बच्चो को मोबाइल फोन से कैसे दूर रखे MOBILE SIDE EFFECT


बच्चो पर मोबाइल के बुरे प्रभाव और बचाव  

Mobile Side Effect on Child / Child Ko Kaise Mobile Se Dur Rakhe

किसी भी देश के लिए बच्चे ही उस देश का भविष्य होते है और जिस देश की युवा पीढ़ी समझदार और स्वस्थ होती है उस देश का विकास भविष्य में निश्चित है और दुनिया के हर सभी देश / Country यही चाहते है की उनके देश के नागरिक और उस देश के बच्चे अधिक से अधिक पढ़े लिखे और राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दे और यह तभी सम्भव होता है जब युवा पीढ़ी और बच्चे अधिक से अधिक Technology से जुड़ते है और Technology और नये नये आविष्कारो से पूरी दुनिया को एक नई दिशा दे इसी मानव विकास की कड़ी में मोबाइल / Mobile और स्मार्टफोन / Smartphone एक ऐसी उपलब्धी है जिससे कोई भी अछूता नही रहा है और खासकर आजकल के बच्चो का दिनचर्या का एक बड़ा समय मोबाइल में नष्ट हो रहा है जो कही न कही बच्चो पर मोबाइल के दुष्प्रभाव देखने को मिल रहे है यदि समय रहते हम नही चेते ओ निश्चित ही हमारे सुख के साधन हमारी बर्बादी के कारण भी बन सकते है

जैसा की कबीरदास जी ने भी कहा है

“अति का भला न बोलना, अति की भली न चूप,

अति का भला न बरसना, अति की भली न धूप”

अर्थात जब जब भी किसी चीज की अधिकता होती है तो वही अधिकता बर्बादी का कारण भी बनती है

जब मोबाइल फोन का अविष्कार हुआ तो इसका प्रयोग लोगो तक इसके माध्यम से अपनी कही गयी बातो को पहुचाना होता है लेकिन समय रहते Phone में क्रन्तिकारी बदलाव के कारण यही फोन अब Smartphone में बदल गया जिसके कारण अब लोग घंटो तक इन्ही Smartphone में व्यस्त रहते है जिसके कारण कही न कही हम एक साथ रहते हुए अपनों से दूर होते जा रहे है

तो आईये जानते है किस प्रकार से मोबाइल फोन से बच्चो को खतरा है और कैसे बच्चो को मोबाइल से कैसे दूर रखे

बच्चो पर मोबाइल के विपरीत प्रभाव / Mobile Smartphone Addiction on Child

जब भी कभी माता पिता अपने कामो की अधिकता और व्यस्तता के कारण अपने बच्चो पर ध्यान नही दे पाते है तो वे अपने बच्चो को वो हर सुविधा तो मुहैया करा देते है लेकिन भावनात्मक रूप से दूर हो जाते है जिनके कारण बच्चे इन्ही Mobile Smartphone में खो जाते है और आजकल इन्टरनेट के कारण तो Smartphone ही मनोरंजन के साथ साथ हर तरह की जानकारी का केंद्र बन गया है जिससे बच्चे लगातार इन्ही फोन में व्यस्त रहते है जिसके कारण अनेक प्रकार के दुष्प्रभाव बच्चो के सेहत पर देखने को मिलते है

1 – बच्चे यानि जब हम छोटे होते है तब इस अस्वस्था में बच्चो का दिमाग बहुत ही तेजी से विकसित होता है और मस्तिक विकास में आसपास के वातावरण और माहौल का प्रभाव दिमाग पर सीधा असर करता है यानि बच्चो के Mind विकास में बच्चे किसी प्रकार के मॉहौल अच्छे वातावरण Environmental Stimuli का प्रमुख योगदान होता है और जब बच्चे दिन रात इन्ही फोन में खो जाते है तो उनके दिमाग पर तरह तरह के Pressure के प्रभाव देखने को मिलते है

2 – जब भी किसी भी बच्चे के हाथ में Mobile Smartphone आ जाता है तो वह सबसे पहले फोन में गेम खेलना पसंद करता है और फिर विडियो देखना पसंद करता है लेकिन जब बच्चे के पास 24 घंटे मोबाइल रहने लगता है यही हमारे द्वारा दी गयी सुविधा बच्चो के लिए लत / Addiction बन जाती है जो की फिर बच्चा पढने लिखने और खेलने कूदने के बजाय अपने फोन में व्यस्त रहने लगता है जो की कहीं न कही यही बुरी आदत / Bad Habit  बच्चो के शारीरिक विकास को प्रभावित को प्रभावित करता है इससे आम बच्चे के मुकाबले Smartphone उपयोग करने वाले बच्चे का दिमाग तो विकसित हो सकता है लेकिन वे शारीरिक रूप से कमजोर होते जाते है

3 – Smartphone का सबसे बड़ा Side Effect बच्चो की आखो पर पड़ता है दिन के मुकाबले रात में जब बच्चे फोन के साथ Busy रहते है तो Smartphone से निकलने वाली प्रकाश का सीधा असर आखो पर पड़ता है जिसके कारण धीरे धीरे अत्यधिक फोन के उपयोग से बच्चो में आख की बीमारियों के होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है

4 – Smartphone से निकलने वाली रेडियो तरंगे और लगातार Smartphone उपयोग करने से फोन बहुत ज्यादा गर्म होने के कारण यही फोन हमारे सेहत पर सीधा असर डालती है अनेक वैग्निको के रिसर्च के अनुसार एक निश्चित समय तक फोन का उपयोग हो तो तब ठीक है लेकिन बहुत अधिक समय तक लगातार फोन उपयोग करने से दिल, दिमाग, आखो पर इसका सीधा असर पड़ता है

5 – जब बच्चे लगातार फोन उपयोग करते है तो उनके सोचने की क्षमता भी एक सिमित अवस्था तक ही रह जाती है अक्सर बच्चे Smartphone में Game को सबसे ज्यादा महत्व देते है और ये Game जो की बहुत ही आक्रामक और Competition Type के होते है जिससे बच्चे सोचते है वे हर गेम के Level पार कर लेंगे लेकिन इस स्थिति में बच्चे अपनी पढाई और खाना पीने पर ध्यान नही देते है जिससे यदि बच्चो को बीच में रोका जाय तो बच्चो के व्यव्हार में गुस्सा और आक्रामकता का भाव दिखाई देने लगता है

6 – अक्सर बच्चो की खुशी के लिए माता पिता अपने बच्चो को Smartphone तो दे देते है लेकिन उनका बच्चा क्या फोन के अलावा अपनी दिनचर्या को समय से पूरा करता है ये ध्यान नही रख पाते है जिससे बच्चो में भूख की कमी, असमय नीद  या देर रात तक नीद न आना जैसे कई प्रकार के दुष्प्रभाव बच्चो के सेहत पर देखने को मिलता है

7 – Smartphone के उपयोग से बच्चा Technology में Expert तो हो सकता है लेकिन यही बच्चा धीरे धीरे फोन के अत्यधिक उपयोग से अपने समाज से किनारा करने लगता है जिससे बच्चो की समाज के प्रति समझ में धीरे धीरे कमी आने लगती है

बच्चो को मोबाइल के खतरों से बचाने के उपाय

Baccho ko Mobile ke Khataro se Bachane Ke Hindi Tips

यदि हम अपने बच्चो को खुशिया देने जानते है अगर अपने बच्चो पर थोडा ध्यान भी रखे तो निश्चित ही हम अपने बच्चो को भविष्य को अच्छा बना सकते है तो आईये जानते है बच्चो को कैसे मोबाइल स्मार्टफोन के होने वाले खतरों से कैसे बचाया जाय.

1 – जब हम सभी पहली बार अपने बच्चो को फोन देते है और बच्चे फोन चलाना शुरू करते है तो हम सभी को ये देखकर ख़ुशी प्राप्त होता है उनका बच्चा तो स्मार्ट है लेकिन जब हम बच्चो काम की अधिकता के कारण पर ध्यान नही दे पाते है तो यही हमारी छोटी सी गलती बच्चो के लिए बुरी आदत बन जाती है जिसका सीधा असर बच्चो की पढाई और सेहत पर पड़ता है इसलिए हम सभी को अपने बच्चो की दिनचर्या पर पूरी तरीके से ध्यान देना चाहिए और हमारा बच्चा क्या अधिक समय फोन गेम में व्यस्त रहता है तो उसे फोन के बजाय किताबो की ओर ज्यादा ध्यान देने के लिए केन्द्रित करना चाहिए

2 – दिन के मुकाबले रात में Smartphone से निकलने वाली प्रकाश की किरणे आखो पर सीधा असर डालती है इसलिए बच्चो को रात के अंधेरो में मोबाइल चलाने से दूर ही रखना चाहिए

3 – जब बच्चे अत्यधिक रूप से Smartphone से जुड़ जाते है तो इन फोन के बिना उन्हें कुछ भी अच्छा नही लगता है इस स्थिति में मारने डाटने के बजाय उन्हें थोडा खेलकूद और अन्य कामो में लगाना चाहिए जिससे बच्चा का ध्यान मोबाइल से दूर हो सकता है

4 – बच्चो को कभी भी झूठे वादे नही करना चाहिए अक्सर देखा जाता है की माता पिता अपने बच्चो से कहते है की तुम जल्दी से अपनी Homework और पढाई पूरी कर लेंगे तब उन्हें Smartphone चलाने के लिए मिल सकता है तो ऐसी स्थिति में बच्चो का सारा ध्यान Smartphone पर केन्द्रित हो जाता है जिससे बच्चे जल्दी से तो अपनी पढाई पूरी कर तो लेते है लेकिन बच्चो को फिर बाद में Smartphone न मिले तो बच्चो में माता पिता के प्रति नकरात्मक भावना का विकास होने लगता है और अंदर ही अंदर बच्चो का माता पिता के प्रति विश्वास कम होने लगता है इसलिए माता पिता को अपने बच्चो से ऐसे वादे करने से बचना चाहिए और यदि वादा कर भी देते हैएक निश्चित समय तक ही Smartphone अपने बच्चो को दे ऐसी कोशिश करनी चाहिए

5 – माता पिता को बच्चो को मोबाइल च्लानेको लेकर मारने पीटने से बचना चाहिए क्यूकी ऐसा करने से बच्चो में माता पिता के प्रति एक Negative Thinking का विकास होने होने लगता है इसकी अपेक्षा माता पिता को अपने बच्चो के साथ भावनात्मक रूप से जुड़कर उनके साथ समय बिताना चाहिए और उनके साथ बातचीत और खेलकूद में भाग लेना चाहिए जिससे बच्चो में माता पिता के प्रति प्यार के साथ आपसी विश्वास भी बढ़ता है

6 – कभी भी बच्चो को अकेले में मोबाइल फोन नही चलाना देना चाहिए हो सकता है की आपका बच्चा मोबाइल में इन्टरनेट उपयोग करते समय गलत वेबसाइट का शिकार हो सकता है ऐसे में आपका बच्चा अपने मोबाइल फोन में क्या क्या करता है इस बात का ध्यान जरुर रखना चाहिए और साथ में यदि बच्चे इन्टरनेट उपयोग करते हो हमे Browsing History भी चेक करते रहना चाहिए

7 – बच्चे दिल से बहुत ही कोमल होते है और उनपर किसी भी प्रकार की डाट फटकार उन्हें बहुत ही तोडती भी है जरुरी नही की आपका बच्चा हमेशा पढता ही रहे सो बच्चो को Smartphone से दूर करने के लिए उनके पढाई में साथ देना चाहिए और बच्चो को साथ पढाई में हमे समय जरुर बीतना चाहिए

यदि हम अपने बच्चो की छोटी छोटी बातो पर ध्यान दे तो निश्चित ही हम सभी अपने बच्चो के बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते है तो आप सभी को मोबाइल से बच्चो में होने वाले खतरों और उनके बचाव के ये Hindi Tips कैसे लगे हमे कमेंट बॉक्स के माध्यम से बताना न भूले

“सजग रहिये अपने अपने बच्चो के बेहतर भविष्य निर्माण में”

धन्यवाद.

कुछ इन महत्वपूर्ण लेखो को भी जरुर पढ़े


10 thoughts on “बच्चो को मोबाइल फोन से कैसे दूर रखे MOBILE SIDE EFFECT

    • Thanks Jyotirmoy सही कहा आपने बच्चे का भविष्य के निर्माता माता पिता ही होते है
      और अगर माता पिता अपने बच्चो पर अच्छे तरह से ध्यान दे तो यही बच्चे एक बेहतर कल का निर्माण कर सकते है

  1. बहुत ही उपयोगी टिप्स है बच्चो को मोबाइल से दूर रखने के।

    • हा ज्योति मैडम आजकल हर माता पिता का अपने बच्चो के प्रति सबसे बड़ी यही चिंता बनती जा रही है
      अगर हर माता पिता अपने बच्चो पर अच्छे से ध्यान दे तो निश्चित ही इस समस्या से छुटकारा पा सकते है

    • सही कहा जसिमुदीन आपने अगर माता पिता अपने बच्चो की पढाई पर नियमित ध्यान दे
      तो निश्चित ही मोबाइल के दुष्प्रभाव से बच्चो को बचाया जा सकता है

  2. बहुत ही बढ़िया article है …..
    ऐसे ही लिखते रहिये और मार्गदर्शन करते रहिये …..
    शेयर करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। 🙂 🙂

    • जरुर HindiIndia बस आप सभी लोग ऐसे ही हमारे उत्साह को बढ़ाते रहिये

  3. बच्चों से मोबाइल दूर रखना बहुत बड़ी चुनौती है। बच्चे जिददी होते हैं। लाख समझाने पर भी मानते नहीं हैं। इसलिए मैं तो मोबाइल उनकी नजरों से दूर ही रखने का प्रयास करता हूं। ताकि वह मोबाइल फोन के विपरीत प्रभावों से दूर रह सकें।

    • हा जमशेद जी हर माता पिता का अपने बच्चो के एक बेहतर कल के निर्माण के लिए बच्चो के प्रति उनका फर्ज बनता है आपके इस प्रयास से लोगो को भी प्रेरणा मिलेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *