गुरु नानक देव के 30 अनमोल विचार Shree Guru Nanak Dev Quotes in Hindi


Shree Guru Nanak Dev Ke 30 Anmol Vichar in Hindi

गुरु नानक देव जी के 30 अनमोल प्रेरणादायक विचार

गुरु नानक देव (Shree Guru Nanak Dev) सिख धर्म के पहले गुरु थे गुरु नाक साहब ने ही “सिख धर्म” की स्थापना किया था गुरु नानक देव का जन्म 15 अप्रैल 1469 को पंजाब प्रान्त के तलवंडी ग्राम में हुआ था जो की वर्तमान में यह स्थान पाकिस्तान (Pakistan) में है लेकिन कुछ मतो के अनुसार इनका जन्म हिन्दू कैलेंडर के कार्तिक महीने के पूर्णिमा को हुआ था जो की दीपावली के त्योहार के दिन 15 दिन बाद पड़ता है इसलिए सिख धर्म में इनके जन्मदिवस को “गुरु नानक जयंती” “प्रकाश पर्व” या “गुरु पर्व” के रूप में मनाया जाता है

गुरु नानक देव बचपन से ही आध्यात्मिक ज्ञान के प्रवर्तक थे उनका मानना था की यह संसार ईश्वर द्वारा बनाया गया है और हम सब ईश्वर के ही सन्तान है और ईश्वर का निवास हर किसी के नजदीक ही है जो हमे गलत सही का बोध कराते है

तो आईये ऐसे ही महान आध्यात्मिक ज्ञान रखने वाले गुरु नानक देव के 30 अनमोल विचार Shree Guru Nanak Quotes in Hindi को जानते है

गुरु नानक देव जी के 30 अनमोल सुविचार

Shree Guru Nanak Dev Ke 30 Anmol Suvichar in Hindi

Anmol Vichar :- 1 भगवान पर वही विश्वास कर सकता है जिसे खुद पर विश्वास हो

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 2 यह दुनिया सपने में रचे हुए एक ड्रामे के समान है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 3 भगवान उन्हें ही मिलते है जो प्रेम से भरे हुए है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 4 सिर्फ वही शब्द बोलना चाहिए जो शब्द हमे सम्मान दिलाते हो

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 5 बंधुओ ! हम मौत को बुरा नही कहते यदि हम जानते की मरा कैसे जाता है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 6 ना मै बच्चा हु, ना एक युवक हु, ना पौराणिक हु और ना ही किसी जाति से हु

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 7 यह दुनिया कठिनाईयों से भरा है जिसे खुद पर भरोसा होता है वही विजेता कहलाता है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 8 ईश्वर सर्वत्र विद्यमान है हम सबका पिता है इसलिए हमे सबके साथ मिलजुलकर प्रेमपूर्वक रहना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 9 कभी भी किसी भी परिस्थिति में किसी का हक नही छिनना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 10 आप सबकी सदभावना ही मेरी सच्ची सामजिक प्रतिष्ठा है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 11 जो लोग अपने घर में शांति से जीवन व्यतीत करते है उनका यमदूत भी कुछ नही कर पाते है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 12 सच्चा धार्मिक वही है जो सभी लोगो का एक समान रूप से सबका सम्मान करते है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 13 प्रभु को पाने के लिए प्रभु के गीत गाओ, प्रभु के नाम से सेवा करो और प्रभु के सेवको के सेवक बन जाओ

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 14 कोई भी राजा कितना भी धन से भरा क्यू न हो लेकिन उनकी तुलना उस चीटी से भी नही की जा सकती है जिसमे ईश्वर का प्रेम भरा हुआ हो

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 15 उसकी चमक से ही सम्पूर्ण जगत प्रकाशवान है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 16 मेरा जन्म ही नही हुआ है तो भला मेरा जन्म या मृत्यु कैसे हो सकता है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 17 कभी भी बुरा कार्य करने की सोचे भी नही और न ही कभी किसी को सताए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 18 ईश्वर एक है उसके रूप अनेक है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 19 ईमानदारी से मेहनत करके ही अपना पेट पालना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 20 सभी एक समान है और सब ईश्वर की सन्तान है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 21 जब भी किसी को मदद की आवश्यकता पड़े, हमे कभी भी पीछे नही हटना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 22 संसार को जीतने के लिए अपने कमियों और विकारो पर विजय पाना भी जरुरी है

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 23 अहंकार कभी भी मनुष्य को मनुष्य बनकर नही रहने देता है इसलिए कभी भी अहंकार या घमंड नही करना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 24 कभी भी उसे तर्क से नही समझा जा सकता है चाहे तर्क करने में अपने कई सारे जीवन लगा दे

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 25 वहम और भ्रम का हमे त्याग कर देना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 26 हमेसा दुसरे के मदद के लिए आगे रहो

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 27 धन को जेब तक ही स्थान देना चाहिये अपने हृदय में नही

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 28 तेरी हजारो आँखे है फिर भी एक आँख नही, तेरे हजारो रूप है फिर भी एक रूप नही

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 29 चिंता से दूर रहकर अपने कर्म करते रहना चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

Anmol Vichar :- 30 अपने मेहनत की कमाई से जरुरतमन्द की भलाई भी करनी चाहिए

गुरु नानक देव Guru Nanak Dev

तो आप सबको गुरु नानक देव के 30 अनमोल विचार Shree Guru Nanak Quotes in Hindi पोस्ट कैसा लगा प्लीज हमे जरुर बताये और सबको शेयर करना न भूले

कुछ इन अच्छे विचारो को भी जरुर पढ़े –

  1. शिक्षक पर अनमोल वचन और सुंदर विचार Teacher Best Quotes in Hindi
  2. महावीर जयंती पर भगवान महावीर के अनमोल वचन Lord Mahavir Thoughts
  3. कबीर दास जी के दोहे हिन्दी में Kabir Ke Dohe in Hindi
  4. स्वामी विवेकानन्द के 30 महान विचार Swami Vivekananda Great 30 Quotes
  5. रामकृष्ण परमहंस के अनमोल विचार RAMKRISHNA PARAMHANSA
  6. कुछ अच्छे विचार जो हमारी जिन्दगी की सोच को बदल दे
  7. निराशा से खुद को Motivate करने के Best Famous Filmi Dialouges
  8. श्री श्री रविशंकर के 20 महान अनमोल वचन और विचार Best Qoutes Art of Living

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *