परीक्षा में कैसे लिखे टॉप 10 हिंदी टिप्स Exam Me Kaise Likhe Tips in Hindi


Exam Me Likhne Ke Best 10 Tarike | How to Write in Exam Paper Tips in Hindi

परीक्षा में लिखने के 10 बेस्ट तरीके

सभी छात्र (Students) पूरे साल भर खूब मन लगाकर पढ़ते है ताकि उन्हें अपने परीक्षा में अधिक से अधिक नंबर मिले और अच्छे नम्बरों (Marks) से पास होकर टॉप करे (Top Kare) लेकिन ध्यान देने वाली बात है की हम खूब अच्छे से पढाई (Study) भी करते है और सारे विषय (Subject) भी अच्छे से याद करते है और जब हमारा रिजल्ट (Result) आता है तो लगता है हमारे मन के मुताबिक जितना हम सभी साल भर पढ़े थे उसके हिसाब से हमारे नंबर (Marks) नही मिले जबकि किसी छात्र को हमसे कही ज्यादा नंबर मिले है ऐसे में यह सोचना जरुरी हो जाता है की आखिर हम सबसे ऐसी कहा से गलती हुई इतना पढने के बावजूद हमारे नंबर कम आये है ……

तो जरा सोचिये हम सभी खूब पढ़ते है लेकिन जब हमारा परीक्षा (Exam) होता है तो हम सभी अपने परीक्षा पेपर (Exam Paper) में जो कुछ आता है लिखकर (Writing) आते है और यही लिखे हमारे प्रश्नों के उत्तर ही हमारे सालभर की पढाई का भविष्य (Future) निश्चित करते है की हम कितना नम्बर लाये है

यानि जब कोई भी परीक्षा ली जाती है तो हमारी लिखावट (Writing) ही परीक्षक (Examiner) के सामने आता है तो जरा सोचिये यदि हमारे सभी उत्तर सही (Right Answer) और सुंदर लिखावट (Beautiful Writing) में हो तो निश्चित ही फिर हमे कोई अच्छे नम्बर लाने से रोक नही सकता है

ऐसे में यह जरुरी हो जाता है की हम जितना पढाई पर मेहनत (Workhard) करते है साथ में हमे अपने लिखावट (Writing) पर भी ध्यान देना जरुरी होता है तभी हम सभी अपने परीक्षा में अच्छे नम्बर लाकर अच्छे नम्बरों से पास हो सके

तो आईये आज हम आपको परीक्षा में कैसे लिखे (How to write in Exam Paper) इसपर कुछ बेहतरीन 10 टिप्स (10 Tips in Hindi) बताने जा रहे है इन टिप्स को आप सभी ध्यान से जरुर पढ़े

एग्जाम में कैसे लिखे | परीक्षा में लिखने का सबसे बेस्ट 10 तरीके

Exam Me Kaise Likhe | Pariksha Me Likhne ka Top 10 Tarike In Hindi

यदि परीक्षा में अच्छे नंबर लाने है तो हमे लिखने के 10 तरीको पर भी ध्यान देना जरुरी है

Tips:-1 लिखावट (Handwriting) पर ध्यान दे

सभी विद्यार्थी साल भर पढ़ते है लेकिन पढने के साथ साथ लिखावट (Handwriting) पर भी ध्यान देना चाहिए, राइटिंग अच्छी हो इसके लिए हम जितना भी पढ़े उसे याद करते समय लिखते भी रहे और ऐसा रोज करते रहे क्यूकी ऐसा रोज करने से हमारे लिखावट में तेजी के साथ साथ सुधार भी आएगा और अक्सर कई स्टूडेंट्स तो यह भी कहते है की उनकी लिखावट अच्छी नही है तो इन्हें इस बात को समझना चाहिए की निरंतर अभ्यास से कठिन से कठिन काम भी आसान हो जाता है

जैसा की इस दोहे में भी कहा गया है –

करत करत अभ्यास के, जड़मति होत सुजान 
रसरी आवत जात ते, सिल पर परत निसान

अर्थात जिस प्रकार बार बार पानी निकालने जाने रस्सी के आने जाने से कुए के पत्थर पर भी निशान बन जाते है ठीक उसी प्रकार निरंतर अभ्यास करने से मुर्ख व्यक्ति भी एक दिन कुशलता प्राप्त कर लेता है इसलिए अपनी लिखावट को अपनी कमजोरी न समझते हुए निरंतर अभ्यास से इसे सुधारा जा सकता है

Tips:- 2 जो भी पढ़े याद करे उसे लिखते भी रहे

अक्सर देखा जाता है बड़े बड़े चैप्टर स्टूडेंट्स आसानी से याद तो कर लेते है लेकिन उन्हें लिखते है तो सबसे पहले हम जो कुछ भी याद करे याद करने के लिए और जब याद हो जाए तो उसे लिखते रहे इससे हमे दो फायदे होंगे पहला तो जो सब्जेक्ट आसानी से याद नही हो पा रहा है लिखने से वह हमारे Mind में बैठ जाता है जिससे आसानी से याद हो जाता है और दूसरा जब हम ऐसा करते हुए बार बार लिखते है तो हमारी लिखावट में भी सुधार होने के साथ साथ हमारी लिखने की क्षमता में तेजी आती है

Tips:-3 एग्जाम पेपर के हिसाब से तैयारी करे

हमे साल भर खूब मन लगाकर पढना होता है लेकिन जब परीक्षा नजदीक आ जाता है तो अपने एग्जाम की तैयारी पेपर के हिसाब से करना चाहिए इससे फायदा यह होंगा की एग्जाम पेपर किस पैटर्न पर आधारित है कितने समय में किस प्रश्न का उत्तर लिखना है कैसे किस प्रकार के प्रश्न पूछे जा रहे है ऐसे तमाम हमारे मन में प्रश्न होते है जिससे परीक्षा को लेकर मन में भ्रम और डर भी बना रहता है

लेकिन यदि यही हम परीक्षा से पहले अपने एग्जाम की तैयारी मॉडल पेपर (Model Paper) और पिछले सालो के पेपर के हिसाब से तैयारी करे तो निश्चित ही परीक्षा में मिले निश्चित समय में हम सारे प्रश्नों का उत्तर लिख सकते है इसलिए परीक्षा की तैयारी पेपर के हिसाब से करना चाहिए

Tips:-4 टाइम मैनेजमेंट करना सीखे

जब हम परीक्षा देने जाते है तो एक पेपर के लिए निश्चित समय निर्धारित होता है यह 2 से 3 घंटे का ही समय होता है जो की हमारे साल भर की पढाई के परिणाम के लिए यही समय निश्चित करता है और जिसने भी इस समय का सही से उपयोग कर लिया निश्चित ही वह अपने सारे प्रश्नों को सही से हल कर सकता है

अक्सर देखा जाता है की बहुत सारे ऐसे भी स्टूडेंट्स होते है जिन्हें जो प्रश्न के उत्तर आते है उस प्रश्न का जवाब काफी लम्बा दे देते है जबकि प्रश्न किस आधारित पर है यह देखना भूल जाते है यदि कोई प्रश्न लघु उत्तरीय (Short Question) है लेकिन इसका Answer बड़ा दे देने से हमारे मार्क्स ज्यादा नही आयेगे जितना अंक उस प्रश्न के लिए निर्धारित है उतना ही हमे मार्क्स मिलेगे यानी अधिक लिखने से सिर्फ हमारे समय की बर्बादी ही होता है

सो ऐसे बातो से बचने के लिए हमे जब घर पर एग्जाम के पेपर की तैयारी करते है तो हमे अपना एग्जाम खुद से लेना चाहिए और किसी मॉडल पेपर या पुराने पेपर को जितना घंटे का पेपर होता है उतने समय में ही हमे खुद से सारे प्रश्न हल करने चाहिए यदि ऐसा हम करते है हमारे लिखने की स्पीड भी बढ़ेगी और खुद को एग्जाम के लिए तैयार भी कर सकते है

Tips:-5 एग्जाम पेपर मिलने के बाद पूरे पेपर को एक बार अच्छे से पढ़े

जब हम एग्जाम देने जाते है तो जैसे ही हमे पेपर मिलता है उसपर सबसे पहले ही लिखा होता है “सभी प्रश्नों के हल करना अनिवार्य है” या “All Question Answer is Compulsory” यानी ऐसा इसलिए लिखा जाता है की हमे सभी प्रश्नों के उत्तर देना अनिवार्य है  यदि हम सभी प्रश्नों के उत्तर नही देते है तो हमारे मार्क्स आटोमेटिक हम खुद से कम कर रहे है

तो ऐसे में हमे सबसे पहले जैसे पेपर मिले हमे Read All Question की नीति पर चलना चाहिए ऐसा करने से हमे यह पता लग जाएगा की Exam Paper में किस प्रकार के कौन कौन से प्रश्न (Question) पूछे गये है जिसके चलते हमे यह तुरंत पता चल जाता है की हमे उस पेपर में कितने सही Answer मालूम है उसके बाद हमे एक तरफ से प्रश्नों का सही नम्बर Answer डालते हुए लिखते आगे बढ़ते जाना चाहिए और जहा तक कोशिश करनी चाहिए की कोई भी बीच के Answer न छुटे

Tips:-6 डर को निकाले खुद का कॉन्फिडेंस बढ़ाये

एग्जाम में अच्छे मार्क्स न आने की वजह डर भी होता है अक्सर बहुत सारे स्टूडेंट्स पढ़ते तो खूब है लेकिन मन में एग्जाम और उसके रिजल्ट को लेकर इतने तनाव में रहते है यही तनाव मन में डर बनकर बैठ जाता है जिससे घर पर खूब अच्छे से परीक्षा की तैयारी तो करते है लेकिन एग्जाम हाल पहुचते ही सारे याद किये हुए भूल जाते है जिससे इतना पढने लिखने के बावजूद परीक्षा में अपने पढाई के हिसाब से नही लिख पाते है जिसका सीधा असर उनके परीक्षा रिजल्ट में देखने को मिलता है

ऐसे में सभी स्टूडेंट को मेरा यही Advice रहेगा की जितना भी पढ़े खूब मन लगाकर पढ़े और किसी भी बोर्ड एग्जाम या टॉप एग्जाम जैसा मानकर मन में कोई डर न पाले, यदि मन में परीक्षा को लेकर कोई डर नही रहेगा तो इससे आपका आत्मविश्वास भी बढेगा और ऐसे में आप सभी परीक्षा में खुद अच्छे से पाने प्रश्नों का उत्तर लिख सकते है सो Be Positive….

Tips:-7 प्रश्नों का उत्तर किस क्रम में लिखे

जब हमे एग्जाम हाल में Question Paper मिलता है तो बहुत सारे Question के Answer आते है तो कुछ के नही आते है ऐसे में सभी स्टूडेंट्स के मन में यह सवाल आता है की पहले किस प्रश्न का उत्तर लिखना शुरू करे

तो ऐसे में हमे जिन प्रश्नों का उत्तर सही से आ रहा है उसी से लिखना शुरू करे और इस बात का जरुर ध्यान रखे की हम पेपर में Question का Answer Number एकदम सही डाले जिससे परीक्षक को हमारे किस Question का Answer हमने लिखा है पता चल जाएगा इससे हमारे मार्क्स में कोई गलती भी नही होंगी और ऐसे प्रश्नों को लिखने के बाद Question Paper पर उस Question को Tick Marks या सही Marks कर ले जिससे यह पता चलेगा की आपने उस प्रश्न का उत्तर दे दिया है

Tips:-8 उत्तर देते समय इन बातो का रखे जरुर ध्यान

परीक्षा देते समय समय हमे बहुत सारी बातो को ध्यान देना जरुरी होता है जैसे की :–

1 – Answer Sheet पर अपना नाम रोल नंबर एकदम सही लिखे जैसा की Admit Card में दिया गया हो

2 – प्रश्नों के क्रमांक भी एकदम सही डाले

3 – हमारी लिखावट साफ़ सुथरी और सुंदर हो इस बात का ध्यान भी जरुर लिखे, और जो कुछ Answer में लिखे उसे कोई भी आसानी से पढ़ ले

4 – प्रश्न किस पैटर्न पर आधारित हो उत्तर भी उतने शब्दों में दे,

5 – यदि लिखते समय पेज के लास्ट में कुछ जगह ही बचता है तो नये प्रश्न का उत्तर नये पेज से शुरू करे

6 – यदि जरूरत हो तो Answer में Headings, चित्र और डायग्राम भी जरुर बनाये

7 – यदि लिखते समय कोई पैराग्राफ में गलती हो जाए तो उस एक सीधी कट का लाइन खिंच दे ज्यादा कट पिट न करे

Tips:-9 परीक्षा के दौरान ज्यादा बातचीत या दुसरो पर ध्यान देने से बचे

परीक्षा के दौरान हमे अपना ध्यान अपनी परीक्षा पर ही फोकस करना चाहिए और लोगो से कम से कम बातचीत करना चाहिए जिससे हमारे समय को हम व्यर्थ होने से बचा सकते है और समय का सही उपयोग परीक्षा में लगा सकते है

Tips:-10 पेपर पूरा हल करने के बाद फिर से चेक करे

जब हम परीक्षा की तैयारी अच्छे से किये रहते है तो हमारे सभी प्रश्नों के उत्तर जल्द ही लिख लेते है ऐसे में जब हमारे सभी प्रश्न हल हो जाए तो फिर से हमे सभी प्रश्नों के उत्तर को चेक करना चाहिए और भी देखना चाहिए की कही कोई प्रश्न का उत्तर छुट तो नही गया है ऐसा करने से यदि गलती से कोई प्रश्न छुट जाता है तो उसका आंसर भी हम फटाफट लिख सकते है

आप सभी अपने एग्जाम में अच्छे से तैयारी करके अच्छे से लिख पाए इसके लिए हम राकेश AchhiAdvice के माध्यम आपकी शुभकामना करते है…..Best Of Luck……….

तो आप सबको यह टिप्स परीक्षा में कैसे लिखे टॉप 10 हिंदी टिप्स Exam Me Kaise Likhe Tips in Hindi कैसा लगा हमे जरुर बताये और इस पोस्ट से रिलेटेड आपको कुछ पूछना है तो आप हमसे कम्मेंट बॉक्स में जरुर पूछ सकते है

परीक्षा की तैयारी के लिए इन पोस्ट को भी जरुर पढ़े –

  1. पढाई में मन कैसे लगाये | Padhayi Study me Man Kaise Lagaye
  2. पढाई के लिए टाईमटेबल कैसे बनाये Study Time Table Kaise Banaye
  3. छात्र सफलता के लिए प्रेरक उद्धरण Motivational Quotes For Students Success
  4. गर्मियों की छुट्टी में पढाई करने के बेस्ट तरीके Summer Study Tips
  5. BOARD EXAM KI TAIYARI KAISE KARE HINDI TIPS
  6. Exam Me Top Kaise Kare Topper Kaise Bane Hindi Tips
  7. परीक्षा में टॉप करने के लिए दस बेहतरीन तरीके
  8. विद्यार्थियों को याद करने के लिए जरुरी बाते
  9. विद्यार्थियों के Study और Career के लिए सबसे अच्छे Career Tips
  10. विद्यार्थियों के अध्यन के लिए कुछ अच्छी सलाह Best Study Kaise Kare
  11. Study Padhayi Kaise Kare Best Hindi Tips
  12. कैसे पाए अपने पढाई में सफलता 100% Success Study Tips In Hindi


16 Comments

    1. Anuj har paper ki tarah maths ke bhi ppaer ke exam dene hote hai so math ki taiyari acche se kare aur fir paper denge to jarur success milega.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *