Bhalai Kabhi Bekar Nahi Jati

AchhiAdvice.Com Facebook Group से जुड़ने के लिए Click करे !


Facebook पर AchhiAdvice.Com Page Like करने के लिए Click करे !



विद्यार्थी / Students Exam की तैयारी के लिए इन महत्वपूर्ण Exam Study Tips जरुर पढ़े

परीक्षा में टॉप करने के लिए दस बेहतरीन तरीके

विद्यार्थियों को याद करने के लिए जरुरी बाते

जॉब इंटरव्यू कैसे दे जाने हिंदी में

"पढाई के लिए टाईमटेबल कैसे बनाये Study Time Table Kaise Banaye"


भलाई के काम कभी बेकार नही जाते एक हिंदी कहानी / दूसरों की भलाई एक हिंदी कहानी – 

Dusaro Ki Bhalai Ki Hindi Kahani / Bhalai Ki Hindi Kahani

बहुत Time पहले की बात है एक व्यक्ति जिसका नाम RamLal था वह बहुत ही मेहनती था वह बचपन से ही लोगो के अक्सर भलाई किया करता था और अपनी इसी Nature और Habit के वह अपने लोगो के बीच Famous था. जब भी किसी को किसी भी प्रकार की कोई जरुरत होती तो रामलाल बेहिचक लोगो की help कर देता था.

एक बार की बात है रामलाल जहा रहता था उसी Village में एक व्यक्ति का लड़का बहुत ही बीमार था और वह कई जगह से Medicine भी ले लिया था लेकिन Medicine से उसके बच्चे को कोई भी फायदा नही हो रहा था और दिन पर दिन उसका health बिगड़ता ही जा रहा था तो ऐसे में वह व्यक्ति बहुत परेशान रहने लगा तो उस व्यक्ति को एक doctor ने Advice दिया की वह city में जाकर अपने बच्चे का इलाज कराये.

लेकिन वह व्यक्ति बहुत ही गरीब और आर्थिक स्थिति से कमजोर था अब उसे कोई उपाय सूझ नही रहा था की वह अब Kya Kare. इसी बीच उस व्यक्ति को किसी ने Advice किया की वह रामलाल के पास जाये तो उसका भला जरुर होगा अब उस उस व्यक्ति को इस advice से आशा की किरण दिखने लगी और जल्द ही बिना time गवाए रामलाल के पास गया तो रामलाल ने सारी स्थिति को जानकर वह उस व्यक्ति की Help करने के लिए तुरंत तैयार हो गया और वह पैसे लेकर उस व्यक्ति और बच्चे के साथ city में Achhe Hospital में जाने लगे.

और City में आकर रामलाल ने Achhe Hospital की जानकारी लेकर उस बच्चे को तुरंत Hospital में admit करा दिया और Achhe Doctor के देखरेख में वह बच्चा जल्द ही ठीक होने लगा और फिर Ramlal उस बच्चे के ठीक होने के बाद वे सभी वापस गाव आ गये

और फिर उस व्यक्ति ने रामलाल को लगे हुए पैसे देने का वादा करने लगा तो रामलाल ने उसे यह कहकर मना कर दिया जब कोई किसी की जरुरत हो Help कर देना, ऐसी bate सुनकर वह व्यक्ति मन ही मन रामलाल को बहुत धन्यवाद दिया और Promise किया की वह लोगो के जरुरत होने पर जरुर काम आएगा

ऐसे धीरे धीरे दिन बीतता रहा और समय के साथ रामलाल भी काफी Aged हो गया और धीरे धीरे वह अपने शरीर से कमजोर होने भी लगा था और तब डॉक्टर् ने उसे बताया की उसे अपनी इस कमजोरी को दूर करने के उसके body को Blood की जरूरत है तो अगर उसके group का किसी का भी Blood मिल जाये तो वह ठीक हो सकता है, ये बात जानकर रामलाल को उसके अच्छे कामो की वजह से कई लोग उसको blood देने को तैयार हो गये लेकिन किसी का भी Blood रामलाल से Matching नही कर रहा था. सो रामलाल को अब बहुत ही चिंता होने लगी थी की कौन उसकी Help कर सकता है.

जब ये बात उस बच्चे को जो की अब बहुत ही बड़ा हो गया था उसे मालूम हुआ तो वह तुरंत ही अपने पिताजी के साथ रामलाल की help करने को तैयार हो गया और वह अपने पिताजी के साथ रामलाल के पास पहुच गया और तुरंत रामलाल को achhe से Hospital में ले गये जहा पर उस बच्चे के पिताजी ने blood देने को राजी थे लेकीन रामलाल का blood उस व्यक्ति से भी match नही हुआ तो अंत में उस बच्चे ने अपना blood test कराया तो उसका blood रामलाल से match हो तो उस बच्चे ने अपना blood रामलाल को दे दिया जिसके चलते अब रामलाल को doctor ने blood चढ़ा दिया जिसके चलते रामलाल के health में सुधार होने लगा और धीरे धीरे रामलाल ठीक हो गया और फिर वह अपने पहले की तरह अपनी life जीने लगा .

loading...

तो देखा दोस्तों हमारे life में अनेक चढाव और उतार आते रहते है जिसके चलते हम कभी कभी इतने निराश हो जाते है की ऐसे लगता है की मानो ये हमारे लिए ये दुनिया अब रही ही न रही लेकिन हर निराशा के बाद एक उम्मीद की किरन होती है ऐसा ही उस व्यक्ति के बच्चे के साथ भी हुआ यदि वह व्यक्ति अपने गरीबी और खुद को असहाय मानकर बैठ जाता तो शायद उसका बेटा ठीक नही होता लेकीन दोस्तों अगर हम लोगो के प्रति अगर अच्छे होंगे तो जरुर हमे कही न कही से हमे help मिल ही जाएगी जो की हमारे achhe कर्मो का ही result होता है.

ठीक उसी प्रकार यदि RamLal अपने life में कभी भी लोगो की help नही करता तो भला आप ही सोचिये की RamLal की help करने कौन आता शायद कोई नही, लेकीन दोस्तों ये भी सच है की अगर हम अपने life में सच्चे और लोगो के प्रति sympathy रखे तो जरुर हमे भी कोई न कोई हमारी Help करने को तैयार रहेगा.

और दोस्तों हमे ये भी याद रखना चाहिए की कोई भी हमारे द्वारा किया गये भलाई के बदले हमे किसी भी चाह नही रखनी चाहिए क्यू की अगर हम अपने भलाई के बदले किसी से Paise या कुछ पाने की इच्छा रखते है तो ये Bhalai नही एक तरह से Business कहलाता है और हमे ये ध्यान रखना चाहिए की भलाई में कभी भी कोई भी किसी भी प्रकार का लेनदेन का भाव नही रखना चाहिए क्यू जहा हमे अपने किये गये कार्यो के बदले कुछ पाने की इच्छा हो जाये तो वह भलाई नही कहलाती है

और जैसा की कहा भी गया है हमारे द्वारा किये गये भलाई Kabhi Bekar Nahi Jati है इसलिए हमे कभी भी किसी का help करने का मौका मिले तो हमे निस्वार्थ भावना से भलाई करना चाहिए क्यू की कोई भी वक़्त बार बार नही आता है इसलिए हमे Life में जब भी मौका मिले लोगो की Help जरुर करे और हम अपने Life में लोगो की भलाई किये रहेगे तो जरुर हमे कभी न कभी हमारे द्वारा किये गये भलाई का परिणाम बहुत ही Achha मिलेगा. तो दोस्तों जब भी हमे मौका मिले दुसरो की भलाई जरुर करे और ये जरुरी नही हमारे द्वारा तभी भलाई का काम करे जब पास देने को बहुत हो ऐसा नही होना चाहिए

क्यू की भलाई में कभी भी छोटा या बड़ा नही देखा जाता है क्या पता हमारी एक छोटी सी Help भी किसी को बहुत बड़ा फायदा पंहुचा दे .

साथ में यह भी पढ़े-

तो दोस्तों आप सभी को AchhiAdvice के माध्यम से दिया गया Post आप सबको कैसा लगा Please Comment box में जरुर बताये .

Thanks और धन्यवाद दोस्तों बने रहे आप सभी AchhiAdvice के साथ .


loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *