AchhiAdvice.Com

The Best Blogging Website for Technology, Finance, Make Money, Jobs, Sarkari Naukri, General Knowledge, Career Tips, Festival & Motivational Ideas To Change Yourself

Career Study Tips

पढ़ाई में ध्यान कैसे लगाएं सरल तरीके और महत्वपूर्ण सुझाव

How To Manage Study And Mobile In Hindi

पढ़ाई मे ध्यान कैसे लगाए

हर इंसान अपनी लाइफ में सक्सेसफुल बनना चाहता है और इसके लिए वह रात दिन मन लगाकर पढ़ाई भी करता है आपने कुछ लोगो को देखा होगा जो पुरे दिन किताबों में खोये रहते है C.A, इंजीनियरिंग, डॉक्टर आदि की तैयारी कर रहे लोग दिन में 10-15 घंटे पढ़ाई करते है उनका पूरा टाइम कॉलेज, ट्यूशन और सेल्फ स्टडी में ही चला जाता है

अक्सर हमारे माँ-बाप भी हमें कहते है की बेटे पढ़-लिख लो कैरियर बन जायेगा वरना जिंदगी भर युही भटकना पड़ेगा और दर दर ठोकरे खाने पड़ेगे और हर किसी के पास इतना पैसा नहीं होता है की वह खुद का बिज़नस स्टार्ट कर सके और अगर स्टार्ट कर भी दे तो पूरा रिस्क भी रहता है इसलिए लोग पढ़ाई को पर ज्यादा फोकस करते है ताकि नौकरी लग गई तो काम के पैसे मिलेंगे कम से कम रिस्क तो नहीं रहेगा

लेकिन आजकल सबके पास एक यंत्र है मोबाइल, जिसने लोगों की नींद खराब कर रखी है हर कोई अच्छे से पढना चाहता है लेकिन मोबाइल के एडिक्शन की वजह से लोग पढ़ाई से दूर जा रहे है कुछ लोग तो पुरे दिन हाथ में मोबाइल लेकर बैठे रहते है सोशल मीडिया जैसे Facebook, Whatsapp, Instagram पर पुरे दिन लोगों से चैटिंग करेंगे और एक-दुसरे का स्टेटस देखेंगे

अच्छे से पढाई के लिए पढ़ाई और मोबाइल को एक साथ कैसे मैनेज करें

How can I control mobile addiction and concentrate on studies in Hindi?

Manage Study And Mobile

कई कोशिशों के बाद भी मोबाइल हाथ से नहीं छूटता और अगर हाथ से मोबाइल नहीं छुटेगा तो पढ़ाई में भी मन नहीं लगेगा तो आज की इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे ही उपाय बता रहे है जिससे आप पढ़ाई और मोबाइल को एक साथ मैनेज कर सकते है और अपनी पढ़ाई पर अच्छे से फोकस कर सकते है

स्टूडेंट पढ़ाई और मोबाइल को एक साथ कैसे मैनेज करें

How To Manage Study And Mobile In Hindi

1:- टाइम टेबल बनाये

Make Timetable for Study in Hindi

सबसे पहले तो आप पढ़ाई का एक टाइम टेबल बनाये, कुछ लोगों को यह भी पता नहीं होता है की हमें दिन में कितनी देर तक पढना है और किस समय पढना है जब मन में आये तब किताब हाथ में ले लेते है और मन आये तब किताब से नाता तोड़ देते है इसलिए सबसे पहले आप पढने की एक समय-सारणी बनाये.

एक बात और अगर आपको पढने में ज्यादा रूचि नहीं है और अभी-अभी आपने पढने का मन बनाया है तो आप सबसे पहले कम ही पढ़े जैसे दिन में 1 या 2 घंटे ही पढे. जैसे-जैसे पढने में मन लगने लगे आप पढ़ाई का टाइम भी बढ़ा दे इससे फायदा यह होगा की आपका मन पढ़ाई में लगा रहेगा.

आपके पास एक सही टाइम टेबल होगा तो आपको पता होगा की इस टाइम मुझे पढना है तो आप उस टाइम मोबाइल को हाथ नहीं लगायेंगे इसके अलावा टाइम के साथ आपको यह भी पता रहेगा की आपको कब-क्या पढना है. जब पढ़ाई में मन लगने लगेगा तब मोबाइल अपने आप ही आपसे दूर होता जायेगा, क्योंकि आपने पढ़ाई के लिए अलग से वक्त दे रखा होगा.

2 :- ग्रुप स्टडी करें

Group Study

जब भी हम दोस्तों के साथ होते है तो जेब से मोबाइल नहीं निकालते है, बस उनके साथ बैठकर मस्ती करते रहते है पढ़ाई में भी ऐसे ही करना है लेकिन मस्ती नहीं करना है ऐसे में आपको पता होता है की कौन-कौनसे दोस्त पढ़ने मे Interested है उनके साथ ग्रुप बनाये और ग्रुप स्टडी करें

इससे सबसे बड़ा फायदा यह है की आप बोर नहीं होंगे और समय का भी पता नहीं चलेगा की पढ़ाई करते करते आपको कितनी देर हो गई है. पढ़ाई के बीच-बीच में आप हंसी मजाक भी कर सकते है जिससे थोड़ा मनोरंजन भी हो जायेगा और आप अपनी प्रॉब्लमस भी दोस्तों के साथ शेयर कर पाएंगे और आपको जल्दी समझ में भी आएगा.

जब दोस्तों के साथ ग्रुप स्टडी करोगे तो मोबाइल की भी याद नहीं आएगी वैसे भी मोबाइल पर दोस्तों से बाते करते है तो बस दोस्त सामने ही बैठे है उनसे बाते कर लो और यही समझ लो की हमने थोड़ा वक्त मोबाइल पर बिता दिया और कुछ भी सोचने-समझने से हमारा दिमाग भी उन चीजों पर फोकस करने लगता है

3:- सोच ले की मोबाइल कितना जरुरी है?

Mobile Use Karna Kitna Jaruri Hai

अपने दिमाग में यह बैठा दे की आपके लिए मोबाइल कितना जरुरी है क्यों जरुरी है क्या आप आप मोबाइल पर कुछ ख़ास काम करते है या सिर्फ दिन भर इधर-उधर की बातें ही करते है अगर आपको लगता है की में सिर्फ अपना टाइम बर्बाद कर रहा हु तो आप मोबाइल से दुरी बना ले और जब ज्यादा जरूरत हो तब ही उसका इस्तेमाल करें.

जैसे किसी को फ़ोन लगाना हो या किसी का फ़ोन आ गया या दिन में एक या दो बार मेसेज चेक कर लिए बस और अगर आपने इस तरह सोचना शुरू कर दिया तो अपने आप ही आपका मन मोबाइल से दूर जायेगा और पढ़ाई पर लग्न स्टार्ट हो जायेगा

4:- परीक्षा में मोबाइल को बाय बाय बोल दे

Make Distance with Mobile in Exam Period in Hindi

जब आपके एग्जाम पास आ जाये तो आप अपने मोबाइल को बाय बोल दे और उस वक्त सिर्फ और सिर्फ पढ़ाई पर ध्यान दे और जब एग्जाम खत्म हो जाए तो चला लेना मोबाइल और यह बात भी याद रखना चाहिए की एग्जाम साल में एक बार आते है लेकिन मोबाइल हमेसा आपके पास ही रहना है.

5:- खुद पर नियंत्रण रखें

Self Control for Study

ऊपर हमने जो भी बाते बताया यह तभी सम्भव है जब आप खुद पर सेल्फ कण्ट्रोल रखे और अगर मुझे यह काम करना है तो करना है और नहीं करना है तो नहीं करना है अगर आपने सोच लिया की पढ़ाई जरुरी है तो ऐसे में आपका ध्यान अपने आप ही पढ़ाई पर जायेगा लेकिन अगर अपने मोबाइल के बारे में सोचा तो ध्यान भी उस और जायेगा,

इसलिए हमेसा अपने दिमाग को कण्ट्रोल में रखें और इसके लिए आप मेडिटेशन कर सकते है अपनी सोच को अपने करियर की और रखे ताकि आपको पता चल सके की आपके करियर के लिए क्या जरुरी है जब आपको यह पता चल जायेगा तब आप अपने आप ही मोबाइल और पढ़ाई के बीच बैलेंस करना सीख जाओगे.

समय रहते वक्त की कद्र कर ली तो बाद में वक्त हमेशा आपका रहेगा. एक बार सोचकर देखना की क्या वाकई मोबाइल आपके लिए जरुरी है आपको आपके सवालों का जवाब खुद ही मिल जायेगा और अपने आप आपका ध्यान पढ़ाई पर जाने लगेगा. हम यह नहीं कहते की मोबाइल छोड़ दो, लेकिन उसे पढ़ाई के बीच में मत आने दो.

तो आप सबको अच्छे से पढाई के करने के लिए और पढाई में ध्यान लगाने के लिए यह पोस्ट अच्छे से पढाई के लिए पढ़ाई और मोबाइल को एक साथ कैसे मैनेज करें कैसा लगा कमेंट में जरुर बताये.

इन पोस्ट को भी पढे :-

शेयर करे

Follow AchhiAdvice at WhatsApp Join Now
Follow AchhiAdvice at Telegram Join Now

1 COMMENTS

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *