आईपीएस ऑफिसर (IPS Officer) कैसे बने? इसकी तैयारी कैसे करे, योग्यता और सैलरी

यदि आप आईपीएस ऑफिसर बनकर कानून के पद के जरिये समाज की सेवा करना चाहते है, आईपीएस ऑफिसर के पद पर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो आईपीएस ऑफिसर एक बढ़िया और सम्मान के पद का कैरियर ऑप्शन है, तो ऐसे मे यह प्रश्न उठता है की आईपीएस ऑफिसर कैसे बने? (How To Become IPS Officer?), आईपीएस ऑफिसर बनने की तैयारी कैसे करे, आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए क्या करे? (What To Do To Become A IPS Officer In Hindi), तो इस पोस्ट मे जानेगे की आईपीएस कैसे बने? और साथ मे यह भी जानेगे की आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए क्या करना पड़ेगा? आईपीएस ऑफिसर की सैलरी (Salary) कितनी होती है? आईपीएस ऑफिसर के तैयारी के लिए सेलेबस क्या है? आईपीएस ऑफिसर बनने की योग्यता (Eligibility) क्या है? इसकी आईपीएस ऑफिसर की चयन प्रक्रिया (IPS Officer Selection Process) क्या है? तो चलिये अब अब जानते है की IPS Officer Kaise Bane और IPS Officer Ki Taiyari Kaise Kare.

इस पोस्ट के मुख्य टॉपिक छिपाए

आईपीएस क्या होता है? (What Is A IPS Officer In Hindi)

IPS Officer Kaise Bane IPS Ki Taiyari Kaise Kareआईपीएस सर्विस भारत सरकार की तीन अखिल भारतीय सेवाओं IRAS (Indian Railways Service), IAS (Indian Administrative Service) में से एक है। IPS का गठन वर्ष 1948 में हुआ था। IPS के लिए कैडर कंट्रोलिंग अथॉरिटी गृह मंत्रालय के पास होता है।

आई.पी.एस का पद भारत की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था में एक उच्च सम्मानित पद है और यह भारतीय पुलिस सेवा भारतीय लोकतंत्र का सबसे बुनियादी आधार है। भारत में एक आईपीएस अधिकारी को कई जिम्मेदारी पूर्ण अधिकार दिए गए है। जिनमें पहले नंबर पर यह जिम्मेदारी है कि उनके अधिकार क्षेत्र में लोग सुरक्षित रहें।

इसके अलावा एक आईपीएस ऑफिसर जिले में सभी अधिकारी कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए कार्य करते है और इसके अलावा आईपीएस अधिकारी कई तरह की जिम्मेदारियां संभालते है, जैसे- अपराधों को रोकना, दुर्घटनाओं को रोकना, आपदा संचालन, अपराधों की जाँच, सदिग्ध व्यक्तियों पर निगरानी रखना आदि अनेक कार्य होता है, जिसका मुख्य उद्देश्य शहर और समाज मे शांति व्यवस्था बनाए रखना होता है।

आईपीएस परीक्षा सिविल सेवा परीक्षा का ही एक भाग होती है जो UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) द्वारा हर साल आयोजित करवाई जाती है प्रशासनिक पदों की नियुक्ति के लिए UPSC कई तरह की Civil Service Exam आयोजित करवाती है जैसे- IPS, IRS, IAS, IFS इस तरह की परीक्षा को क्लियर करने के बाद ही आप IPS यानि Police Officer बन सकते है।

IPS का फुल फार्म क्या होता है (IPS Full Form in Hindi)

IPS का English Full Form – Indian Police Service होता है और जबकि आईपीएस का हिन्दी फुल फार्म हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा कहते हैं।

  • IPS Full Form in English: – Indian Police Service
  • IPS Full Form in Hindi: – भारतीय पुलिस सेवा

आईपीएस ऑफिसर कैसे बने (How to Become IPS Officer in Hindi)

एक आईपीएस ऑफिसर बनना इतना आसान भी नहीं होता है, आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए कई परीक्षा (Exam) पास करने होते है, फिजिकल टेस्ट (Physical Test) की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है, फिर इसके बाद आईपीएस ऑफिसर की ट्रेनिंग दिया जाता है, जिसके बाद और कई सारे टेस्ट होते है, इन सभी परीक्षा और टेस्ट को पास करने के बाद ही आपकी पोस्टिंग एक आईपीएस ऑफिसर के पद पर होती है, फिर कही जाकर इन प्रक्रियाओ के गुजरने के बाद आप एक आईपीएस ऑफिसर (IPS Officer) कहलाते है,

जैसा की आईपीएस ऑफिसर का पद इतना महत्वपूर्ण होता है, जिस आईपीएस पोस्ट (IPS Post) के लिए हर साल लाखो लोग इस आईपीएस की परीक्षा मे में बैठते है और सिर्फ गिने चुने लोग ही इसे पास कर पाते है,

तो ऐसे मे वही लोग आईपीएस ऑफिसर के पद पर चुने जाते है, जिन्हे आईपीएस ऑफिसर बनने की सारी प्रकियाओ के बारे मे पता होता है, और इन सभी परीक्षा की तैयारी अच्छे से करते है, तो चलिये एक आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए जो भी Recruitment होती है उनके बारे में अच्छे से जानते है, और एक आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए क्या क्या योग्यता (Eligibility) होनी चाहिए, इन सभी चीजों के बारे मे जानते है।

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए योग्यता

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए निम्न योग्यता होनी चाहिए, तभी आप आईपीएस ऑफिसर पद के लिये अप्लाई कर सकते है-

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (Education Qualification for IPS in Hindi)

यदि आप आईपीएस ऑफिसर की परीक्षा मे बैठना चाहते है तो इसके लिये किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन होना अनिवार्य है, जिसके लिए स्नातक स्तर की पढ़ाई में 50 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य हैं, और साथ ही यदि स्नातक के अंतिम वर्ष (Final Year) के छात्र (Student) है, तो भी आईपीएस ऑफिसर की इस परीक्षा में बैठ सकते है,

इसके अलावा आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए नागरिकता भारतीय होना चाहिए, इसके अलावा अगर आप नेपाली या भूटानी हो तो भी आप आईपीएस के परीक्षा के लिए परीक्षा दे सकते हैं।

आईपीएस ऑफिसर के लिए आयु सीमा (Age Limit for IPS office in Hindi)

यदि आप IPS की परीक्षा में देना चाहते है, आपकी आयु कम से कम 21 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष होना जरूरी है। तभी आप इस आयु सीमा के अंदर आईपीएस के लिए आवेदन भर सकते है,

आईपीएस परीक्षा के प्रयासों की संख्या (No. of Attempts for IPS Exam in Hindi)

आईपीएस की परीक्षा मे किस कैटेगरी के लोग कितने बार परीक्षा दे सकते है, इसके No. of Attempts for IPS Exam को जानते है –

  • यदि आप सामान्य वर्ग (General Category) से है, तो इसके लिए अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष रखी गई है और प्रयासों की संख्या 4 (Number Of Attempts) है। यानि इस कैटेगरी के लोग चार बार यह परीक्षा दे सकते है।
  • पिछड़े वर्ग के वर्ग (OBC Category) के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा 33 वर्ष रखी गई है और प्रयासों की संख्या (Number Of Attempts) 7 बार है। यानि पिछड़े वर्ग के उम्मीदवार IPS Exam 7 बार दे सकते है।
  • अनुसूचित जाति और जनजाति (SC/ST) वर्ग के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा 35 वर्ष रखी गई है और प्रयासों की संख्या असीमित (Number Of Attempts Unlimited) है। यानि एसटी और एससी वर्ग को लोग जितनी बार चाहे उतनी बार आईपीएस की परीक्षा मे बैठ सकते है।

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक योग्यता (Physical Requirement for IPS in Hindi)

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए निम्न शारीरिक योग्यता होनी चाहिए, जो इस प्रकार है –

कद (Height) – आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए कितनी लंबाई (Height) चाहिए?

आईपीएस ऑफिसर बनने  के के लिए पुरुषों की कम से 165 सेमी (5 feet 5 inches) और स्त्रियों की कम से कम 150 सेमी (4 feet 12 inches) लंबाई होनी चाहिए। जबकि SC/ST category के लिए पुरुष उम्मीदवार की लम्बाई 160cm और महिला उम्मीदवार की लम्बाई 145cm होनी चाहिए.

छाती (Chest) –

आईपीएस ऑफिसर के लिए पुरुष उम्मीदवारों की छाती कम से कम 84 सेमी होनी चाहिए और महिला उम्मीदवार के लिए छाती 79 सेमी होनी चाहिए।

नेत्र दृष्टि (Eye Sight) –

आईपीएस ऑफिसर के लिए स्वस्थ आंखों का दृष्टि 6/6 या 6/9 होना चाहिए और कमजोर आंखों का दृष्टि 6/12 या 6/9 होना चाहिए। द्विनेत्री दृष्टि आवश्यक हैं। आँखो पर दूर के नंबर – 4.00D से ज़्यादा नहीं होने चाहिए और नज़दीक के नंबर +4.00D से ज़्यादा नहीं होने चाहिए।

तो ऐसे मे यदि आप इन सभी योग्यताओ को पूरा करते है, तो आईपीएस ऑफिसर के लिए लिए अप्लाई कर सकते है, तो ऐसे मे यदि आप यदि स्नातक 50% से अधिक अंको के साथ पास कर चुके है, तो इस शैक्षणिक योग्यता (Qualification) के साथ बताए गए शारीरिक योग्यता है तो ही आप इस आईपीएस परीक्षा में बैठ सकते है, और आईपीएस की परीक्षा देते हुए एक आईपीएस ऑफिसर यानि पुलिस ऑफिसर बन सकते है.

आईपीएस के लिए आवेदन कैसे करें (Apply Online Application for IPS Officer in Hindi)

आईपीएस की परीक्षा जो की एक सिविल सेवा की परीक्षा होती है, जिसके लिए आवेदन युनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) द्वारा हर साल निकाले जाते हैं जो की दिसम्बर या जनवरी मे आईपीएस के वेकेंसी निकाले जाते है, ये सभी परीक्षा UPSC द्वारा CSE (All India civil service exam ) के exam करवाया जाता है.

UPSC द्वारा निकाले गए पदो की भर्ती जैसे ‌IAS, IFS, IPS, IRS IPS IDS तथा अन्‍य प्रशासनिक पदों की नियुक्ति की जाती है ये सभी अधिकारी पोस्ट होती है, जिन सभी पदो के लिए UPSC के आधिकारिक वैबसाइट के जरिये आवेदन (Online Application) अप्लाई कर सकते है।

आईपीएस ऑफिसर बनने की चयन प्रक्रिया (IPS Selection Process in Hindi)

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए चयन की 3 प्रक्रियाओ से गुजरना पड़ता है, जो इस प्रकार है –

  • प्रारम्भिक परीक्षा – (Preliminary Exam)
  • मुख्य परीक्षा – (Main Exam)
  • साक्षात्कार – (Interview)

यदि आप आईपीएस बनने के लिए इन तीनों चयन प्रक्रिया (IPS Selection Process in Hindi) को पास कर लेते है, तो मेरिट के आधार पर आईपीएस ऑफिसर के पद के लिये चुन लिया जाता हैं.

आईपीएस परीक्षा पैटर्न (IPS Exam Pattern in Hindi)

जैसा की आईपीएस ऑफिसर के चयन के तीन प्रक्रिया से होकर गुजरना होता है, जो की यह परीक्षा पैटर्न इस प्रकार है –

प्रारम्भिक परीक्षा – (Preliminary Exam)

आईपीएस ऑफिसर के चयन के लिए प्रारंभिक परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न पूछे जाते है, इस प्रारम्भिक परीक्षा में 2 पेपर होते है, और दोनों ही पेपर 200-200 अंकों के होते है इस प्रारम्भिक को पास करने के बाद आप मुख्य परीक्षा (Main Exam) में बैठ सकते है। प्रश्न पत्र हिंदी और अंग्रेजी दोनों में सेट किए जाते है हालांकि, अंग्रेजी भाषा की Comprehension Skills से सम्बन्धित प्रश्न केवल अंग्रेजी में प्रदान किये जायेंगें। प्रत्येक पेपर के लिए नेत्रहीन (Blind) उम्मीदवारों को 20 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाता है।

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए यह पहला प्रक्रिया होता है इसकी प्रारम्भिक परीक्षा की सुचना आपको अप्रैल/मई के महीने में मिल जाती है लेकिन प्रारम्भिक परीक्षा अगस्त के महीने में होता है और जिसका परिणाम अक्टूबर के महीने में आ जाता है.

प्रारम्भिक परीक्षा के पेपर I –

प्रारम्भिक परीक्षा के पहला पेपर 200 अंकों का होता है, जिस पेपर में राष्‍ट्रीय और अंतरराष्‍ट्रीय करंट अफेयर्स, भारतीय इतिहास और भारतीय राष्‍ट्रीय आंदोलन, भारतीय राजतंत्र और गवर्नेंस (संविधान, पॉलिटिकल सिस्‍टम, पंचायती राज, पब्लिक पॉलिसी), भारत और विश्‍व का भूगोल, आर्थिक और सामाजिक विकास (सस्‍टेनेबल डेवलपमेंट, गरीबी, जनसंख्‍या), इनवायरमेंटल इकोलॉजी, बायो-डायवर्सिटी, क्‍लाइमेट चेंज और जनरल साइंस जैसे विषयों से ऑब्‍जेक्टिव सवाल पूछे जाते हैं. इस पेपर को हल करने लिए समय सीमा 2 घंटे की होता है.

प्रारम्भिक परीक्षा के पेपर II:

प्रारम्भिक परीक्षा के के दूसरे भाग के इस पेपर मे 200 अंक के इस पेपर में कॉम्प्रिहेंशन, इंटरपर्सनल स्किल्‍स, जनरल मेंटल एबिलिटी, लॉजिकल रीजनिंग और एनालिटिकल एबिलिटी, डिसिजन मेकिंग और प्रॉब्‍लम सॉल्विंग, बेसिक न्‍यूमरेसी और डेटा इंटरप्रिटेशन (चार्ट, ग्राफ, टेबल) से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं. इस पेपर को हल करने के लिए समय सीमा 2 घंटे की होती है.

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

आईपीएस ऑफिसर के चयन के लिए मुख्य परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा की तुलना मे उससे भी कठिन होती है इसमें लिखित परीक्षा के साथ ही साक्षात्कार (Interview) भी लिया जाता है। मुख्य परीक्षा में कुल 9 पेपर होते है। जिन्हें दो भागों में विभाजित किया गया है, क्वालीफाइंग पेपर और मेरिट पेपर के रूप में

क्वालीफाइंग पेपर –

यह पेपर 2 भाग मे होते है (1st And 2nd Paper) दोनों पेपर 300-300 अंकों के होते है, इसके अंक चयन के समय नहीं जोड़े जाते है।

मेरिट पेपर –

मेरिट पेपर मे कुल 7 पेपर होते है, जिन सभी पेपर का अंक 250-250 होते है, यानी सभी पेपर कुल 1750 अंकों के होते है।

  1. पेपर 1 – Essay – कुल अंक – 250
  2. पेपर 2- जनरल स्‍टडीज़ – I  – कुल अंक -250
  3. पेपर 3 – जनरल स्‍टडीज़ – II – कुल अंक -250
  4. पेपर 4 – जनरल स्‍टडीज़ – III – कुल अंक -250
  5. पेपर 5 – जनरल स्‍टडीज – IV – कुल अंक -250
  6. पेपर 6 – Optional Subject: पेपर – I – कुल अंक -250
  7. पेपर 7- Optional Subject: पेपर – II – कुल अंक -250

इस प्रकार इन सातों पेपर के कुल अंक मिलाकर 1750 अंक होते है।

  1. साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को पास करने के बाद आपके प्राप्त अंको के मेरिट के आधार पर आपको इंटरव्यू के के लिए बुलाया जाता है, जो की यह इंटरव्यू एक पेनल के द्वारा लिया जाता है जिसकी अवधि तक़रीबन 40 से 45 मिनट की होती है। इंटरव्यू क्वालिफ़ाई करने के बाद ही आपको मेरिट के आधार पर आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए IPS की Training पर भेजा जाता है और उम्मीदवार के कुछ वेरिफिकेशन करने के बाद उसे पद पर नियुक्ति कर दिया जाता है।

आईपीएस ऑफिसर की तैयारी कैसे करें (How to Prepare for IPS Officer in Hindi)

आईपीएस जो की भारत टॉप परीक्षाओ मे से एक परीक्षा मानी जाती है, जिसका पद बहुत ही सम्मान और समाज के प्रति बहुत ही ज़िम्मेदारी का पद होता है, तो ऐसे मे आईपीएस अफसर बनने के लिए आईपीएस ऑफिसर की तैयारी के जी-जान लगाना पड़ता है। तब कही जाकर आईपीएस ऑफिसर जैसे महत्वपूर्ण पद के लिए चयनित होते है, तो चलिये आईपीएस ऑफिसर की तैयारी कैसे करे, इसके बारे मे जानते है –IPS Ki Taiyari Kaise Kare.

  • आईपीएस का परीक्षा (IPS Exam) नहीं होता इसके लिए बहुत अच्छे से तैयारी करना होता है, जिसके लिए रोजाना का दिनचर्या यानि आईपीएस की तैयारी के लिए टाइमटेबल जरूर बनाए और 7 से 8 घंटे रोजाना जरूर पढ़ाई करे तो आईपीएस मे सफलता पाने के लिए बेहतर कदम साबित होगा.
  • आईपीएस के लिए पिछले साल हुए Question Paper के सवाल को हल करने की कोशिश करे, जिसके लिए पिछले पांच से छ सालो के IPS Question Paper Solve करे, ऐसे करने से यह पता चल जायेगा की आईपीएस की परीक्षा मे किस तरह के प्रश्न पूछे जाते है और कैसे उन्हें जल्दी हल किया जाये.
  • आईपीएस की परीक्षा की तैयारी के लिए नियमित रूप से Current Affairs और अखबार जरूर पढ़ना चाहिए और कुछ समय निकाल कर टीवी मे न्यूज़ चैनल भी एक घंटे के लिए देखना चाहिए, जिससे देश की वर्तमान घटनाओ के बारे मे भी जानकारी हो जाती है,
  • आईपीएस की परीक्षा की तैयारी करते हुए हमेशा खुद पर विश्वास बनाए रखे और अपने अंदर सकरात्मकता का भाव बनाए रखना चाहिए, और खुद के अंदर कभी भी Negative सोच नही लानी चाहिए, और ऐसे नकरात्मक लोगो से दूर रहना चाहिए।

आईपीएस की परीक्षा काफी कठिन माना जाता है, ऐसे मे परीक्षा मे सफलता पाने के लिए अपने Weak points को पहचानते हुए उन्हें सुधारने की कोशिश करना चाहिए।

  • आईपीएस की परीक्षा की तैयारी के लिए किसी अच्छे इंस्टिट्यूट को भी ज्वाइन कर सकते है।
  • आईपीएस परीक्षा की तैयारी करते हुए खुद से अपना ऑनलाइन Mock Test भी ले सकते हो इससे आपको अंदाज़ा हो जायेगा की आपकी तैयारी कितने अच्छे से हो रही है।
  • आईपीएस परीक्षा की तैयारी के लिए NCERT पैटर्न की किताबे काफी अच्छी मानी जाती है, तो ऐसे मे आईपीएस की परीक्षा की तैयारी के लिए एनसीईआरटी पैटर्न की किताबों से तैयारी करना चाहिए।
  • आईपीएस की तैयारी मे Preliminary Exam के लिए कोई ऐसा ऑप्शनल सब्जेक्ट का चुनाव करे जिसमे आपकी अच्छी पकड़ हो.
  • आईपीएस के इंटरव्यू के लिए अपनी अच्छी पर्सनालिटी बनाये। जो की यह तैयारी आईपीएस के फ़ाइनल राउंड मे काफी मदद करेगी।

तो ऐसे मे यदि इन बताए गए टिप्स आईपीएस की परीक्षा के लिए उपयोग करते है, तो निश्चित ही आप आईपीएस ऑफिसर की परीक्षा मे सफलता पा सकते है।

आईपीएस की ट्रेनिंग (IPS Officer Training in Hindi)

जैसे ही आईपीएस की परीक्षा के लिए सारे परीक्षा और इंटरव्यू पास कर लेते है, तो आपको आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए ट्रेनिंग पूरा करना होता है, जहा पर आपको ट्रेनिंग के लिए किसी अन्य शहर मे भेजा जाता है, जहा पर आपकी ट्रेनिंग पूरी होने पर किसी अन्य शहर मे आईपीएस ऑफिसर के पद पर नियुक्ति की जाती, तो इस तरह आईपीएस ट्रेनिंग पूरा करने के बाद आप एक आईपीएस ऑफिसर (IPS Officer) बनते है.

आईपीएस की सैलरी (IPS Officer Salary) कितनी होती है

जब इतने मेहनत और सफलता प्राप्त करने के बाद आपकी आईपीएस ऑफिसर के पद पर नियुक्ति होती है, तो ऐसे मे अब आपके मन मे यह सवाल जरूर आएगा की आईपीएस ऑफिसर का वेतन (IPS Salary)  कितना होता है, तो ऐसे मे यह जान लेना चाहिए की आईपीएस की सैलरी पद के हिसाब से अलग-अलग होती है जो इस प्रकार से है-

  • पुलिस उपाधीक्षक -Deputy Superintendent Of Police – 15,600-39,100 (Grade Pay Of 5,400)
  • अपर पुलिस अधीक्षक – Additional Superintendent Of Police – 15,600-39,000 (Grade Pay 6,600)
  • पुलिस उपमहानिरीक्षक – Deputy Inspector General Of Police – 37,400-67,0000 (Grade Pay 8,900)
  • पुलिस महानिरीक्षक/संयुक्त पुलिस आयुक्त – Inspector General Of Police/Joint Commissioner Of Police – 37,400-67,000 (Grade Pay 10,000)
  • पुलिस अधीक्षक – Superintendent Of Police – 15,600-39,000 (Grade Pay 7,600)
  • वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक – Senior Superintendent of Police – 15,600-39,000 (Grade Pay 8,700)
  • अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक – Additional Director General Of Police -37,400-67,000 (GradePay 12,000)
  • पुलिस महानिदेशक – Director General Of Police – 80,000 (No Grade Payment)

ये थी आईपीएस ऑफिसर कैसे बने? की जानकारी। हमें उम्मीद हैं आपको सबकुछ सही से समझ आ गया होगा और आपको आईपीएस बनने के फायदे और एक आईपीएस की सैलरी कितनी होती है यह भी पता चल गया होगा।

आईपीएस ऑफिसर के पद और कैरियर (Career Options in IPS)

आईपीएस परीक्षा पास करने के बाद निम्न पदो पर अपना कैरियर बना सकते है –

1) पुलिस महानिदेशक – Director General of Police

2) पुलिस महानिरीक्षक – Inspector General of Police

3) पुलिस उप महानिरीक्षक – Deputy Inspector General of Police

4) अतिरिक्त पुलिस आयुक्त – Additional Commissioner of Police

5) अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक – Additional Superintendent of Police

6) आईपीएस प्रोबेशनर- IPS Probationer

निष्कर्ष :-

तो अब आप जान गए होंगे की IPS Officer Kaise Bane और साथ इसकी  इसकी तैयारी, सिलेबस, योग्यता और सैलरी के बारे मे भी विस्तार से जान गए, तो हमने आईपीएस ऑफिसर कैसे बने के इस पोस्ट मे जो भी कुछ जाना, वो इस प्रकार है –

  • आईपीएस ऑफिसर क्या है?
  • IPS का फुल फार्म क्या होता है
  • आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए योग्यता
  • आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता
  • आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए आयु सीमा
  • आईपीएस ऑफिसर कैसे बने?
  • आईपीएस ऑफिसर के लिए चयन प्रक्रिया
  • आईपीएस के परीक्षा तैयारी कैसे करें
  • आईपीएस की सैलरी कितनी होती है
  • आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए क्या करना पड़ेगा

तो इस पोस्ट मे IPS Officer Kya Hai? IPS Officer Kaise Bane? IPS Officer Ki Taiyari Kaise Kare के बारे मे अच्छे से जान गए, तो ऐसे मे आपको यह पोस्ट आप सभी को काफी पसंद आई होगी, तो आपको यह पोस्ट कैसा लगा, कमेंट मे हमे जरूर बताए और इस पोस्ट को अपने दोस्तों और अन्य लोगों के साथ अधिक से अधिक शेयर करें…

अन्य कैरियर के इन पोस्ट को पढे :- 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button