नर्स कैसे बने | नर्सिंग कोर्स की तैयारी कैसे करे

0

चिकित्सा के क्षेत्र मे आप भी अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो इस पोस्ट मे आपको सम्पूर्ण जानकारी देंगे की नर्स कौन होते है, Nursing Course Kya Hota Hai, नर्स का काम क्या होता है?, Nurse Kaise Bane, एएनएम की तैयारी कैसे करें? बीएससी नर्सिंग कोर्स क्या है? एएनएम नर्सिंग कोर्स क्या है? नर्स का कोर्स, नर्सिंग की तैयारी कैसे करें, सरकारी नर्स की सैलरी, नर्सिंग कोर्स फीस डिटेल्स, नर्सिंग कोर्स फॉर आर्ट्स स्टूडेंट, रोल ऑफ़ नर्स इन हिंदी और नर्स के कार्य क्या है, Nursing Course Ki Taiyari Kaise Kare इन सभी के बारे मे जानेगे, जिससे आपको नर्स बनने के कैरियर मे आसानी होगी।

नर्स किसे कहते है

यदि आप सेवा के क्षेत्र मे अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो एक डॉक्टर के बाद Nurse का पेशा बहुत ही सम्मानजनक होता है, जो की डॉक्टर के बाद एक नर्स ही अपने मरीज की जीजान से सेवा करती है, उसका देखभाल करती है, समय समय पर दवाई और भोजन देती है, और मरीज को कोई भी आकस्मिक ट्रीटमेंट की जरूरत होती है, तो वह डॉक्टर को सूचित करके मरीज की जान की रक्षा भी करती है, जिससे नर्स के इन कार्यो से उसकी सेवा की तुलना पैसे से नही की जा सकती है, और आज के समय मे नर्स बनना कैरियर के रूप मे एक बेहतर विकल्प भी है, जिसमे पैसे और सम्मान दोनों चीजे मिलती है,

Nurse Kaise Bane Nursing Course Ki Taiyari Kaise Kare Qualification Salaryजैसा की हम सभी जानते है, की जब कोई बीमार होता है, उसे ठीक होने के लिए डॉक्टर की जरूरत पड़ती है, एक डॉक्टर तो अपने मरीज की जांच करके उसके रोग के अनुसार दवाई देता है, लेकिन जब मरीज की हालत गंभीर होती है, उसे अस्पताल मे भर्ती होना पड़ता है, जहा पर मरीज की दवाई और जरूरी ट्रीटमेंट डॉक्टर देता है, लेकिन उस मरीज की देखभाल की ज़िम्मेदारी नर्स की होती है, किस समय कौन सी दवाई मरीज को देना है, मरीज की लगातार देखभाल की ज़िम्मेदारी Nurse की होती है, जो नर्स का कार्य बहुत ही ज़िम्मेदारी वाला कार्य होता है,

सामान्य भाषा मे Nurse का अर्थ समझे तो वह पुरुष या महिला जो की अपने मरीजो की सेवा करती है, रोगी की देखभाल करती है, नर्स कहलाता है, और Nurse जो की एक अँग्रेजी भाषा का शब्द है, जिसका हिन्दी अर्थ पोषण होता है,

नर्स कैसे बने

जिस प्रकार एक डॉक्टर बनने के लिए कई तरह के डिग्री या सर्टिफिकेट कोर्स होते है, उन कोर्सो को करने के बाद आप डॉक्टर बन जाते है, ठीक उसी प्रकार नर्सिंग के क्षेत्र मे भी कई प्रकार के डिग्री या सर्टिफिकेट कोर्स होते है, जिन्हे करने के बाद अपना नर्सिंग के क्षेत्र मे अपना कैरियर बना सकते है।

ऐसे मे यदि आप नर्स बनना चाहते है, तो Nursing मे अपना कैरियर बनाने के लिए Graduate या Under Graduate स्तर पर इन नर्सिंग डिग्री, डिप्लोमा, अंडर ग्रेजुएट एवं सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई कर सकते है, जिन सभी कोर्स की अलग अलग नियम, शर्ते और योग्यता होनी चाहिए, जिसके आधार आपका इन कोर्स या सर्टिफिकेट के लिए चयन होता है, फिर इन कोर्स को पूरा करने के बाद आपको इन Nursing Course की डिग्री या डिप्लोमा मिल जाता है, जिसके बाद सरकारी या गैर सरकारी क्षेत्र मे नर्स के पद के लिए Apply कर सकते है। जहा पर उनकी सभी अहर्ताओ को पूरी करने के बाद आपका एक Nurse के पद पर चयन हो जाता है।

नर्सिंग कोर्स क्या है | नर्स बनने के लिए नर्सिंग कोर्स | Nursing Course in Hindi

नर्स बनने के लिए कौन कौन से Nursing Course होते है, उनके लिए क्या क्या शैक्षिक योग्यता होनी चाहिए, इन सभी के बारे मे जानते है –

Nursing Course in Hindi

  • बीएससी नर्सिंग (Sc Nursing)
  • जीएनएम (GNM) (General Nursing & Midwifery)
  • एएनएम (ANM) (Auxiliary Nurse Midwife)

 बीएससी नर्सिंग कोर्स क्या है | बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स कैसे करे

B.Sc Nursing एक ग्रेजुएट डिग्री कोर्स है, जो की इस कोर्स को Private या सरकारी दोनों ही तरह के संस्थान (Institute) से कर सकते है, प्राइवेट संस्थानों में फीस कुछ ज्यादा होती है लेकिन यहाँ आपका पर्सेंटेज अच्छा है, तो परसेंटेज के हिसाब से डायरेक्ट प्रवेश मिल जाता है.

बीएससी नर्सिंग के लिए योग्यताए | B.Sc Nursing Qualification in Hindi

  • बीएससी नर्सिंग कोर्स करने के लिए बारहवीं कक्षा (12th) विज्ञान संकाय (Science Facility) में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है.
  • 12 वीं कक्षा में Physics, Chemistry & Biology (भौतिकी, रसायन और जीवविज्ञान) में कम से कम 50% अंक होना चाहिए.
  • बीएससी नर्सिंग के लिए आपकी उम्र 17 से 35 वर्ष के बीच होना चाहिए.
  • यदि सरकारी कालेज से B.Sc Nursing के लिए इस नर्सिंग कोर्स का फीस 8000 से 30000 रुपये प्रतिवर्ष है और Private Nursing College की फीस लगभग एक लाख तक होती है.

यदि ये सभी योग्यताएं फालों करते है, तो बीएससी नर्सिंग कोर्स में एडमिशन लेने के लिए अप्लाई कर सकते है।

बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स के बाद Nurse Career

B.Sc Nursing Course करनें के पश्चात आपको अस्पतालों में स्टाफ नर्स के पद पर नियुक्त किया जाता है, जहा पर दो या तीन वर्ष का अनुभव (Nurse Experience) प्राप्त करनें के पश्चात आप वार्ड सिस्टर का पद प्राप्त हो जाता है, नर्सिंग करनें के बाद आप सरकारी और निजी अस्पतालों में नौकरी कर सकते हैं,

इसके अतिरिक्त कम्युनिटी हेल्थ नर्सेस, स्पेशल क्लिनिक व केयर सेंटर, स्कूल हेल्थ नर्सेस, इंडस्ट्रीयल नर्स और आर्म्ड फोर्सेस, ड्रग कंपनी और काउंसलिंग सेंटर में भी नौकरी कर सकते हैं, साथ ही आप नर्सिंग कॉलेजों में टीचर भी बन सकते हैं । बीएससी नर्सिंग करनें के पश्चात अपनी रूचि के अनुसार सेना में भी नर्स बनने हेतु आवेदन कर सकते हैं।

जीएनएम नर्सिंग कोर्स क्या है | जीएनएम (GNM) (General Nursing & Midwifery) कोर्स कैसे करे

जीएनएम का Full Form जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी (General Nursing & Midwifery) होता है, जो की यह एक ग्रेजुएट डिग्री कोर्स है, GNM Course महिला और पुरुष दोनों कर सकते हैं. इस कोर्स को करने के लिए बारहवी के बाद अप्लाई कर सकते है, इस कोर्स को Private या सरकारी दोनों ही तरह के संस्थान (Institute) से कर सकते है, प्राइवेट संस्थानों में फीस कुछ ज्यादा होती है लेकिन यहाँ आपका पर्सेंटेज अच्छा है, तो परसेंटेज के हिसाब से डायरेक्ट प्रवेश मिल जाता है.

GNM Course के लिए योग्यता | General Nursing & Midwifery Course Qualification

  • जीएनएम कोर्स करने के लिए आपको 12वीं कक्षा भौतिकी, रासयान और जीवविज्ञान (PCB) में उत्तीर्ण करनी होगी.
  • बारहवीं में कम से कम 40%- 50% अंक होना चाहिए.
  • अभ्यर्थी की उम्र 17 से 35 वर्ष के बीच होना चाहिए.
  • यह कोर्स तीन वर्ष का होता है.
  • यदि सरकारी कालेज से GNM Course के लिए इस कोर्स का फीस 8000 से 30000 रुपये प्रतिवर्ष है और Private Nursing College की फीस लगभग एक लाख तक होती है.

यदि ये सभी योग्यताएं फालों करते है, तो बीएससी जीएनएम नर्सिंग कोर्स में एडमिशन लेने के लिए अप्लाई कर सकते है।

जीएनएम नर्सिंग (GNM Nursing) कोर्स के बाद Nurse Career

पाठ्यक्रम कम्पलीट होनें के बाद आपको रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट प्राप्त होता है | GNM Course करने के बाद आप किसी भी Private Hospital में नर्स का काम कर सकते हैं या सरकारी हॉस्पिटल में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं, और प्राइवेट हॉस्पिटल या सरकारी संस्थान में नौकरी कर सकते है |

एएनएम नर्सिंग कोर्स क्या है | एएनएम (ANM) (Auxiliary Nurse Midwife) कोर्स कैसे करे

ANM का English Full Form Auxiliary Nurse Midwife होता है, जबकि एएनएम का हिन्दी फुल फॉर्म सहायक नर्स मिडवाइफ होता है, इस डिप्लोमा कोर्स में छात्र को इलाज के दौरान उपयोग होनें वाले उपकरणों के रखरखाब और उनको उपयोग करने की जानकारी दी जाती है, ए.एन.एम कोर्स के लिए सिर्फ लड़किया ही आवेदन कर सकती है, इस पाठ्यक्रम की अवधि दो वर्ष होती है |

ANM Course के लिए योग्यता | Auxiliary Nurse Midwife Course Qualification

  • ANM कोर्स करने के लिए उम्मीदवार को बारहवीं कक्षा (विज्ञान या कला संकाय/Science/ Arts) में उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • 10+2 में कम से कम 40% से 50% अंक होना चाहिए.
  • उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 17 वर्ष और अधिकतम उम्र 35 वर्ष होना चाहिए.
  • इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए Entrance Exam देना होता है.
  • यदि सरकारी कालेज से ANM Course के लिए इस नर्सिंग कोर्स की फीस 30000 से 40000 रुपये प्रतिवर्ष है और निजी संस्थानों में इसकी फीस लगभग एक लाख तक होती है.

यदि ये सभी योग्यताएं फालों करते है, तो बीएससी एएनएम नर्सिंग कोर्स में एडमिशन लेने के लिए अप्लाई कर सकते है।

एएनएम नर्सिंग (ANM Nursing) कोर्स के बाद Nurse Career

इस कोर्स को करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल या राज्य सरकार द्वारा चलाये गए स्वास्थ्य देखभाल केंद्र में सहायक के रूप में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त सरकारी अस्पताल में नर्स जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं. दो-तीन वर्ष नर्स का काम करने के बाद आपको अनुभव हो जाता है. अनुभव प्राप्त होने के बाद आपको वार्ड सिस्टर पद की जॉब मिलती है.

Nursing Course करने के बाद राज्य सरकार द्वारा संचालित सरकारी अस्पतालों और निजी अस्पतालों में नर्स का काम कर सकते है, इसके अलावा स्पेशल क्लिनिक व केयर सेंटर में स्कूल हेल्थ नर्सेस, इंडस्ट्रियल नर्स और आर्म्ड फोर्सेस नर्स, कम्युनिटी हेल्थ नर्सेस आदि संस्थानों में नर्स की नौकरी पा सकते हैं. साथ ही आप किसी नर्सिंग कॉलेज में शिक्षक (Nursing Teacher) के रूप में नर्सिंग शिक्षण का काम कर सकते हैं.

नर्सिंग की तैयारी कैसे करे | Nursing Course Ki Taiyari Kaise Kare

जैसा की अब अब जान गए होंगे की नर्सिंग के क्षेत्र में अनेक प्रकार के कोर्स होते हैं, इसमें डिप्लोमा, अंडर ग्रेजुएट एवं सर्टिफिकेट आदि होते है, इन सभी का पाठ्यक्रम, तथा कोर्स की अवधि अलग-अलग होती है, तो ऐसे मे Nursing में कैरियर बनानें हेतु इन अलग अलग कोर्स के अनुसार तैयारी करनी होगी, जैसे एएनएम कोर्स की अवधि दो वर्ष है, और तीनो वर्षो के पाठ्यक्रम अलग-अलग है, इसकी तैयारी इसके पाठ्यक्रम के अनुसार करनी चाहिये, जिसके लिए पुराने सालो के प्रश्न पत्रो की सहायता से इनकी प्रवेश परीक्षा की तैयारी मे काफी आसानी भी होती है, जिसे इन कोर्स को करने के लिए Entrance Exam पास करने के बाद प्रवेश मिल पाता है।

भारत में नर्सिंग कॉलेज | Best Nursing College in India

भारत में Nursing Course करने के लिए कुछ प्रसिद्ध नर्सिंग संस्थान है जो नर्स ट्रेनिंग करवाता है, अगर आप भी नर्सिंग कोर्स करना चाहते हैं, तो इन संस्थानों में प्रवेश ले सकते  है. तो चलिये इन कुछ प्रसिद्ध नर्सिंग संस्थान के नाम को जानते है –

  • Best Nursing College in India - BHUबनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी (BHU)
  • आल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज, नयी दिल्ली  (AIIMS)
  • जवाहरलाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, पांडिचेरी (JIPMER)
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़
  • क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर (CMC)
  • आर्म्ड फोर्सेस मेडिकल कॉलेज, पुणे (AFMC)

नर्स की सैलरी | Nurse Salary in Hindi

जब आपका एक नर्स के रूप मे नियुक्ति हो जाती है, तो आपको नर्स के रूप मे शुरूआत में आपको 7 से 18 हज़ार रूपये तक मासिक वेतन मिलता है, और जैसे नर्स के रूप मे नर्सिंग क्षेत्र मे अनुभव बढ़ता है, तो इस अनुभव के आधार पर प्रमोशन किया जाता है, और फिर फिर मिड-लेवल पदों पर नर्स को 18 से 38 हज़ार रूपये तक तथा उससे भी अधिक अनुभवी नर्सों को 48 से 72 हज़ार रूपये मासिक वेतन के साथ साथ अन्य सभी सरकारी सुविधाए मिलती है।

निष्कर्ष –

तो इस पोस्ट Nurse Kaise Bane मे नर्स कौन होते है, नर्स का काम क्या होता है?, Nurse Kaise Bane, एएनएम की तैयारी कैसे करें? बीएससी नर्सिंग कोर्स क्या है? नर्स का कोर्स, नर्सिंग की तैयारी कैसे करें, Nurse Course Ki Taiyari Kaise Kare, सरकारी नर्स की सैलरी, नर्सिंग कोर्स फीस डिटेल्स, और नर्स के कार्य क्या है, इन सभी के बारे मे विस्तार से जान गए होंगे।

Previous articleयोगा टीचर कैसे बने
Next articleफ़िटनेस ट्रेनर कैसे बने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here