अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध

0

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस प्रत्येक वर्ष 21 जून को मनाया जाता है, जो की पूरे विश्व में भारत के प्राचीनतम कला साधना योग के बारे में पूरे विश्व को अवगत कराना होता है, तो चलिए इस योग दिवस के शुभ अवसर पर International Yoga Day के लिए अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस निबन्ध बताने जा रहे है.

जिसे आप इस योग दिवस के अवसर पर लोगो के बीच शेयर कर सकते है, तो चलिए इस अंतरराष्ट्रीय योग दिवस निबन्ध, International Yoga Day Essay in Hindi, Yoga Diwas Nibandh, विश्व योग दिवस निबन्ध को जानते है.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर हिन्दी निबन्ध

International Yoga Day Essay in Hindi

International Yoga Day in Hindi Essay Nibandh International Yoga Day Essay in Hindiयोग कोई एक आज की नई परम्परा नही है, यह भारत की प्राचीनतम परम्परा की एक पहचान है, प्राचीन काल में ऋषि मुनि योग साधना के द्वारा अपने मन और शारीर की चंचलता को वश में किये रहते थे और लम्बी जीवन बिताते थे, योग साधना के द्वारा बड़े बड़े तपस्वी भी लम्बे वर्षो तक अपने शरीर पर नियंत्रित किये रहते थे.

तो योग के इसी महत्ता को देखते हुए भारत के नेतृत्व में पूरे विश्व में 21 जून को विश्व योग दिवस मनाया जाता है.

21 जून अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत कैसे हुआ

International Yoga Day in Hindi

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत 21 June 2015 को पहली बार पूरे विश्व स्तर पर मनाया गया, जिसका श्रेय भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिसकी पहल 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र (United Nation Organization) में अपने भाषण से किया था और कहा था –

“योग भारत की प्राचीन परंपरा का एक अमूल्य उपहार है, यह हमारे दिमाग और शरीर की एकता का प्रतीक है, यह हम मनुष्यों का प्रकृति के बीच एक सामंजस्य है विचारो को संयम प्रदान करने वाला है, स्वास्थ्य और सहायता के लिए एक समग्र दृष्टिकोण को भी प्रदान करने वाला है,

योग यह केवल व्यायाम के बारे में नही है, बल्कि यह तो हमारे भीतर निकलने वाली एकता की भावना, संसार और प्रकृति के खोज के विषय में है जो हमारी बदलती जीवन शैली में योग चेतना बनकर हमे जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद करता है. – नरेन्द्र मोदी

जिसके बाद भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के इस पहल के बाद 21 June को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Diwas) मनाने का फैसला लिया गया, जो की United Nation Organization के 193 सदस्यों ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दी.

संयुक्त राष्ट्र के घोषणा करने के बाद, श्री श्री रविशंकर ने Narendra Modi के प्रयासों की सराहना करते है कहा : –

“किसी भी दर्शन, धर्म या संस्कृति के लिए राज्य के संरक्षण के बिना जीवित रहना बहुत मुश्किल है। योग लगभग एक अनाथ की तरह अब तक अस्तित्व में था। अब संयुक्त राष्ट्र द्वारा आधिकारिक मान्यता योग के लाभ को विश्वभर में फैलाएगी।” —Shri Shri Ravishankar.

योग क्या है

Yoga in Hindi

आजकल हमारे शरीर को जब भी कोई रोग लगता है उसका कही न कही हमारे खुद के तनाव जरुर होता है यानि हम तनाव में होते है तो हमारी रोज की जीवन प्रभावित होने लगता है. और कही न कही हमारे शरीर के स्वास्थ्य जरुर प्रभावित होता है, या सीधे तौर हम कह सकते है की हमारे तनाव की वजह से इन बीमारियों का आगमन होता है.

योग का सबसे मुख्य पक्ष यही है की हमारे द्वारा लिए जाने वाले साँस और गति पर तालमेल स्थापित करना है, यदि हम योग के द्वारा अपने सांस लेने की गति में तालमेल बैठाते है तो जिससे हमारा शरीर और मन शांति की अवस्था में चला जाता है.

योग पर 35 नारे हिन्दी स्लोगन Yoga Day Naare Hindi Slogan

जब हम तनाव की स्थिति में होते है तो हमारा Nervous System काफी हद तक सक्रीय हो जाता है जिसके चलते हमे जल्द ही थकान का असर होने लगता है हमारा शरीर उस वर्तमान स्थिति को झेलने में असक्षम हो जाता है जिसके चलते हम मानसिक तनाव का शिकार हो जाते है.

इसलिए हमे इस तनाव के चक्र को तोड़ने के लिए अपने सांस लेने की प्रक्रिया पर नियंत्रण करे तो काफी हद तक हम अपने आप से तनाव को कम कर सकते है.

मातृ दिवस मदर डे पर भाषण निबन्ध Mother Day Speech Essay in Hindi

योग कैसे करे

Yoga Kaise Kare

Yoga Day in Hindi Essay Nibandhयोग करने के लिए सबसे पहले ध्यान का होना बेहद जरुरी है, मान लीजिये हम योग करने बैठे हो और हमारा ध्यान कही और कामो को सोचने में लगा हो तो हमे योग करने से तनिक भी लाभ न प्राप्त होगा, योग हमे नियमित रूप से थोडा थोडा ही करे लेकिन इसने निरन्तरता हो तो हमे इसका फायदा जरुर मिलता है.

अगर हमारे पास कम समय हो तो रोज मुश्किल से 15 – 20 मिनट योग करना ही प्रयाप्त है योग के सबसे अच्छा समय सुबह को ही माना जाता है क्यू की प्रातकाल में air एकदम शुद्ध रहता है और वातावरण एकदम शांत रहता है तो हमारा मन योग करते समय इधर उधर नही भटकता है.

मजदूर दिवस पर नारे, स्लोगन्स और स्टेटस Labour Day Slogan Naare Status in Hindi

अगर हम कई लोग एकसाथ मिलकर एक साथ कर रहे है तो इसका आनंद कुछ और ही होता है अब तो योग के हर जगह Yoga Class भी खुल गये है जहा कई लोग एकसाथ मिलकर एक साथ योग करते है.

योग करने के फायदे

Benefits of doing yoga | Yoga Karne Ke Fayde

योग एक ऐसी प्रकिया है जिसमे हम अपने शरीर, मन और आत्मा तीनो को एक साथ स्थिर एक जगह ध्यान केन्द्रित करने पर करते है योग के माध्यम से हम अपने साँसों लेने की प्रक्रिया पर पूरा नियंत्रण रख पाते है.

तो आईए जानते है की हमे योग से किन किन चीजो का फायदा मिलता है –

1: – योग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा हम अपने मन पर नियंत्रित रख पाते है योग का प्रयोग हमेसा से कही न कही शारीरिक, मानसिक और आध्यत्मिक रूप में किया जाता ही है और आज के वैज्ञानिक और डॉक्टर भी इसे इंसानों के लिए वरदान के रूप में मान चुके है.

बाल दिवस चिल्ड्रेन डे पर हिन्दी निबन्ध Bal Diwas Children Day Essay Speech Hindi

2:- यदि हम व्यायाम करते है तो हमारे शरीर के किसी विशेस अंग पर ही प्रभाव होता है लेकिन योग के द्वारा हम अपनी साँसों पर नियंत्रण रख कर पूरी शरीर को एक ऐसी प्रक्रिया से गुजराते है की हमारे शरीर के प्रत्येक अंग का व्यायाम हो जाता है और और अंदर बाहर सभी शरीर के अंग सुचारू रूप से काम करने लगते है.

योग पर 20 अनमोल विचार Yoga Day Quotes in Hindi

3:- नियमित योग करने से हमारा शरीर किसी भी रोग से लड़ने के लिए सक्षम हो जाता है और हम योग के द्वारा एक हेल्थी और लम्बी आयु का निरोगी जीवन बिता सकते है.

4:- तरह तरह योग आसन द्वारा हमारे शरीर की सभी मांसपेशियों का व्यायाम हो जाता है जिससे की हमारा कमजोर शरीर भी मजबूत और सुडौल बन जाता है.

राष्ट्रीय एकता दिवस पर विशेष निबन्ध और महत्व National Unity Day

5:- नियमित योग करने से हमारा शरीर का अच्छा व्यायाम होता है जिससे की हमारी मानसिक तनाव भी बहुत कम हो जाती है और हम थकान से भी दूर हो जाते है,

जिसके कारण हमे समय से अच्छी भूख और अच्छी नीद भी आती है जिसके चलते हमारा पाचन तंत्र भी सही रहता है, और हम रोगों से कोसो दूर रह पाते है.

{Latest 2021} दिवाली पर निबंध Diwali Essay in Hindi

6:- योग के द्वारा हम सांस लेने की प्रकिया पर पूरा नियंत्रित रख पाते है जिसके चलते हमारे शरीर के फेफड़ो का उचित ढंग से व्यायाम होता है तो हमे सांस लेने और फेफड़े की गंभीर बीमारियों से बच पाते है.

और सही स्वास प्रक्रिया के चलते हमारे पूरे शरीर पर अच्छा प्रभाव पड़ता है और हम हस्टपुष्ट जीवन जी पाते है.

7:- योग में ध्यान का विशेस स्थान होता है जिसके चलते हमारा ध्यान हम खुद से एक जगह पर केन्द्रित रख पाते है जिसके चलते यदि हम कोई भी काम करे तो हमारा सारा ध्यान उस काम में 100% लगा रहेगा और फिर उस काम को हम काफी सफल तरीके से कर सकते है.

8:- योग करने से हमारे शरीर की तमाम विकृतिया दूर हो जाती है जैसे की तेज तेज सांस लेना, सांस लेने से जुडी तमाम बिमारिया, Sugar Level, ब्लडप्रेशर जैसी भयंकर बीमारियों पर भी हम नियंत्रण रख पाते है.

9:- योग के द्वारा हमे लगातार सीट पर बैठकर काम करने से हमारे शरीर, कमर और पैरो में आने वाली खिचाव से भी मुक्ति मिलता है एक लम्बे योगासन के द्वारा हम काफी हद तक इस तरह से आने वाली हमारे शरीर पर परेशानियों से खुद को दूर कर पाते है.

10:- योग के द्वारा हमारे शरीर ही रोगों से लड़ने की क्षमता बड़ती है जिसके चलते हमे तमाम तरह के दवाईयों से भी मुक्ति मिलती है और हम स्वस्थ्य जीवन बिता पातें है.

तो आईये हम सब इस योग दिवस पर प्रण ले की हम सभी योग जरुर करेगे और अपने जीवन को स्वस्थ और सफल बनायेंगे.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर :-

Yoga Day FAQ :- 

Q : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कब है ?

Ans :- 21 जून को

Q : पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कब मनाया गया था ?

Ans :- 2015 में

Q : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत किसने की ?

Ans :- भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने

Q : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कैसे मनाते हैं ?

Ans :- योगा करके अपने शरीर को तंदुरुस्त रखते हैं.

Q : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम क्या है ?

Ans :- बी विथ योग बी ऐट होम.

Q : योग का लक्ष्य क्या है ?

Ans :- योग के लक्ष्य के जरिये सबको स्वस्थ्य बनाना है.

Q : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य क्या है ?

Ans :- अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के जरिये विश्व के सभी लोगो को अच्छे स्वास्थ्य प्रदान कराना है.

निष्कर्ष :-

तो योग दिवस के इस निबंध में हमने योग दिवस पर निबंध के बारे जाना और साथ में यह भी जाना की ये योग क्या है, योग करने के फायदे क्या है, योग कैसे करे, 21 जून अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत कैसे हुआ। तो ऐसे में यदि International Yoga Day Essay in Hindi के बारे में कुछ पूछना चाहते है तो हमे कमेंट करके पूछ सकते है

इनके बारे में भी पढ़े :-

Previous articleमेरे पिता के लिए 10 पंक्तियाँ निबंध My Father 10 Lines Essay In Hindi
Next articleमेरी माँ के लिए 10 पंक्तियाँ निबंध My Mother 10 Lines Essay In Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here