पंडित दीनदयाल उपाध्याय के 30 अनमोल विचार | Anmol Vichar


Pandit Deendayal Upadhyaya Anmol Vichar Quotes in Hindi

पंडित दीनदयाल उपाध्याय के 30 अनमोल विचार और अनमोल वचन

पंडित दीनदयाल उपाध्याय एक महान चिंतक थे वे संघटन में विश्वास करते थे वे भारत को सिर्फ जमीन का टुकड़ा ही बल्कि जीता जागता एक महान राष्ट्र मानते थे युगों युगों से स्थापित भारतीय संस्कृति और सनातन विचारधारा को देश के लिए प्रगतिशील बताया और अपने इसी सिद्धांत के जरिये एकात्म मानववाद विचारधारा प्रस्तुत किया जिसके जरिये प्रत्येक मानव के बिना किसी भेदभाव के जरिये कल्याण सम्भव है हमारी धर्म चाहे कोई क्यों न हो लेकिन हमारी पहचान भारतीयता है अपने इसी देश प्रेम के जरिये भारत को विश्व में अलग पहचान दिलाया जा सकता है

तो चलिए आज हम सभी इस पोस्ट के जरिये पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के अनमोल विचारो | Anmol Vichar को जानते है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय के प्रेरित करते 30 अनमोल विचार

Pandit Deendayal Upadhyaya 30 Great Thoughts & Quotes in Hindi

अनमोल विचार :-1

अपने राष्ट्र की पहचान को भुलाना भारत के मुलभूत समस्याओ का प्रमुख कारण है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-2

जबतक अंग्रेजो ने हमपर राज किया हमने उनका विरोध करना अपना गर्व समझते रहे लेकिन उनके चले जाने के बाद पश्चिमीकरण सभ्यता के जरिये हमारा विकास को अपनाना हमारा पहचान बन गया है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-3

हमारे देश में नैतिकता के सिद्धांतो को पालन करना धर्म कहा जाता है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-4

जब हमारे स्वाभाव धर्म के सिद्धांतो के जरिये बदलते है तब हमे संस्कृति और सभ्यता की प्राप्ति होती है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-5

किसी भी सिद्धांत में न विशवास करने वाले अवसरवादी ही देश की राजनीती को नियंत्रित करते है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-6

धर्म एक बहुत ही व्यापक और विस्तृत विचार है जो समाज को बनाये रखने के सभी पहलुओ से सम्बंधित है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-7

नैतिकता के सिद्धांत किसी व्यक्ति द्वारा बनाये नही जाते है बल्कि खोजे जाते है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-8

अनेकता में एकता और विभिन्न रूपों में एकता की अभियक्ति भारतीय संस्कृति की सोच रही है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-9

बिना राष्ट्रीय पहचान के स्वतंत्रता की कल्पना व्यर्थ है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-10

अवसरवाद से राजनीती के प्रति लोगो का विश्वास खत्म होता जा रहा है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

पढ़े :- पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के जयंती पर जीवनी

अनमोल विचार :-11

स्वतंत्रता तभी सार्थक होती है जब वो हमारी संस्कृति की अभिव्यक्ति का साधन बनती है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-12

हमारे राष्ट्रीयता का आधार भारत माता है सिर्फ भारत नही,इसमें सिर्फ माता शब्द हटा लीजिये तो भारत मात्र एक जमीन का टुकड़ा मात्र बनकर रह जायेगा

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-13

भारतीय संस्कृति की यह मूल विशेषता है की यह जीवन को विशाल और वृहद् रूप में देखती है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-14

शक्ति हमारे गलत व्यवहार में नही बल्कि सही कारवाई में समाहित होती है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-15

मानवीय ज्ञान सभी की अपनी सम्पत्ति है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-16

हमे सही व्यक्ति को वोट देना चाहिए न की उसके बटुए को, पार्टी को वोट दे किसी व्यक्ति को भी नही, किसी पार्टी को वोट न दे बल्कि उसके सिद्धांतो को वोट देना चाहिए

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-17

हमे अपनी राष्ट्रीय पहचान के बारे में सोचना चाहिए तभी इस आजादी के महत्व को बनाया रखा जा सकता है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-18

सिद्धान्तहीन अवसरवादी लोग ही देश की राजनीती को सबसे ज्यादा नुकसान पहुचाते है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-19

भारतीय जीवन में अनेक विविधता और बहुलता देखने को मिलती है लेकिन हमे इनके पीछे छिपी एकता को खोजने का प्रयास करना चाहिये

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-20

धर्म के मूल सिद्धांत अनन्त और सार्वभौमिक है भले ही उनके कार्यान्वयन का समय और स्थान परिस्थितियों के अनुसार अलग अलग हो सकते है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-21

मानव की दोनों प्रवृतिया रही है जहा एक ओर लालच और क्रोध होता है तो दूसरी तरफ प्रेम और बलिदान की भावना समाहित होती है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-22

अंग्रेजी शब्द रिलिजन धर्म के लिए सही शब्द नही है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-23

रिलिजन शब्द का अभिप्राय पंथ या सम्प्रदाय से होता है इसका अर्थ धर्म तो कतई नही हो सकता है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-24

पिछले हजार वर्षो में हमने जो भी ग्रहण किया या जबरन थोपा गया या अपनी स्वेच्छा से ग्रहण किया अब उसे चाहकर भी नही छोड़ा जा सकता है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-25                                

मुसलमान हमारे शरीर का शरीर और खून का खून है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-26

शिक्षा एक निवेश है जो आगे चलकर शिक्षित व्यक्ति समाज की सेवा करेगा

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-27

एक अच्छे को शिक्षित करना वास्तव में समाज के हित में है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-28

यदि समाज का हर व्यक्ति शिक्षित होगा तभी वह समाज के प्रति दायित्वों को पूरा करने में समर्थ होगा

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-29

धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष की लालसा हर मनुष्य में जन्मजात होती है और समग्र रूप में इनकी संतुष्टि भारतीय संस्कृति का सार है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

अनमोल विचार :-30

एक देश लोगो का समूह है जो एक लक्ष्य, एक आदर्श, एक मिशन के साथ जीते है और इस धरती के टुकड़े को मातृभूमि के रूप में देखते है यदि आदर्श या मातृभूमि इन दोनों में से कोई एक भी नही है तो इस देश का अस्तित्व नही है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय |  Pandit Deendayal Upadhyaya

तो आप सबको यह पोस्ट पंडित दीनदयाल उपाध्याय के प्रेरित करते 30 अनमोल विचार | Pandit Deendayal Upadhyaya 30 Great Thoughts & Quotes in Hindi कैसा लगा कमेंट में जरुर बताये और इन पोस्ट को शेयर भी जरुर करे

इन अनमोल विचारो को भी जरुर पढ़े


1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *