Exam Me Top Kaise Kare Topper Kaise Bane Hindi Tips

अच्छी बातो और अच्छी एडवाइस के लिए हमारे ग्रुप अच्छीएडवाइस डॉटकॉम में अपने मित्रो, दोस्तों को ग्रुप में जोड़ने के लिए क्लीक करे


AchhiAdvice.Com Facebook Group से जुड़ने के लिए Click करे !


Facebook पर AchhiAdvice.Com Page Like करने के लिए Click करे !



विद्यार्थी / Students Exam की तैयारी के लिए इन महत्वपूर्ण Exam Study Tips जरुर पढ़े

परीक्षा में टॉप करने के लिए दस बेहतरीन तरीके

विद्यार्थियों को याद करने के लिए जरुरी बाते

जॉब इंटरव्यू कैसे दे जाने हिंदी में

"पढाई के लिए टाईमटेबल कैसे बनाये Study Time Table Kaise Banaye"


Class Me Top krne ke Tips / Top Kaise Kare Hindi Tips

exam-me-top-kaise-kareपढाई में टॉप करने के टिप्स  / परीक्षा में टॉप कैसे करे / एग्जाम में टॉप कैसे करे टॉपर कैसे बने हिंदी टिप्स

सभी Students यही चाहते है की वे अपने Class Me Top Kare / Exam Me Pass Hone Ke Tarike लेकिन ये जितना सोचना आसान है उतना  अपने Class Me Top Krna ही कठिन  भी नही है क्यू की कोई भी सफलता अनवरत कठिन परिश्रम और सही दिशा में किये गये प्रयास का फल होता है

जैसा की हम सभी जानते है एक ही स्कूल के एक ही क्लास में इतने सारे Students पढ़ते है और सभी Students एक ही Teacher द्वारा पढाये जाते है फिर भी कुछ Students अपने Class Me Top करते है तो कुछ Students अपने पढाई में औसत ही रह जाते है ऐसा क्यू होता है की हम सभी एक ही स्कूल में पढ़ते है फिर भी फिर कोई Students Top करता है तो कोई अपने Subject में Average Marks ला पाते है ये भी सत्य है की Top में पहला स्थान केवल एक ही Students को मिल पाता है लेकिन बाकी Students Top Number से अपने क्लास में पास हो सकते है

तो आईये जानते है की हम सभी अपने Class Me Kaise Top Kare, अगर आपको यह Exam  Me Top krne Ke Tips /Exam Me Pass Hone Ke Tarike अच्छा लगे तो हमे Comment Box में जरुर बताईयेगा

Exam Me Top Krna / Exam Me Pass Hone Ke Tarike / परीक्षा में टॉप करना

Exam ME Top Krane Ke Best tarike / Exam Me Kaise Top Kaise Kare Jane Best Tarike / Class Me Top Krna / परीक्षा में टॉप करने के सबसे अच्छे तरीके / परीक्षा में टॉप कैसे करे जाने कुछ अच्छे तरीके हिंदी में  / अपने क्लास में टॉप करना  

नियमित अध्यन / Regular  Basis  Study

किसी भी चीज में सफलता प्राप्त करने के लिए नियमितता का होना आवश्यक होता है यह नियम पढाई पर भी पूरी तरह लागू होता है यानी अक्सर यह देखा जाता है की जब क्लास नये सत्र से शुरू होता है तो सभी Students खुब जोरो से पढाई करते है लेकिन जैसे जैसे पढाई आगे बढ़ता जाता है अपनी पढाई में ढिलाई करना शुरू कर देते है जिसके कारण जब Exam एकदम पास आ जाता है तो अत्यधिक Pressure के कारण के अपनी पढाई सही ढंग से नही कर पाते है इसलिए सभी विद्यार्थियों को अपनी पढाई नियमित रूप से करनी चाहिए

Make Plan For Study / उचित ढंग से प्लान करना   

जब कोई भी कार्य पूरी Planning के साथ किया जाता है तो वह कार्य सही तरीके से पूर्ण होता है इसलिए सभी स्टूडेंट्स को अपने पढाई और Exam Ki Taiyari Kaise krni hai इसकी पूरी तरह अच्छे से Planning करनी चाहिए अक्सर पढाई के शुरू तीन चार महीनो में हम अपनी पढाई बहुत ही अच्छे तरीके से करते है हर Subject बहुत ही अच्छे से समझते है लेकिन जैसे जैसे हमारे Exam का समय नजदीक आता जाता है हमे अपने स्कूल में सभी Subject जल्दी जल्दी खत्म करने का Pressure आ जाता है ऐसी स्थिति से बचने के लिए हमे अपने अध्यन स्कूल के साथ साथ घर पर भी बहुत ही मन लगाकर पढना चाहिए और और हमे अपने Exam के हिसाब से अपने Subject के सभी Lesson को पढना चाहिए क्यू की परीक्षा में कही से भी प्रश्न पूछे जाते है

Value Of Time / समय के महत्व को समझना 

जीवन में हर पल हर सेकेंड का महत्व होता है जिन्दगी यानी समय के अन्तराल का ही नाम है इसलिए सभी विद्यार्थियों को अपने पढाई और एग्जाम में टॉप करने और अपना अच्छा भविष्य बनाने के लिए समय का सही से सदुपयोग करना सीखना चाहिए, जो विद्यार्थी अपने क्लास में टॉप करते है वे अपने हर Subject का अद्ध्यन बहुत ही अच्छे तरीके से करते है और हर Students को इस बात को ध्यान रखना चाहिए की किसी भी क्लास में पढने के लिए एक निर्धारित साल ही मिलते है तो जो Topper होते है वे अपने समय को अपने Study में सही तरीके से लगाते है जबकि कुछ Students जो Subject उन्हें अच्छा लगता है वे तो उस सब्जेक्ट को बहुत ही अच्छे तरीके से पढ़ते है लेकिन और उनके द्वारा लिए गये अन्य Subjects में उतना ध्यान नही देते है जो की आगे चलकर कही न कही Exam के Final Result में प्रभाव डालते ही है इसलिए सभी विद्यार्थियों को जो भी सब्जेक्ट ले उसे पूरी अच्छी तरह से उनका निर्धारित समय में पूर्ण रूप से अध्यन करना चाहिये

Discuss with Senior And Friends / बडो और अपने दोस्तों के साथ पढाई के विषय में बातचीत करना

जीवन में सफलता के लिए अनुभव का बहुत बड़ा योगदान होता है इसलिए हमे पढाई से सम्बन्धित कोई भी समस्या हो या हम अपने पढाई में आगे क्या करना है ऐसे तमाम प्रश्न हम सभी के मन में उठते है तो इसके लिए हमे अपने मित्रो और अपने से बडो से अपनी पढाई कैसे करे अपने परीक्षा में कैसे अच्छे नम्बरों से पास करे और कैसे हम अपना बेहतर करियर बनाये इन सभी बातो के लिए सभी विद्यार्थियों को अपने दोस्तों और अपने से बडो के साथ बातचीत करते रहना चाहिए और उनसे अपने पढाई के लिए अच्छे सलाह लेते रहना चाहिए

Read All Subject / सभी विषयों की पढाई में सामंजस्य बनाये रखना

loading...

अक्सर सभी विद्यार्थियों को देखा जाता है की जो विषय उन्हें पसंद होते है उस विषय को Students बहुत ही अच्छे तरीके से पढाई करते है जबकि जो विषय उन्हें कठिन लगता है उस पर कम ध्यान दे पाते है क्यूकी विद्यार्थियों को उन विषयों में ज्यादा रूचि नही रहता है जबकि ऐसा करना गलत है सभी विद्यार्थियों को अपने लिए सभी विषयों में एक समान ध्यान से पढना चाहिए और जो विषय उन्हें कठिन लगे उसे Extra Class या घर पर अतिरिक्त पढाई करके सभी विषयों में पारंगत हासिल करना चाहिए क्यूकी अगर हमे अपने परीक्षा में टॉप करना है तो हमे सभी विषयों में उतना ही अच्छे से पढना चाहिए

Remember With Write / लिखते हुए याद करना

वैसे तो रटे हुए विषय भूलने का डर रहता है लेकिन कुछ ऐसे विषय होते है उन्हें याद करना भी जरुरी होता है जैसे इतिहास (History), हिन्दी (Hindi). क्यूकी इन जैसे विषयों को समझने की अपेक्षा याद करना आसान होता है जबकि विज्ञान और गणित जैसे विषयों को याद करने की अपेक्षा समझना आसान होता है इसलिए हमारे जो विषय याद करने वाले हो उन्हें याद करते हुए लिखने का भी आदत डालना चाहिए क्यूकी इन विषयों को लिखते हुए याद करने से एक साथ दो फायदे होते है एक तो हमे ये जल्दी और अच्छे तरीके से याद होते ही है और दूसरा इससे यह फायदा होता है की हमारी हाथ की लिखावट भी सुन्दर बनता है और लिखकर याद करने से याद किये हुए भूलते नही है

Study with Exam Paper Pattern / परीक्षा पेपर के हिसाब से तैयारी करना

जब परीक्षा नजदीक हो तो विद्यार्थियों को पिछले सालो के परीक्षा पेपर (Exam Paper), मॉडल पेपर (Model Paper) पर आधारित प्रश्नों के रुपरेखा के आधार पर परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए, ऐसा करने से पहले तो हमे यह फायदा होता है की कोई भी परीक्षा में लिखने के एक निश्चित समय दिया होता है जिससे अगर हम Exam Model Paper के हिसाब से कोई प्रश्न पत्र घर हर हल करने का अभ्यास करे तो तो निश्चित ही हम अपने परीक्षा हाल में दिए गये निश्चित समय में परीक्षा पेपर में पूछे गये सभी प्रश्नों का हल कर सकते है

Avoid to Late Night Study / देर रात्रि पढने से बचना

अक्सर देखा जाता है की जब परीक्षा का समय नजदीक आता है तो सभी विद्यार्थी देर रात्रि तक पढाई करते है और ऐसा करते हुए सुबह में नीद भी देर तक खुलती है जिससे कही न कही विद्यार्थियो के स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है और ऐसा करने से असमय नीद और थकान का अनुभव होता है ऐसी स्थिति से बचने के लिए विद्यार्थियों को देर रात्रि तक पढाई करने से बचना चाहिए इसकी अपेक्षा विद्यार्थियों को अपनी नीद पूरी करके सुबह जल्दी भोर में उठकर पढाई करना चाहिए क्यूकी भोर में घर का वातावरण एकदम शांत होता है इस समय जो भी पढाई की जाती है वह जल्दी से याद हो जाती है और सुबह जल्दी उठने से स्वास्थ्य भी अच्छा बना रहता है और विद्यार्थियों को सुबह पढने के बाद व्यायाम और टहलना भी चाहिए जिससे शरीर में उर्जा और स्फूर्ति का संचार होता है

Shortcut Method For Success / टॉप करने के लिए शॉर्टकट रास्ते से बचना

अक्सर बहुत सारे विद्यार्थियों के मुह से यह भी कहते हुए सुना जाता है की अभी तो परीक्षा में बहुत समय है जब परीक्षा नजदीक आएगा तो सब अपने विषय एक ही झटके में परीक्षा की तैयारी कर लेंगे, अगर देखा जाय तो यह एक तरीके से शॉर्टकट का ही रास्ता है तो जरा सोचिये जो विषय पूरा पढने और अच्छे तरीके से समझने के लिए पूरे साल का होता है क्या उसे परीक्षा के समय में कुछ दिनों में ही अच्छे से पढ़ा जा सकता है शायद नही, अगर हम उसे पहले से नही पढ़े रहेगे तो परीक्षा के समय इसे समझने में ही वक्त निकल जायेगा ऐसी स्थिति से बचने के लिए हमे कभी भी शॉर्टकट का रास्ता नही अपनाना चाहिए और अपने सभी विषयों की पढाई शुरू से ही करनी चाहिए

Study With Time Table / परीक्षा तैयारी के लिए समय सारिणी बनाना

जब परीक्षा का समय नजदीक आ जाये तो परीक्षा के 2 – 3 महीने पहले से ही अपने परीक्षा की तैयारी Time-Table के हिसाब से करना चाहिए, कब कौन सा विषय कितने घंटे पढना है और और कौन से विषय समझने और याद करने में कठिन है इन सभी विषयों की तैयारी के लिए हमे अपने घर की पढाई के लिए एक निश्चित समय सारिणी (Time Table) बनाना चाहिए.

टाईमटेबल के लिए पढ़े – पढाई के लिए टाईमटेबल कैसे बनाये Study Time Table Kaise Banaye

Time-Table बनाकर पढने से सबसे बड़ा फायदा होता है की सभी विषयों की तैयारी अच्छे से हो जाती है और जब कोई Students Time Table बनाकर पढ़ते है तो उन विद्यार्थियों के लिए अपने पढाई और अध्यन के प्रति गम्भीर होते है जिससे वे अपनी पढाई नियमित समय पर करते है

तो आप सभी विद्यार्थियों को Class me Top Kaise Kare यह पोस्ट कैसा लगा प्लीज हमे जरुर बताये

विद्यार्थियों को अपने अध्यन से सम्बन्धित कुछ और अच्छे पोस्ट पढने के लिए क्लिक करे


loading...

18 thoughts on “Exam Me Top Kaise Kare Topper Kaise Bane Hindi Tips

  1. Thank you, Sir
    Agar school me class nahi chale to us time par kya kare ki topper ban sake.
    Aur 12th me class chalata bhi nahi

    • महावीर जब हम किसी स्कूल में न लिखाते है तभी उस स्कूल के बारे में सब जानकारी लेनी चाहिये और यदि आपके स्कूल में क्लास नही चलते है तो आपको फिर सेल्फ स्टडी और कोचिंग का ही सहारा लेना पड़ेगा और आपको आगे से ऐसे स्कूल से बचना भी चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *