डीआईजी (DIG) कैसे बने | Deputy Inspector General of Police की तैयारी कैसे करे, सैलरी और योग्यता

पुलिस बनकर कानून व्यवस्था के क्षेत्र से जुड़कर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो कानून विभाग के क्षेत्र मे अनेक पद है, जिनमे डीआईजी यानि डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस जैसा सरकारी पद पर नौकरी करना एक सुनहारा और सम्मान की बात है, ऐसे यदि आप डीआईजी के पद पर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो डीआईजी ऑफिसर एक बढ़िया कैरियर ऑप्शन है, तो ऐसे मे यह प्रश्न उठता है की डीआईजी क्या है? डीआईजी कैसे बने? (How To Become DIG in Hindi?), डीआईजी बनने की तैयारी कैसे करे, डीआईजी बनने के लिए क्या करे? (What To Do To Become A DIG In Hindi),

इस पोस्ट के मुख्य टॉपिक छिपाए

तो इस पोस्ट मे जानेगे की डीआईजी कैसे बने? और साथ मे यह भी जानेगे की डीआईजी बनने के लिए क्या करना पड़ेगा? डीआईजी बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit For DIG in Hindi) कितनी होती है? डीआईजी बनने के लिए शारीरिक योग्यता (DIG Physical Fitness), डीआईजी की तैयारी के लिए सेलेबस (DIG Officer Exam Syllabus in Hindi) क्या है? डीआईजी की सैलरी (DIG Salary) कितनी होती है? डीआईजी के तैयारी के लिए सेलेबस क्या है? डीआईजी बनने की योग्यता (DIG Eligibility) क्या है? इसकी डीआईजी की चयन प्रक्रिया (Deputy Inspector General of Police Selection Process) क्या है? डीआईजी का काम क्या होता है? तो चलिये अब अब जानते है की DIG Kaise Bane और DIG Ki Taiyari Kaise Kare.

डीआईजी क्‍या है? (What is Deputy Inspector General of Police in Hindi)

DIG kaise Bane Taiyari Salary Qualificationडीआईजी या फिर पुलिस उप महानिरीक्षक जो की पुलिस महानिरीक्षक से जूनियर पद का पोस्ट होता है, जो की यह पद आईपीएस अधिकारियों को पदोन्नति के रूप मे दिया जाता है, जो की अपने क्षेत्र का एक बड़ा अधिकारी होता है जो की पुलिस बल के बड़े अधिकारी के रूप मे कार्य करता है। यानी यह की पुलिस बल का हेड होता है, यानि डीआईजी के नीचे कॉन्स्टेबल (Constable) से लेकर एक सहायक पुलिस अधीक्षक सभी काम करते हैं, और डीआईजी के हर आदेशों का पूरी तरह से पालन करते हैं। ऐसे मे देश के हर राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए DIG की नियुक्ति की जाती है, और ऐसे मे एक राज्य मे एक साथ कई डीआईजी के पद हो सकते है। जो की उस पूरे राज्य में कानून व्यवस्था और शांति बनाए रखने की ज़िम्मेदारी उस राज्य के डीआईजी की होती है यह इस प्रकार डीआईजी राज्य में मौजूद पुरे पुलिस विभाग (Police Department) की सहायता से काम करता है।

इसके अतिरिक्त डीआईजी की ज़िम्मेदारी यह भी होती है कि अपने तैनाती राज्य मे भ्रष्टाचार (corruption) या आतंकवादी (terrorist) या अपराध (Criminal Activity) से अपने राज्य को सुरक्षित और शांति बनाए रखे। तो इस प्रकार पूरे राज्य मे कानून और व्यवस्था संभालने के लिए और साथ ही अपराध को पूरी तरह से रोकने के लिए डीआईजी ही जिम्मेदार होता हैं। यानी की डीआईजी को अपने राज्य को अच्छे तरीके से चलाना होता है इसी को DIG कहते है।

DIG का फुल फार्म (DIG Full Form in Hindi)

DIG जिन्हे हिन्दी मे पुलिस उप महानिरीक्षक कहा जाता है, तो चलिये DIG के Hindi और English Full को जानते है –

  • DIG Full Form in Hindi – Deputy Inspector General of Police
  • DIG Full Form in English – पुलिस उप महानिरीक्षक

डीआईजी आफिसर कैसे बने? (Deputy Inspector General of Police Kaise Bane)

डीआईजी के पद पर अपना कैरियर बनाना चाहते है, तो इस पद पर नियुक्ति के लिए 2 ऑप्शन होते हैं, पहला आप UPSC द्वारा IPS Exam पास करके पुलिस विभाग में कोई भी पद हासिल कर सकते हैं, और इस तरह डीआईजी बन सकते है, या फिर हर राज्य के PCS (Public Commission Service) के द्वारा कराई जाने वाली परीक्षा पास करके डीआईजी के पद पर नियुक्त हो सकते हैं।

तो ऐसे मे नीचे दिये गए इन 3 तरीको को फालों करते है, तो इस तरह डीआईजी के पद पर नियुक्ति पा सकते है, और डीआईजी बन सकते है –

  1. डीआईजी बनने के लिए सबसे पहला तरीका यह है, की UPSC की परीक्षा को पास करना, यानि UPSC में IPS की परीक्षा को पास करना होता है, तो फिर मेरिट के आधार अधिकतम नंबर के आधार पर सीधे और आपकी Posting SP के तौर पर होती है और SP Post से आप 14 साल में Promoted हो करके DIG बन जाते हैं
  2. इसके अलावा एक और परीक्षा है, जो इन पदों के लिए परीक्षा का आयोजन करती है, जिसे State PSC परीक्षा के नाम से जाता है. State Public Service Commission जिसे “राज्य लोक सेवा आयोग” के नाम से जाना जाता है. जिसके जरिये भी आप डीआईजी बनने के लिये परीक्षा दे सकते है।
  3. डीआईजी बनने के लिए दूसरे तरीके मे पहले Sub Inspector का पेपर देकर यदि आप Sub Inspector बन जाते हैं, और फिर 10 -15 सालों तक बहुत अच्छा काम करने के बाद पुलिस विभाग मे Deputy Inspector General of Police तक की प्रमोशन आसानी से मिल जाती है, फिर इस तरह डीआईजी आफिसर बन सकते है।

डीआईजी बनने के लिए योग्यता (DIG Qualification In Hindi)

जैसा की जानते है, की डीआईजी (Deputy Inspector General of Police) एक बहुत ही ज़िम्मेदारी का पद होता है, जिस अधिकारी के ऊपर पूरे राज्य के कानून व्यवस्था की ज़िम्मेदारी होती है, तो ऐसे मे इस पद पर अप्लाई करने वाले उम्मीदवारों को कई सारे परीक्षा देना होता है, जिसके लिए बहुत सी योग्यताए होनी चाहिए, तभी इस पद के लिए आवेदन अप्लाई कर सकते है, तो चलिये डीआईजी ऑफिसर बनने के लिए किन किन योग्यताओ का होना जरूरी है, जानते है-

डीआईजी बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (DIG Educational Qualification)

डीआईजी यानि पुलिस अधीक्षक बनने के लिए जो उम्मीदवार पद के आवेदन के लिए अप्लाई करते है, उन्हे किसी भी Stream से, किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम स्नातक (Graduation) पास होना जरूरी होता, तभी वे उम्मीदवार डीआईजी बनने के लिए आवेदन के लिए अप्लाई कर सकते है।

डीआईजी बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit For Deputy Inspector General of Police in Hindi)

डीआईजी आफिसर बनने के लिए जो उम्मीदवार आवेदन के लिए अप्लाई करते है, उनकी आयु 21 से 32 साल के बीच होनी चाहिए। जबकि अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों जैसे OBS को 3 वर्ष और SC/ST श्रेणी के उम्मीदवार को 5 साल की छूट भी दी जाती है। जो की डीआईजी बनने के लिए ये सारी आयु सीमा (Age Limit For DIG) की अहर्ताए इस प्रकार है –

  • डीआईजी के आवेदन के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी चाहिए.
  • DIG पद के लिए जनरल उम्मीदवारों की अधिकतम आयु 30 वर्ष तक है.
  • डीआईजी के लिए ओबीसी उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु 35 वर्ष तक होनी चाहिए है.
  • एससी / एसटी- उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु 37 वर्ष निर्धारित है.

डीआईजी बनने के लिए शारीरिक योग्यता (DIG Physical Fitness)

डीआईजी बनने के लिए पढ़ाई के साथ शारीरिक रूप से फिट होना भी जरूरी है, जो की इस पद के लिए शारीरिक योग्यता को पूरा करना होता है, तभी आप डीआईजी बन सकते है, तो पुलिस अधीक्षक बनने के लिए शारीरिक योग्यता (Physical fitness to become Deputy Inspector General of Police) इस प्रकार है –

  • उम्मीदवार शारीरिक और मानसिक रूप से फिट होने चाहिए.
  • डीआईजी बनने के लिए पुरुषों के लिए न्यूनतम ऊंचाई 165 सेमी होनी चाहिए.
  • डीआईजी के पद पर महिलाओं के लिए न्यूनतम ऊंचाई 150 सेमी होनी चाहिए.
  • पुरुष उम्मीदवारों की छाती 84 सेमी होनी चाहिए, महिला उम्मीदवार के लिए chest के लिए विस्तार की आवश्यकता नहीं होती है।
  • इसमें आरक्षित जाति के उम्मीदवारों को ऊंचाई और छाती में कुछ सेमी की छुट दी गई है.
  • डीआईजी के लिए नजर – 6/6 or 6/9 होनी चाहिए.

डीआईजी बनने की चयन प्रक्रिया (DIG Selection Process in Hindi)

डीआईजी ऑफिसर बनने के लिए सबसे पहले UPSC परीक्षा के लिए आवेदन के लिए अप्लाई करना होगा, और आईपीएस परीक्षा में बैठना होगा। तभी डीआईजी बन सकते है, इसके अलावा राज्य स्तर के परीक्षा जो कि PSC द्वारा आयोजित करवाई जाती है, इसके आधार पर भी डीआईजी बन सकते हैं, इसके लिए इसके परीक्षा पैटर्न समझना होगा, उसके हिसाब से तैयारी करना होगा, तभी डीआईजी बन सकते है, जो की ये परीक्षाए तीन चरणों में कराया जाता है, जो की इस प्रकार है –

  1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Mains Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

डीआईजी बनने के लिए प्रारंभिक परीक्षा (DIG Preliminary Exam)

डीआईजी बनने के लिए सबसे पहले प्रारंभिक परीक्षा (DIG Preliminary Exam) पास करना होता है, जो की प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत दो प्रश्न पत्र को हल करना होता हैं, जिसमे प्रत्येक प्रश्न पत्र के लिए 200 अंक निर्धारित किये जाते है | जिन्हे हल करने के लिए अभ्यर्थियों को 2 घंटे का समय दिया जाता है, यदि इन दोनों पेपरो के परीक्षा को पास कर लेते है, तो डीआईजी बनने के लिए मुख्य परीक्षा के लिए चुन लिया जाता है, और मुख्य परीक्षा (DIG Mains Exam) के लिए के लिए प्रवेश पत्र (Admit Card) जारी किये जाते है.

डीआईजी बनने के लिए मुख्य परीक्षा (DIG Mains Exam)

डीआईजी बनने के लिए जो उम्मीदवार प्रारम्भिक परीक्षा (DIG Preliminary Exam) में सफलता हासिल कर लेते हैं, तो उन्हें फिर मुख्य परीक्षा देने के लिए बुलाया जाता है, और इस मुख्य परीक्षा मे कुल 6 प्रश्न पत्र होते है, जिनमे भारतीय भाषा 300 अंक, अंग्रेजी 300 अंक, निबंध 200 अंक, जनरल स्टडी 300 अंक, इन विषयों के अंतर्गत वैकल्पिक विषय के लिए अंक दो डिजिट में निर्धारित किये गए है।

विषय अंक
सामान्य अध्ययन पेपर -1 200
सामान्य अध्ययन पेपर -2 200
सामान्य अध्ययन पेपर -3  200
सामान्य अध्ययन पेपर -4  200
सामान्य हिंदी -5
 150
निबंध -6
 150

डीआईजी बनने के लिए साक्षात्कार (DIG Interview)

डीआईजी बनने के लिए तीसरे यानि आखिरी चरण मे उम्मीदवार को साक्षात्कार (Interview) के लिये बुलाया जाता है, जिस परीक्षा का आयोजन लोक सेवा आयोग या राज्य लोक सेवा आयोग द्वार होता है, जिसके लिए आयोग द्वारा निर्धारित समिति के समक्ष पेश होकर यह साक्षात्कार देना होता है, जिसके लिए 250 अंक समिति द्वारा निर्धारित किये जाते है, जिसमे उम्मीदवार की योग्यता का आकलन का पता लगाया जाता है, जिसके बाद अगर उम्मीदवार इस साक्षात्कार में सफलता प्राप्त कर लेते है, तो फिर डीआईजी के पद के लिए चुन लिया जाता है, और नियुक्ति पत्र दे दिया जाता है, इस तरह तीनों चरणों की परीक्षा मे सफलता प्राप्त करने के बाद डीआईजी ऑफिसर बन सकते है।

डीआईजी के लिए सेलेबस (DIG Exam Syllabus in Hindi)

जैसा की जानते है, की डीआईजी बनने के लिए आईएएस या पीसीएस की परीक्षा देनी होती है, तो इसका सिलेबस भी आईएएस की परीक्षा को ध्यान मे रखते हुए ही पढ़ाई करना चाहिए। जो की इस प्रकार है –

  • सामान्य सचेतता (General Awareness)
  • सामान्य ज्ञान (General Knowledge)
  • सामयिकी (Current Affairs)
  • भारतीय इतिहास (Indian History)
  • अँग्रेजी (English)
  • विज्ञान (Science)
  • आंतरिक सुरक्षा (Internal Security)
  • भारतीय राजनीतिक इतिहास (Indian Political History)
  • पुलिस नेतृत्व और प्रबंधन (Police Leadership And Management)
  • नैतिकता और मानवाधिकार (Ethics And Human Rights)

डीआईजी के आवेदन के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply for DIG in Hindi)

डीआईजी के पद के लिए सबसे पहले ग्रेजुएशन के छात्र ही आवेदन के लिए अप्लाई कर सकते है, यदि आपके पास स्नातक की डिग्री है, तो डीआईजी के पद के लिए आईएएस या फिर PCS की परीक्षा के आवेदन के लिए निकले फॉर्म को भर सकते हैं। डीआईजी अधिकारी एक सरकारी पद और इस पद में नौकरी के लिए आपको सरकारी नौकरी परीक्षा देनी होती है बिना परीक्षा के आप इस पद को हासिल नहीं कर सकते हैं।

डीआईजी बनने के लिए हमारे देश में हर राज्य में राज्य लोक सेवा (PCS) या फिर आईएएस द्वारा इस पद की परीक्षा आयोजित कराई जाती है, तो ऐसे मे DIG अधिकारी की परीक्षा को देने के लिए सबसे पहले जिस राज्य लोकसेवा आयोग से निकले पद के लिए अप्लाई करना चाहते है, उसके उनके लिए उस राज्य की लोक सेवा आयोग की Official Website पर जाकर इस परीक्षा के लिए आवेदन Apply करना होता है।

डीआईजी की तैयारी कैसे करे (How to Prepare Exam for DIG in Hindi)

किसी भी सरकारी पद चाहे वह किसी भी विभाग का पद होता है, उसके लिए लिखित परीक्षा (Written Exam) का आयोजन किया जाता है, तो ऐसे मे आईएएस या पीसीएस के परीक्षाओ के बारे मे तो सुना ही होगा, जो की ये परीक्षाए सरकारी परीक्षाओ की दृष्टि से काफी कठिन मानी जाती है, ऐसे मे इन परीक्षाओ को पास करने के लिए बहुत पहले से तैयारी करना चाहीये, तभी इन प्रतियोगी परीक्षा मे सफलता प्राप्त करने के अवसर बढ़ जाते है, तो चलिये पुलिस अधीक्षक बनने के लिए DIG Ki Taiyari Kaise Kare जानते है-

  1. DIG के परीक्षा की तैयारी के लिए रोजाना 8 से 10 घंटे तैयारी करते है, तो आपके तैयारी के लिए काफी अच्छा होता है।
  2. DIG के लिए पिछले साल हुए Question Paper के सवाल को हल करने की कोशिश करे, जिसके लिए पिछले पांच से छ सालो के Question Paper Solve करना चाहिए, ऐसे करने से यह पता चल जाता है, की DIG की परीक्षा मे किस तरह के प्रश्न पूछे जाते है और कैसे दिये गए समय मे हल सकते है।
  3. DIG की तैयारी मे जनरल नालेज से बहुत ज्यादा प्रश्न पुछे जाते है, तो ऐसे मे अपने सामान्य ज्ञान पर पकड़ मजबूत बनाना चाहिए। साथ ही निबंध की तैयारी भी अच्छे से करना चाहिए।
  4. जैसा की आप सभी जानते है, की किसी भी सरकारी परीक्षा मे लाखो उम्मीदवार भाग लेते है, जिस कारण इन परीक्षाओ मे कंपटीशन बहुत अधिक होता है, तो जिसके तैयारी के लिए भी खूब मन लगाकर पढ़ाई और तैयारी करना चाहिए। ऐसे मे Deputy Inspector General of Police की परीक्षा के लिए भी खूब मेहनत से पढ़ाई करना चाहिए।
  5. DIG पद के शारीरिक परीक्षण की परीक्षा के लिए अपनी अच्छी पर्सनालिटी बनाये। और अपने सेहत का ख्याल रखे, जो की यह Deputy Inspector General of Police के लिए शारीरिक योग्यताओ को पूरा करने मे मदद करेगी
  6. Deputy Inspector General of Police परीक्षा की तैयारी के लिए NCERT पैटर्न की किताबे काफी अच्छी मानी जाती है, तो ऐसे मे DIG की परीक्षा की तैयारी के लिए एनसीईआरटी पैटर्न की किताबों से तैयारी करना चाहिए।
  7. डीआईजी ऑफिसर के चयन परीक्षा की तैयारी टाइमटेबल बनाना चाहिए, और उसके अनुसार सभी विषयो की तैयारी नियमित रूप से करना चाहिए।
  8. DIG की परीक्षा की तैयारी के लिए नियमित रूप से Current Affairs और अखबार जरूर पढ़ना चाहिए और कुछ समय निकाल कर टीवी मे न्यूज़ चैनल भी एक घंटे के लिए देखना चाहिए, जिससे देश की वर्तमान घटनाओ के बारे मे भी जानकारी हो जाती है,
  9. डीआईजी अधिकारी की परीक्षा काफी कठिन माना जाता है, ऐसे मे परीक्षा मे सफलता पाने के लिए अपने Weak points को पहचानते हुए उन्हें सुधारने की कोशिश करना चाहिए।
  10. डीआईजी परीक्षा की तैयारी करते हुए खुद से अपना ऑनलाइन Mock Test भी ले सकते हो इससे आपको अंदाज़ा हो जायेगा की आपकी तैयारी कितने अच्छे से हो रही है।
  11. DIG की परीक्षा की तैयारी के लिए Self-Study के साथ साथ किसी अच्छे इंस्टिट्यूट को भी ज्वाइन कर सकते है। जिससे इस डीआईजी के परीक्षा की तैयारी के अच्छा मार्गदर्शन मिल जाता है।
  12. डीआईजी की परीक्षा की तैयारी के लिए इंटरनेट के जरिये Online Course या यूट्यूब विडियो की भी मदद ले सकते है, जहा पर आपको परीक्षा तैयारी के लिए विडियो मिल जाएगे।
  13. डीआईजी की परीक्षा की तैयारी करते हुए हमेशा खुद पर विश्वास बनाए रखे और अपने अंदर सकरात्मकता का भाव बनाए रखना चाहिए, और खुद के अंदर कभी भी Negative सोच नही लानी चाहिए, और ऐसे नकरात्मक लोगो से दूर रहना चाहिए।

तो ऐसे मे यदि इन बताए गए डीआईजी परीक्षा की तैयारी टिप्स डीआईजी की परीक्षा के लिए उपयोग करते है, तो निश्चित ही आप Deputy Inspector General of Police की परीक्षा मे सफलता पा सकते है।

डीआईजी का वेतन (DIG Salary) कितना होता है?

डीआईजी अधिकारी को ग्रेड पे के साथ अच्छा वेतन प्रदान किया जाता है। एक डीआईजी ऑफिसर (Deputy Inspector General of Police) की सैलरी अलग-अलग राज्यों में भिन्न होती है। हालांकि BEO का औसतन वेतन प्रतिमाह 3800 से 70000 तक हो सकता है। जिसमे ग्रेड पे 7800 रुपए तक होता है, इसके अलावा इसके अलावा सरकारी कर्मचारियों को मिलने वाली और सुविधाएं जैसे घर, मंहगाई भत्ता, यात्रा भत्ता, इलाज, पेंशन आदि डीआईजी को भी दिया जाता हैं। लेकिन सातवां वेतनमान लागू होने के पश्चात सैलरी 100000 से लेकर 200000 के बीच होती है

डीआईजी का क्या काम होता है? (Work of Deputy Inspector General of Police in Hindi)

एक डीआईजी के रूप मे उम्मीदवार की कई सारी जिम्मेदारिया होती है, उनका मुख्य काम राज्य मे शांति और कानून व्यवस्था को बनाए रखना होता है, तो चलिये डीआईजी के क्या क्या काम होते है, जानते है –

  1. डीआईजी  ऑफिसर की पहली ज़िम्मेदारी होती है, की वह अपने राज्य मे शांति और कानून व्यवस्था को बनाए रखें और अपराध की दर (Criminal Rate) को लगभग ना के बराबर यानि शून्य कर दे।
  2. डीआईजी का काम राज्य के शरारती तत्वों, अपराधियो को कड़ी से कड़ी सजा देना होता है।
  3. अपने राज्य के लोगों की समस्याओं को सुनना और दोषियों को सजा देना होता है।
  4. किसी भी बड़े आयोजन या फिर सार्वजनिक त्योहारो को सुचारु रूप से कराने की ज़िम्मेदारी भी डीआईजी की होती है।
  5. डीआईजी को यह भी ध्यान रखना कि क्या राज्य के सभी तैनात पुलिस थाने, पुलिस चौकी मे  सही से काम कर रहे हैं या नहीं, कहीं कोई पुलिस अधिकारी रिश्वत तो नहीं लेता है।

निष्कर्ष :-

तो अब आप जान गए होंगे की DIG Kaise Bane और साथ डीआईजी की तैयारी, सिलेबस, योग्यता और सैलरी के बारे मे भी विस्तार से जान गए, तो हमने DIG कैसे बने के इस पोस्ट मे जो भी कुछ जाना, वो इस प्रकार है –

  • डीआईजी क्‍या है? (What is Superintendent of Police in Hindi)
  • DIG का फुल फार्म (DIG Full Form in Hindi)
  • डीआईजी कैसे बने? (Deputy Inspector General of Police Kaise Bane)
  • डीआईजी बनने के लिए योग्यता (DIG Qualification In Hindi)
  • डीआईजी बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (DIG Educational Qualification)
  • डीआईजी बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit For Deputy Inspector General of Police in Hindi)
  • डीआईजी बनने के लिए शारीरिक योग्यता (DIG Physical Fitness)
  • डीआईजी बनने की चयन प्रक्रिया (DIG Selection Process in Hindi)
  • डीआईजी के लिए सेलेबस (DIG Exam Syllabus in Hindi)
  • डीआईजी के आवेदन के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply for DIG in Hindi)
  • डीआईजी की तैयारी कैसे करे (How to Prepare Exam for DIG in Hindi)
  • डीआईजी का वेतन (DIG Salary)
  • डीआईजी का काम (Work of Deputy Inspector General of Police in Hindi)

तो इस पोस्ट मे DIG Officer Kya Hai? DIG Kaise Bane? DIG Ki Taiyari Kaise Kare के बारे मे अच्छे से जान गए, तो ऐसे मे आपको यह पोस्ट आप सभी को काफी पसंद आई होगी, तो आपको यह पोस्ट कैसा लगा, कमेंट मे हमे जरूर बताए और इस पोस्ट को अपने दोस्तों और अन्य लोगों के साथ अधिक से अधिक शेयर करें…

5/5 - (46 votes)
शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button