नशा विरोध दिवस पर निबन्ध No Drugs Day Essay in Hindi

0

No Drugs Day – जैसा की हम सभी जानते है की नशा नाश का जड़ होता है, ये जिसे भी लगता है, उसे बरबाद कर देता है, इसलिए सबको नशीली चीजो के सेवन से बचने का सलाह दिया जाता है.

इसी नशा के दुष्प्रभाव से लोगो को बचाने के लिए प्रतिवर्ष 26 जून को No Drugs Day यानि नशा विरोध दिवस मनाया जाता है, जो की 1987 में पहली बार संयुक्त राष्ट्र संघ के नेतृत्व में नशा विरोध दिवस की शुरुआत हुआ था, जिसका मुख्य उद्देश्य विश्व के लोगो को नशीली दवाओ के सेवन से बचने के लिए जागरूक किया जाता है. और विश्व में नशीली चीजो के तश्करी पर रोक लगाने के लिए भी जागरूक किया जाता है.

तो चलिए इसी नशा विरोध दिवस यानि No Drugs Day की महत्ता को देखते हुए नशा विरोध दिवस पर हिन्दी निबन्ध No Drugs Day Essay बताने जा रहे है.

नशा विरोध दिवस पर निबन्ध

No Drugs Day Essay in Hindi

No Drugs Dayसंयुक्त राष्ट्र संघ के नेतृत्व में प्रत्येक वर्ष 26 जून को No Drugs Day मनाया जाता है, जो की बढ़ती नशीली चीजो के सेवन को देखते हुए नशा विरोध दिवस की महत्ता और भी अधिक बढ़ जाती है, इन नशीली चीजो के सबसे ज्यादा शिकार दुनिया भर के युवा ही है.

नशीली चीजो जैसे तम्बाकू, गुटखा, सिगरेट, शराब और अन्य नशीली चीजो का सेवन स्वास्थ्य के लिए बहुत ही हानिकारक होता है, इसके सबसे ज्यादा शिकार युवा होते है, इसके चपेट में हर साल लाखो युवा अपनी जान गवा देते है,

नशीली प्रदार्थ जिसे English में Drugs कहा जाता है, जो की नशीली दवाओ को ही कहा जाता है, ये ऐसे प्रदार्थ होते है जिनके सेवन से शरीर में नशा हो जाता है, जिसकी बुरी लत लग जाती है, और फिर धीरे धीरे यही नशीली दवाए इन्सान की जान तक ले लेती है.

यहा पर नशीली प्रदार्थ से मतलब उन नशीली चीजो से है, जो की शुरुआत में तो इसका सेवन बहुत ही अच्छा लगता है, लेकिन धीरे धीरे इनकी लत लग जाती है,जिसके आगे भूख प्यास सबकुछ खत्म जाता है, हर वक्त इन्ही नशीली चीजो की जरूरत पड़ने लगती है, और यही नशीली दवाओ का अत्यधिक सेवन शरीर में अनेक रोग पैदा कर देते है, जिसके कारण इन्सान को अपनी जान तक गवाना पड़ता है.

तो ऐसे में लोग जानते हुए भी इन नशीली चीजो का सेवन करते है, जो की बहुत ही सोचनीय है, ऐसे में यदि युवा पीढ़ी को नशे के प्रति खतरे को देखते हुए उन्हें जागरूक नही किया जाय तो आने वाले भविष्य में बहुत से युवाओ को अपनी जान गवाना पड़ सकता है, ऐसे हम सभी का दायित्व बनता है, की इन युवाओ को नशे के खतरे के प्रति उन्हें जागरूक किया जाय.

नशे को रोकने के उपाय

Ways to stop Drugs Addiction in Hindi

1 – नशीली दवाओ के व्यापार पर प्रतिबन्ध लगाना चाहिए

2 – मादक और नशीली चीजो के सेवन पर रोक लगाना चाहिए

3 – मादक प्रदार्थ के खतरों को जनता में प्रचार प्रसार करना चाहिए.

4 – नशीली चीजो जैसे कोई भी मादक प्रदार्थ हो, उसकी तश्करी पर प्रतिबन्ध लगाना चाहिए.

5 – युवाओ को इन नशीली चीजो के सेवन से होने वाले खतरे के प्रति आगाह करना चाहिए.

6 – नशामुक्ति अभियान चलाना चाहिए.

7 – नशीली मादक चीजो के सेवन को रोकने के लिए कानून बनाना चाहिए, और उसपर पूर्णतया अमल भी होना चाहिए.

नशा विरोध दिवस के 20 नारे स्लोगन Drug Addiction Day Naare Slogan

यदि हम इन चीजो को पूरी तरह लागू करते है, तो निश्चित ही नशा पर रोक लगा सकते है, और तभी नशा विरोध दिवस (No Drugs Day) मनाने का उद्देश्य सफल हो सकता है. तो आईये हम सभी मिलकर इस नशा विरोध दिवस पर सभी को जागरूक करने का प्रचार प्रसार करते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here