AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Technology, Finance, Make Money, Jobs, Sarkari Naukri, General Knowledge, Career Tips, Festival & Motivational Ideas To Change Yourself

Festival Hindi Essay हिन्दी निबन्ध

पशुपालन का महत्व विश्व पशु दिवस पर निबंध – World Animal Day Essay In Hindi Nibandh

World Animal Day Essay In Hindi Nibandh

विश्व पशु दिवस पर निबंध महत्व

World Animal Day यानि विश्व पशु दिवस प्रत्येक वर्ष 4 अक्टूबर को मनाया जाता है, यह दिन पशु के अधिकारो एंव संरक्षण से संबन्धित कारणो पर विचार विमर्श किया जाता है, उनके लिए विभिन्न संरक्षण कानून बनाए जाते है, ताकि पशुओ का स्थान और महत्व हमारे समाज के लिए बना रहे, और हम उनके संरक्षण के लिये उत्तरदायित्व का निर्वहन करते रहे।

तो चलिये इस World Animal Day पर पशुओ, जानवरो के महत्व को ध्यान मे रखते हुए विश्व पशु दिवस पर निबंध World Animal Day Essay Nibandh को जानते है, जिससे हम सभी पशुओ के जीवन को संरक्षित करने मे जानकारी मिल सकती है, और इसी कारण इस दिन को विश्व पशु कल्याण दिवस | World Animal Welfare Day भी कहा जाता है।

विश्व पशु दिवस पर निबंध

World Animal Day Essay in Hindi

World Animal Day Essay in Hindi Nibandhप्रत्येक वर्ष 4 October को विश्व पशु दिवस | वर्ल्ड एनिमल डे मनाया जाता है, World Animal Day अक्टूबर 4 को असीसी के सेंट फ्रांसिस के सम्मान में मनाया जाता है, जो जानवरों और पशुओ के लिए वे बहुत बड़े पशु प्रेमी और संरक्षक संत थे।

विश्व पशु दिवस के जरिये लोगो मे पशुओ के प्रति क्रूरता को रोकने और उन्हे संरक्षित रखने के लिए लोगो को जागरूक करना होता है, जैसे हम इन्सानो को जीने के लिए मूल अधिकार दिये गए है, ठीक वैसे ही पशुओ के जीवन के लिए मूल अधिकार निर्धारित किए गए है, क्यूकी ये पशु और जानवर हमारे पारिस्थितिक तंत्र के महत्वपूर्ण हिस्सा होते है, इनके जरिये Eco System मे संतुलन बना रहता है,

जिस कारण से लोगो को जानवरो के संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने के लिए 4 October को विश्व पशु दिवस | World Animal Day के दिन दुनिया भर मे तरह तरह कार्यक्रम आयोजित किए जाते है, इन विविध कार्यक्रमों के जरिये लोगो को पशुओ, जानवरो के संरक्षण के प्रति जागरूक किया जाता है। जिस कारण इस दिन को विश्व पशु कल्याण दिवस | World Animal Welfare Day, विश्व पशु दिवस , वर्ल्ड एनिमल डे, World Animal Day, विश्व पशु कल्याण दिवस, World Animal Welfare Day, Vishwa Pashu Diwas, International Animal Day भी कहा जाता है,

विश्व पशु दिवस कब मनाया जाएगा

World Animal Day Date Time Tithi Calendar in Hindi

जैसा आप सोंच रहे होंगे की विश्व पशु दिवस कब मनाया जाता है, तो वर्ष विश्व पशु दिवस | वर्ल्ड एनिमल डे 4 October को प्रत्येक मनाया जाता है, जो की इस साल 2020 मे 4 October रविवार के दिन World Animal Day पड़ रहा है।

4 October – विश्व पशु दिवस , वर्ल्ड एनिमल डे, World Animal Day, विश्व पशु कल्याण दिवस, World Animal Welfare Day, Vishwa Pashu Diwas, International Animal Day.

अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस विश्व पशु दिवस का इतिहास

World Animal Day History in Hindi

ऐसा माना जाता है कि विश्व पशु दिवस को पहली बार एक जर्मन लेखक हेनरिक जिमर्मन के द्वारा मनाया गया था। जो की 4 अक्टूबर को इसे मनाने के लिए प्रारंभिक विचार के बावजूद, जो सेंट फ्रांसिस के दावत का दिन होता है, इसे 24 मार्च 1925 को आयोजन स्थल की चुनौतियों के कारण बर्लिन में मनाया गया। पहली बार जब इसे मनाया गया तो इस आयोजन में लगभग 5000 se ज्यादा लोग इक्कठे हुए थे।

4 अक्टूबर के बाद इसे वर्षों से अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस | International Animal Day के रूप में मनाया जाता है। पशुओ के संरक्षण हेतु अनेक आंदोलन सदियो से होते रहे है, तो शुरू शुरू में इस आंदोलन को जर्मनी में मनाया गया और धीरे-धीरे स्विट्ज़रलैंड, ऑस्ट्रिया और चेकोस्लोवाकिया (वर्तमान समय के चेक गणराज्य और स्लोवाकिया) जैसे आसपास के देशों में भी इसकी लोकप्रियता जा पहुंची। और फिर सन 1931 में फ्लोरेंस, इटली में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय पशु संरक्षण सम्मेलन | World Animal Welfare ने अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस के रूप में 4 अक्टूबर को मनाने के लिए एक प्रस्ताव पारित किया और अनुमोदित किया।

और हाल के बीते वर्षों में अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस ने वैश्विक स्वीकृति प्राप्त कर लिया, जिसका मुख्य कारण इन्सानो और जानवरो के मध्य आपसी रिश्तो की मजबूती को दर्शाता है और हाल मे ही World Animal Day से समबंधित कई इवेंट्स अब समन्वयित प्रयासों के परिणामस्वरूप और इस धरती पर पशुओं के संरक्षण के प्रति संवेदीकरण बढ़ाने के मूल उद्देश्य से लोगों के स्वैच्छिक हितों के रूप में आयोजित किए जा रहे हैं। 2003 के बाद से ब्रिटेन स्थित पशु कल्याण दान संगठन नेचरवाच फाउंडेशन दुनिया के चारों ओर अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस के संगठन के लिए अग्रणी और प्रायोजित है।

विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है

World Animal Day Kyo Manaya Jaya Hai

World Animal Day मनाने के पीछे का उद्देश्य इन्सानो मे जानवरों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस मनाया जाता है, जिससे पशुओं की स्थिति और बेहतर हो और जीवन का सुधार और उनके कल्याण मानकों में सुधार करने के लिए प्रयास किए जाते है। जिस कारण से World Animal Day मनाया जाता है।

World Animal Day मनाने के पीछे मुख्य उद्देश्य संवेदनशील प्राणी के रूप में जानवरों को पहचान किया जाय और उनकी भावनाओं का सम्मान किया जाना चाहिए और और उनके जीवन को बेहतर सुविधा प्रदान किया जाय ताकि ये पशु, जानवर सभी अपना जीवन बेहतर तरीके से जी सके।

जिस कारण से World Animal Day के दिन विविध कार्यक्रमों, समारोहों, जागरूकता अभियान आयोजित किए जाते है, इन सभी कार्यक्रमों का उद्देश्य पशुओ के संरक्षण के प्रति लोगो मे जागरूकता लाना होता है।

मानव जो की पारिस्थितिक तंत्र के हिस्सा हैं, उसमे ये पशु, जानवर आदि भी शामिल है, जैसा कारण सभी का एक दूसरे के जीवन पर सीधा प्रभाव पड़ता है। गुज़रते समय के साथ मानव सभ्यता ने जितनी तेजी से कदम उठाया है उसके परिणामस्वरूप कई पशु प्रजातियों के जीवन पर हानिकारक प्रभाव पड़ा है। और कई पशु तो अपने अस्तित्व खोने को है, या फिर विलुप्ति के कगार पर है, और यदि ऐसे ही चलता रहे, तो भविष्य मे भयंकर परिणाम देखने को मिल सकते है, फिर हम उस स्थिति मे सिर्फ हाथ मलते रह जाएगे।

जिस कारण से मनुष्य के विचारों के विकास ने भी यह समझने में योगदान दिया है कि जानवर भी संवेदनशील प्राणी हैं और उनके कल्याण का महत्व सर्वोच्च है। ये सभी पशु, जानवर हमारे जीवन के लिए अत्यंत आवश्यक है।

World Animal Day के जरिये लोगो ने स्वीकार किया है की प्रत्येक जानवर अपने आप मे महत्वपूर्ण और संवेदनात्मक प्राणी है और इसलिए वह सामाजिक न्याय पाने के भी योग्य है। इस तथ्य पशु संरक्षण के लिए आधार बनता है। यह अवधारणा महत्वपूर्ण है क्योंकि इस पर आधारित संरक्षण गतिविधियां केवल लुप्तप्राय प्रजातियों तक ही सीमित नहीं है बल्कि धरती पर सभी जानवरों के लिए है जो बहुतायत में हो सकते हैं।

विभिन्न मानव क्रियाओं का पशु जीवन पर स्थायी प्रभाव पड़ता है, जैसे जैसे जनसंख्या बढ़ती जा रही है, पशुओ के रहने के स्थान जंगल आदि कटते जा रहे है, जिस कारण से इन पशुओ, जानवरो के रहने के घर उनसे छिनते जा रहे है, ऐसे मे यह महत्वपूर्ण है कि हम मनुष्य के रूप में जानवरों के जीवन में सुधार करने के लिए सक्रिय रूप से कार्य करने की ज़िम्मेदारी रखें।

और फिर अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस के जरिये जागरूकता फैलाने पर ध्यान केंद्रित करता है ताकि पशुओं की तरफ दया की भावना पैदा हो सके और इस तरह एक कानून बनाने के लिए काम किया जा सके जिससे दुनिया में सभी जीवित चीजों के लिए एक बेहतर जगह बन सके।

World Animal Day का उद्देश्य और यह काफ़ी हद तक पशु अधिकारों के कारण वैश्विक पहचान बनाने में सफल रहा है जिसने विभिन्न कारणों और समूहों के लिए समर्थन और मान्यता प्रदान करने में सहायता की है जो इस उद्देश्य से जमीनी स्तर से लगे हुए हैं। World Animal Day के लिए यह वैश्विक ब्रांड उन्हें मीडिया में ब्रांड मार्केटिंग और कवरेज के माध्यम से न केवल ज्ञान प्राप्त करने में मदद करता है बल्कि पैसा जमा करने के माध्यम से गतिविधियों के लिए समर्थन भी प्राप्त करता है।

स्थानीय स्तर पर और मुख्य धारा, सरकारो, मीडिया का ध्यान आकर्षित करने के प्रयास सफल रहे हैं जिसने मामले को मुख्य धारा में लाकर खड़ा कर दिया। लोगो का यह प्रयास और प्रचार संदेश को अधिक व्यापक रूप से बड़े दर्शकों के लिए फैलाने में मदद करता है। जिस कारण से लोगो मे तेजी से जागरूकता फैल रही है। जिस कारण से विश्व पशु दिवस का महत्व दिनोदिन बढ़ता जा रहा है। जो की पशुओ के संरक्षण के लिए अच्छी बात है।

विश्व पशु दिवस कैसे मनाया जाता है

World Animal Day Kaise Manaye

आप सोंच रहे होंगे की अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस कैसे मनाया जाता है, तो चलिये हम आपको इसके मनाने के तरीको के बारे मे जानते है।

विश्व पशु दिवस के दिन पशु, जानवरो के हित के संदेश प्रसारित करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। व्यक्तिगत पशु कार्यकर्ता, पशु कल्याण संगठन, पशु प्रेमी आदि अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस के बड़े बैनर के तहत कार्यक्रम आयोजित करते हैं। जिसमे अलग-अलग स्थानों में आयोजित होने वाली विविध कार्यक्रमों के प्रकार अलग-अलग होते हैं। और फिर जश्न की भावना का उद्देश्य ऐसा माहौल तैयार करना है जो किसी भी राष्ट्रीयता, वंश या संस्कृति से परे है और जानवरों के अधिकारों की देखभाल के लिए ध्यान केंद्रित करना होता है।

विश्व पशु दिवस पर आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम इस प्रकार हैं:- 

  • स्कूलों के माध्यम से विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करके युवा बच्चों के बीच विश्व पशु दिवस के लिए जागरूकता फैल रही है।
  • विश्व पशु दिवस के लिए शिक्षा और जागरूकता अभियान की घटनाएं।
  • विश्व पशु दिवस पर कार्यशालाएं, विभिन्न जानवरों के संबंधित मुद्दों पर चर्चा करने और समझने के लिए सम्मेलन।
  • इस दिन के लिए विभिन्न धन उगाहने वाले कार्यक्रम जिसमें कॉन्सर्ट, शो आदि शामिल हैं।
  • विश्व पशु दिवस पर विभिन्न कार्यशालाएं और कार्यक्रम तथा वयस्कों, पालतू पशु मालिकों, काम करने वाले पशु मालिकों आदि सहित विभिन्न लोग
  • विश्व पशु दिवस पर पशु आश्रयों का उद्घाटन।
  • पशु चिकित्सा व्यवस्था में विशेष कार्यक्रम जिसमें स्वास्थ्य जांच शामिल है
  • विश्व पशु दिवस पर संदेश के साथ बड़े दर्शकों तक पहुंचने के लिए रेडियो, टेलीविजन, पॉडकास्ट आदि पर साक्षात्कार और विशेष शो।
  • पशु कल्याण के साथ सामुदायिक समारोहों में चर्चाओं पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है।
  • विश्व पशु दिवस पर जागरूकता पैदा करने के साथ-साथ पशु अधिकारों के आवश्यक कानून के लिए लड़ने के लिए विरोध प्रदर्शन, रैलियां आदि निकालना ।
  • विश्व पशु दिवस पर रेबीज रोकथाम ड्राइव के लिए टीकाकरण.

जिस कारण से दुनिया के विभिन्न हिस्सों में आयोजित कई कार्यक्रमों में समय के साथ भारी वृद्धि हुई है। विभिन्न देशों के लोग अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस की इकाई के अंतर्गत इन कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं। जिस कारण से विश्व पशु दिवस की महत्ता बढ़ती जा रही है।

भारत मे विश्व पशु दिवस का महत्व और स्थान

World Animal Day in India in Hindi

जैसा की जानते है, पूरे विश्व मे पशुओ के संख्या के मामले मे भारत का दूसरा स्थान है, ऐसे मे भारत के लिए पशुओ की संरक्षण की आवश्यकता काफी हद तक बढ़ जाती है, ऐसे मे भारत में विश्व पशु दिवस समारोह के बारे में जागरूकता फैलाने की बहुत संभावना है। ऐसे कई संगठन हैं जो अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण दिवस या वन्य जीवन दिवस आदि जैसे विभिन्न अवसरों पर अपने व्यक्तिगत अभियान और समारोहों को आयोजित करते हैं लेकिन विश्व पशु दिवस | World Animal Day को देश में और अधिक कर्षण प्राप्त करने की आवश्यकता है। भारत में विश्व पशु दिवस की जागरुकता फैलाने के लिए कुछ चीजें लागू की जा सकती हैं:

सभी पशु कल्याण संगठनों जैसे ब्लू क्रॉस, पीएडब्लूएस, हेल्प पशु भारत आदि को हर साल विश्व पशु दिवस का जश्न मनाने के लिए इसका अभ्यास करने की जरूरत है।

जागरूकता अभियान और कार्यशालाएं बच्चों के लिए करुणा विकसित करने में मदद करने के लिए स्कूलों में भी आयोजित की जा सकती हैं और जानवरों के अधिकार, उनके नैतिक उपचार आदि की समझ हासिल करने में मदद कर सकती हैं। इन कार्यशालाओं में क्विज़ और नाटक जैसी विभिन्न गतिविधियां शामिल हो सकती हैं।

तो अंत मे यही निष्कर्ष निकलता है की World Animal Day के जरिये पशुओं, जानवरो पर क्रूरता, जानवरों के नैतिक अधिकारों, संवेदनशील प्राणियों के रूप में पशुओं की मान्यता जैसे मुद्दों पर जागरूकता पैदा करने में काफी हद तक सफल रहा है। अब यह एक विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त ब्रांड के रूप World Animal Day रूपांतरित हो गया है जिसने कई जानवरों के लिए मंच बनाया है। कल्याणकारी कार्यकर्ताओं और संगठनों का उद्देश्य न केवल लोगों के एक बड़े समूह के लिए पशुओं से संबंधित विभिन्न मुद्दों का प्रचार करना है बल्कि इसे अधिक प्रभावी रूप से फैलाना भी है।

तो आपको यह निबंध विश्व पशु दिवस पर निबंध World Animal Day Essay in Hindi कैसा लगा, कमेंट मे जरूर बताए, और साथ ही इस विश्व पशु दिवस से संबन्धित अपने विचारो को भी हमारे साथ शेयर जरूर करे, तथा लोगो मे पशुओ के प्रति जागरूकता लाने के लिये इस निबंध विश्व पशु दिवस, वर्ल्ड एनिमल डे एस्से, World Animal Day Essay, विश्व पशु कल्याण दिवस, World Animal Welfare Day, Vishwa Pashu Diwas, International Animal Day Essay को शेयर भी जरूर करे।

आप इस पोस्ट को कितने स्टार देंगे
[Total: 0 Average: 0]
शेयर करे

Follow AchhiAdvice at WhatsApp Join Now
Follow AchhiAdvice at Telegram Join Now

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read in Your Language »