article पढने चाहिए
  • हमे हमेसा अच्छे लोगो के साथ रहना चाहिये
  • कभी भी कोई काम करने से पहले अपने घर के के बड़े सदस्यों से राय जरुर लेनी चाहिए
  • नकरात्मक सोच विचार से बचने के लिए अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना चाहिए क्यू की अक्सर ख़राब तबियत की वजह से भी लोग चिडचिडेपन का शिकार हो जाते है

सही दिशा में न किये गये कार्य की वजह से भी असफलता भी negative thinking को जन्म देती है इसलिए कभी भी हमे कोई काम करने से पहले प्लानिंग जरुर कर लेनी चाहिए.

तो आप सभी यही चाहेगे की आप हमेसा Negative thinking से दूर ही रहे इसके लिए सबसे पहले अपने गुस्सा पर Control कर ले तो आधे से अधिक काम यु ही बन जायेगे बाकी तो मेहनत के द्वारा हम हासिल कर ही सकते है.

तो आप सबको ये Negative Thinking से जुडी जानकारी कैसा लगा Comment box में जरुर बताए और इस पोस्ट को शेयर भी जरुर करे.

इन पोस्ट को भी पढ़े :- 

शेयर करे

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *